Hindi News »Madhya Pradesh »Khategaun» पवनपुत्र का शृंगार कर चोला चढ़ाया, महाआरती की

पवनपुत्र का शृंगार कर चोला चढ़ाया, महाआरती की

माता अंजनी के लाल पवन-पुत्र हनुमानजी का जन्मोत्सव शनिवार को नगर व ग्रामीण अंचल में धूमधाम से मनाया गया। हनुमान...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 03:15 AM IST

पवनपुत्र का शृंगार कर चोला चढ़ाया, महाआरती की
माता अंजनी के लाल पवन-पुत्र हनुमानजी का जन्मोत्सव शनिवार को नगर व ग्रामीण अंचल में धूमधाम से मनाया गया। हनुमान प्रतिमाओं का विभिन्न रूपों में आकर्षक शृंगार कर चोला चढ़ाया गया। पूर्व संध्या पर भक्तों द्वारा सुदंरकांड पाठ, रामायण पाठ, भजन कीर्तन कर रात्रि जागरण किया गया। सुबह से भक्तजनों द्वारा प्रभात फेरी निकाल कर नगर के सभी हनुमान मंदिरों पर पूजन अर्चन, महाआरती कर प्रसादी का वितरण किया गया। हनुमान मंदिरों को विभिन्न प्रकार के हार-फूलों से सजाकर आकर्षक विद्युत सज्जा की गई।

नगर के श्री खेड़ापति हनुमान मंदिर, बायपास स्थित रणजीत हनुमान मंदिर, माहेश्वरी समाज, राठौर समाज, उज्जड़खेड़ा हनुमान, चकाचक हनुमान, दत्त हनुमान, श्रीराम मंदिर तिलक मार्ग आदि हनुमान मंदिरों पर विराजित प्रतिमाओं का विशेष शृंगार किया गया व चोला चढ़ाकर पूजा अर्चना की गई। नगर के बजरंग व्यायाम शाला के भक्तों द्वारा प्रातः 7 बजे ढोल ढमाकों के साथ प्रभात फेरी निकालकर नगर के सभी हनुमान मंदिरों पर जाकर पूजा अर्चना की। श्रीदत्त हनुमान मंदिर पर श्रीराम चरितमानस का पाठ का शनिवार को सुबह 9 बजे हवन, पूर्णाहुति एवं आरती के साथ सम्पन्न हुआ। रणजीत हनुमान मंदिर, प्रगति नगर, खंचाजी हनुमान कोर्ट परिसर पर भक्त मंडली द्वारा भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें श्रद्धालुओं ने भोजन प्रसादी ग्रहण की।

महाआरती एवं भंडारा हुआ

बागली | समीपस्थ ग्राम आरिया स्थित हनुमान मंदिर पर उत्साह के साथ हनुमान प्रकटोत्सव मनाया गया। शुक्रवार की रात्रि को सुंदरकांड, महाआरती व रात्रि जागरण किया गया। पंडित वासुदेव जोशी के आचार्यत्व में यज्ञ हवन संपन्न हुआ। उसके उपरांत भंडारा किया गया, जो देर शाम तक चलता रहा। पुजारी भगवान गिरी एवं ओंकार गिरी गोस्वामी ने बताया कि भंडारे का यह 10वां वर्ष है।

अखिलेश्वर धाम में सहस्त्रधारा अभिषेक हुआ

उदयनगर | हनुमान जयंती पर प्राचीन तीर्थ क्षेत्र अखिलेश्वर धाम हनुमान मंदिर में सुबह 4 बजे से सहस्त्रधारा अभिषेक किया गया। साथ ही चोलावरण पूजा-अर्चना का दौर चलता रहा। पं. सुभाष पुरोहित, गिरीश पुरोहित ने बताया कि 42 वर्षों से अखंड श्रीराम चरितमानस रामायण का पाठ चल रहा है। 65 वर्षों से लगातार पांच दिवसीय हनुमान महोत्सव एवं मारुति यज्ञ का भी यहां पर होता आ रहा है। मान्यता यह है कि देश ही नहीं विश्व की एकमात्र प्राचीन प्रतिमा है यहां हनुमानजी के हाथ में शिवलिंग विराजित है। ऐसा कहीं भी देखने को आप को नहीं मिलता। बताया जाता है कि सहस्त्रधारा धाराजी से शिवलिंग लेकर हनुमानजी जा रहे थे तब महर्षि वाल्मीकि आश्रम में अखिलेश्वर धाम पर कुछ देर रुके थे तमिलनाडु के धनुष कोटि में आज भी वह शिवलिंग स्थापित है।

हनुमानजी का शृंगार, रात्रि में 108 दीपों से महाआरती

चापड़ा | खेड़ापति हनुमान मंदिर पर सुबह से पंडित दीपक त्रिवेदी द्वारा रुद्र अभिषेक किया गया। मंदिर के पुजारी विजय कुमार त्रिवेदी द्वारा खेड़ापति सरकार का विशेष शृंगार किया गया। नगर के प्रमुख मार्गों से एक विशाल चल समारोह निकला गया। ग्रामीणों ने जगह-जगह पुष्प वर्षा कर स्वागत किया। रात्रि को 108 दीपक से महाआरती की गई। हवन पूजन के बाद विशाल भंडारा हुआ। प्रकाश नगर में हनुमानजी का हवन पूजन किया गया। पंचमुखी हनुमान मंदिर नलकी पर अखंड रामायण के बाद भंडारा किया गया। श्यामनगर में मंशापुरण मंदिर पर भी भंडारे में लोगों ने प्रसादी ग्रहण की।

पारायण कर लगाया 56 भोग

पीपरी| स्थानीय हनुमान मंदिर सेवा समिति द्वारा हनुमानजी का जन्म उत्सव बड़ी धूमधाम से मनाया गया। लगातार 24 घंटे का रामायण जी का परायण कर, बाबा बजरंग का विशेष शृंगार किया गया। 56 भोग लगाकर महाआरती की गई। नगर और आसपास के गांवों के लोगों के लिए भंडारे का आयोजन किया। 3000 से अधिक श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण किया गया। ग्रामीणजनों का विशेष सहयोग रहा।

पूजा कर कन्या भोज हुआ

अजनास/खातेगांव | आदर्श ग्राम अजनास के मुख्य मार्ग स्थित बजरंग मंदिर में प्रातः 6 बजे से ही श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। पंडित अमोलकचंद शर्मा ने अभिषेक कर सिंदूर लगाया एवं शृंगार किया। अभिषेक डाबी ने चोला चढ़ाया। 10 बजे बजरंग मंदिर परिसर में संजय जायसवाल की ओर से कन्या भोजन का आयोजन हुआ। शाम 6 बजे संगीतमय आरती के पश्चात साबूदाने की खिचड़ी का महाप्रसाद संजय जायसवाल की ओर से वितरित किया गया। बालाजी मंडल के लक्ष्मी नारायण मामा संतोष पेंटर पुरुषोत्तम शर्मा हरिराम वर्मा शंभू केवट महेंद्र गुर्जर लालचंद जायसवाल द्वारा संगीतमय सुंदरकांड का पाठ रात्रि 8 बजे से किया। जानकारी जगदीश डाबी एवं विनोद चावड़ा ने दी।

शृंगार कर महाआरती की

खातेगांव | हनुमान जयंती के पावन अवसर पर श्री बालाजी सरकार मंदिर बागदी नदी पर भगवान का विशेष शृंगार किया गया। फूलोंं से मंदिर की साज-सज्जा की गई। कृषि उपज मंडी स्थित भाग्येश्वर मंदिर में भी धार्मिक आयोजन हुआ। हम्माल तुलावटी संघ द्वारा नगर के मुख्य मार्गों से होते हुए शोभायात्रा निकाली गई। खातेगांव बस स्टैंड पर स्थित हनुमान मंदिर, श्रीराम मंदिर, लंगर बीड़ी परिसर स्थित संकट मोचक हनुमान मंदिर सहित ग्राम खल में भी धार्मिक आयोजन हुए। महाप्रसादी का वितरण हुआ।

मुंडलादांगी में हुआ भंडारा

चौबाराधीरा | आसपास के क्षेत्र के गांव में हनुमान जयंती पर सुबह से ही मंदिरों में भक्तों का तांता लगा रहा। नागपचलाना, मुंडलादांगी, चौबाराधीरा, कल्लूखेड़ी, बालोन, लसूडिया ब्राह्मण आदि गांव में धार्मिक आयोजन हुए। गांव मुंडला दांगी में सुबह से ही हनुमान जन्म उत्सव के दिन फूलों से मंदिर को सजाया गया। हनुमानजी का चोला उज्जैन से मंगाया गया था। सुबह 9 बजे से संगीतमय सुंदरकांड का आयोजन किया गया। दाेपहर 1 बजे से विशाल भंडारा हुआ। जिसमें हजारों श्रद्धालुओं ने प्रसाद ग्रहण की। रात्रि 8 बजे से भजन संध्या हुई।

सोनकच्छ। हनुमान जंयती के अवसर पर प्रभात फेरी निकालते हुए श्रद्धालु।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Khategaun

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×