• Hindi News
  • Mp
  • Khargon
  • MANDLESHWAR News mp news women sweepers staged a sit in at the president39s house over the non payment of salary for two months

महिला सफाई कर्मचारियों ने दो माह से वेतन नहीं मिलने पर नप अध्यक्ष के घर पहुंचकर दिया धरना

Khargon News - नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों को दो माह से वेतन नहीं मिला है। जिसे लेकर महिला सफाई कर्मचारियों ने नप अध्यक्षा...

Feb 22, 2020, 08:15 AM IST
MANDLESHWAR News - mp news women sweepers staged a sit in at the president39s house over the non payment of salary for two months

नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों को दो माह से वेतन नहीं मिला है। जिसे लेकर महिला सफाई कर्मचारियों ने नप अध्यक्षा मनीषा शर्मा के घर पहुंचकर धरना प्रदर्शन किया। उन्होंने 23 फरवरी तक वेतन नहीं मिलने पर अनिश्चितकालीन हड़ताल करने की चेतावनी दी है।

विधानसभा चुनाव में परिणाम प्रदेश कांग्रेस सरकार के पक्ष में आने के बाद से ही नगरीय निकायों की हालात दिनोंदिन खस्ता हो रहे हैं। नगर परिषद मंडलेश्वर की समस्याएं जिस तरह से आर्थिक रूप से बिगड़ती जा रही है। उसका कोई समाधान किसी को दिखाई नहीं दे रहा है। परिषद के स्थाई कर्मचारी, दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को पिछले 2 माह से वेतन नहीं मिला है। इससे परिवार के पालन पोषण में समस्या आ रही है। महिला सफाई कर्मियों की अध्यक्ष मंजू नहार ने कहा कि हम दिनभर मेहनत करते हैं। इसके बदले हमें जो वेतन मिलता है। उसी से हमारा घर चलता है। अब दो माह से वेतन नहीं मिलने से लोगों से उधार लेकर घर चला रहे हैं। अगर ऐसा ही चलता रहा तो हमें मजबूरी में आंदोलन की राह पकड़नी पड़ेगी। उन्होंने कहा 23 फरवरी तक वेतन नहीं मिला तो 24 फरवरी से सभी कर्मचारी अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे। नप अध्यक्षा मनीषा शर्मा ने सफाईकर्मियों को शनिवार तक वेतन मिलने का आश्वासन दिया है।

ये है समस्या : स्वीकृति से ज्यादा है पद, 2007 से नहीं की करों में वृद्धि

नगर परिषद में सफाई कर्मचारी नहीं बल्कि अन्य कर्मचारियों को भी वेतन नहीं मिलने की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। यह समस्या नप द्वारा स्वीकृत पद से अधिक नियुक्ति करने व करों में वृद्धि नहीं करने से बन रही है। इससे आय कम और खर्चे अधिक हो गए हैं। नगर में करीब 63 सफाई कर्मचारी हैं। इसमें से 17 स्थाई, 29 दैनिक वेतन भोगी व 17 कर्मचारी ऐसे हैं जिन्हें 10 साल से अधिक काम करते हुए हो गए हैं। जबकि सफाई कर्मचारी के स्वीकृत पद मात्र 25 हैं। वहीं नप के अन्य कर्मचारियों के स्वीकृत पद 38 हैं लेकिन वर्तमान में करीब 89 कर्मचारी काम कर रहे हैं। नप ने वर्ष 2007 के बाद से किसी भी प्रकार के कर में वृद्धि नहीं की है। हर बार बैठक में प्रस्ताव रखा जाता है लेकिन स्वीकृत नहीं हो पाता है। वहीं नगर में लोगों से समय पर कर की वसूली भी नहीं हो पा रही है। इससे कर्मचारियों को वेतन देने में समस्या आ रही है।

नगर परिषद की आर्थिक स्थिति खराब


और इधर... नप के पुरुष कर्मचारियों ने 7 सूत्रीय मांगों का सौंपा ज्ञापन

मंडलेश्वर | सफाई कर्मचारियों ने सीएमओ को 7 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। इसमें कर्मचारियों ने बताया सफाई कर्मचारियों को वेतन प्रतिमाह नहीं मिल रहा है। इससे सफाई कर्मचारियों को परेशानी उठाना पड़ रही है। परिवार के पालन पोषण के लिए कर्मचारियों को कर्जा लेना पड़ रहा है। इस समस्या का जल्द से जल्द निराकरण किया जाए। कर्मचारियों ने ज्ञापन में 7 सूत्रीय मांग रखते हुए कहा 2 माह का वेतन दिया जाए। 8 से 9 माह का जीपीएफ जमा किया जाए। दैनिक वेतन मस्टर कर्मचारियों को विनियमितिकरण किया जाए। पदोन्नति व क्रमोन्नति किया जाए। झाड़ू और साबुन दिए जाएं। 7वें वेतनमान के एरियर का भुगतान किया जाए। वर्दी, ड्रेस, स्वेटर उपलब्ध कराए जाएं। उन्होंने कहा हमारी मांगें 23 फरवरी तक पूरी नहीं कि तो सफाई कर्मचारी काम बंद कर परिषद में धरना प्रदर्शन करेंगे।

नप के पास जलकर, संपत्तिकर, बाजार बैठक शुल्क जैसे आय के साधन

जनप्रतिनिधियों ने कहा- शासन से नहीं मिल रही राशि

जनप्रतिनिधियों ने बताया एक साल पहले बनी प्रदेश की कांग्रेस सरकार के बाद से नगर परिषद की आर्थिक स्थिति बिगड़ रही है। वर्तमान में भाजपा समर्थित नप की अध्यक्षा व बहुमत वाली परिषद है। राज्य सरकार से परिषद को मद उपलब्ध नहीं कराने के आरोप लगा रही है। राज्य सरकार ने नगरीय निकायों को प्रतिमाह प्रदान की जाने वाली चुंगी पर रोक लगा दी है। साथ ही यह भी निर्देशित किया है कि निकाय के खर्चों को पूरा करने के लिए निकाय अपनी आय के साधनों में वृद्धि करें। वर्तमान परिस्थिति में निकाय के पास जलकर, संपत्तिकर, बाजार बैठक शुल्क जैसे आय के साधन ही उपलब्ध हैं। इनसे परिषद के मासिक खर्चों की पूर्ति हो पाना संभव नहीं है। नप उपाध्यक्ष श्याम मेवाड़े ने कहा पूर्व में समयानुसार वेतन कर्मचारियों को किया जाता था लेकिन शासन को पूर्ण रूप से जवाबदारों ने अवगत नहीं कराया है।

नप अध्यक्ष मनीषा शर्मा से चर्चा करती महिला सफाई कर्मचारी।

MANDLESHWAR News - mp news women sweepers staged a sit in at the president39s house over the non payment of salary for two months
X
MANDLESHWAR News - mp news women sweepers staged a sit in at the president39s house over the non payment of salary for two months
MANDLESHWAR News - mp news women sweepers staged a sit in at the president39s house over the non payment of salary for two months

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना