मेडिकल कॉलेज खुलने की राह आसान, पहले मिली जमीन, अब 300 बिस्तरों का अस्पताल भी मंजूर

Khargon News - भास्कर संवाददाता | मंडलेश्वर/सनावद मंडलेश्वर नगर में लंबे समय से मेडिकल कॉलेज खुलने को लेकर प्रयास किए जा रहे...

Dec 04, 2019, 10:21 AM IST
Sanavad News - mp news the way to open a medical college is easy the land first got now the 300 bed hospital is also approved
भास्कर संवाददाता | मंडलेश्वर/सनावद

मंडलेश्वर नगर में लंबे समय से मेडिकल कॉलेज खुलने को लेकर प्रयास किए जा रहे हैं। इस मांग को पूरा करने की राह अब आसान होती दिखाई दे रही है। यहां मेडिकल कॉलेज खोलने को लेकर कुछ दिनों पहले जमीन का स्थान चयन कर आवंटन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। अब कॉलेज के लिए 30 बिस्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का उन्नयन कर 300 बिस्तरीय सिविल अस्पताल बनाने का आदेश जारी किया गया है। इससे जल्द ही मेडिकल कॉलेज की प्रक्रिया पूरी होती जा रही है।

जानकारी के अनुसार मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए आसपास करीब 100 किमी के क्षेत्र में मेडिकल कॉलेज नहीं होना चाहिए। इसके अनुसार खंडवा व इंदौर दोनों की दूरी मंडलेश्वर से 100 किमी से ज्यादा है। जबकि अन्य स्थानों के दायरे में आता है। इसी प्रकार जहां पर कॉलेज होता है। उसके पास कम से कम 300 बिस्तरीय अस्पताल होना आवश्यक है। इन दोनों जरूरत को देखते हुए शासन द्वारा 30 बिस्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का उन्नयन कर 300 बिस्तरीय सिविल अस्पताल बनाने के आदेश जारी किए गए हैं।

मेडिकल कॉलेज खुलने से लाभ : बड़ा शहर पास में होने से आसानी से आएंगे प्रोफेसर

अन्य स्थानों के मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसरों की कमी देखी जा रही है। मुख्य कारण है गांव में कॉलेज होने से प्रोफेसरों को उनके क्षेत्र में जाने में परेशानी होती है लेकिन मंडलेश्वर से इंदौर की दूरी कम है। कनेक्टिविटी के लिए आसान रास्ता है। इससे प्रोफेसर आसानी से यात्रा कर इंदौर आना-जाना कर सकते हैं। यहां कॉलेज खुलने पर प्रोफेसरों की कमी नहीं रहेगी। इसके अलावा मंडलेश्वर मेडिकल कॉलेज में बड़वानी, खरगाेन और धार के आसपास के क्षेत्र से बड़ी संख्या में छात्र प्रवेश लेकर डॉक्टर बन सकते हैं।

मेडिकल कॉलेज का प्रस्तावित नक्शा।

25 एकड़ जमीन पर तैयार होगा कॉलेज, आवंटित हो चुकी है जमीन

मेडिकल कॉलेज निर्माण के लिए कलेक्टर द्वारा शासकीय कॉलेज के पास 25 एकड़ जमीन का आवंटन किया गया है। जहां पर मेडिकल कॉलेज का निर्माण होना है, वहां पर अब शासन द्वारा अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराकर जल्द ही कॉलेज का निर्माण शुरू किया जाएगा। इसके साथ ही शासन स्तर पर तीन साल की ओपीडी का डाटा भेजा गया है। इसमें 2017 में 2 लाख 33 हजार 255, 2018 में 2 लाख 13 हजार 11 व 2019 में 1 लाख 49 हजार 643 ओपीडी होना बताया है।

नगर में स्थित 30 बिस्तरों का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र।

सुविधाएं : जिला अस्पताल में ट्रामा सेंटर, पैथाेलाॅजी व रक्तकोष विभाग होना चाहिए

जिला अस्पताल में नवनिर्मित ट्रामा सेंटर है। इसमें सीआर्म मशीन है। एमसीएच भवन शुरू होने वाला है। पैथाेलाॅजी व रक्तकोष विभाग है। ब्लड सेपरेशन यूनिट शुरू होने जा रही है। कलर डापलर सोनोग्राफी व डिजीटल एक्स रे, डायलिसिस यूनिट में दो मशीन, गहन चिकित्सा इकाई में दो वेंटिलेटर व 7 बेड हैं। डेंटल चेयर व डिजीटल एक्सरे, गायनिक ओटी, नवजात गहन चिकित्सा इकाई में 20 बेड व एक वेंटीलेटर है। एनआरसी में 20 बेड, विकलांग पुनर्वास केंद्र, रेन बसेरा, मेकेनाइज्ड लॉड्री निर्माणाधीन है। माड्यूलर किचन स्वीकृत है। क्षयरोग विभाग उपलब्ध है।

पोषण आहार में अंडा देने की योजना का किया विराेध

एसडीएम को ज्ञापन सौंपते समाजजन।

भास्कर संवाददाता | मंडलेश्वर

सकल जैन समाज व नार्मदीय ब्राह्मण समाज ने आंगनवाड़ी केंद्रों में पोषण आहार में अंडा वितरण योजना के विरोध में मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम आनंदसिंह राजावत को ज्ञापन सौंपा। दोनों समाजजनों ने ज्ञापन के माध्यम से बताया कि मप्र शासन की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमारती देवी की पहल पर राज्य के छोटे बच्चों व गर्भवती महिलाओं को कुपोषण रहित करने के लिए प्रत्येक आंगनवाड़ी केंद्रों में दिए जाने वाले आहार अंडे को शामिल करने की योजना पर काम किया जा रहा है। अंडे में जरूरी विटामिन, मिनरल्स व प्रोटीन की मात्रा अधिक रहती है। इससे महिलाओं व बच्चों को आवश्यक पोषण आहार प्राप्त होगा। इस बात का प्रचार किया जा रहा है। भारत के राजपत्र का उल्लेख करते हुए समाजजनों ने बताया अंडे को मांसाहार की श्रेणी में रखा गया है। नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ न्यूट्रिशन द्वारा प्रकाशित विभिन्न खाद्य पदार्थों की पोषण संबंधी तुलनात्मक जानकारी का उल्लेख किया। अन्य शाकाहार युक्त पदार्थों में अंडे की तुलना में अधिक पोषण मौजूद रहता है। राज्य शासन द्वारा आंगनवाड़ी केंद्रों पर पोषण आहार के तौर पर अंडा देने की योजना को निरस्त किया जाए।

Sanavad News - mp news the way to open a medical college is easy the land first got now the 300 bed hospital is also approved
Sanavad News - mp news the way to open a medical college is easy the land first got now the 300 bed hospital is also approved
X
Sanavad News - mp news the way to open a medical college is easy the land first got now the 300 bed hospital is also approved
Sanavad News - mp news the way to open a medical college is easy the land first got now the 300 bed hospital is also approved
Sanavad News - mp news the way to open a medical college is easy the land first got now the 300 bed hospital is also approved
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना