• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Khategaun News
  • Khategaon - चिट्‌ठी नहीं तो वोट नहीं : आरक्षण के लिए आज खातेगांव में जुटेगा मीणा समाज
--Advertisement--

चिट्‌ठी नहीं तो वोट नहीं : आरक्षण के लिए आज खातेगांव में जुटेगा मीणा समाज

मुख्यमंत्री समाज के कार्यक्रमों में चार बार कर चुके हैं वादा भास्कर संवाददाता| खातेगांव मुख्यमंत्री शिवराज...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 03:00 AM IST
मुख्यमंत्री समाज के कार्यक्रमों में चार बार कर चुके हैं वादा

भास्कर संवाददाता| खातेगांव

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मीणा समाज से किया गया आरक्षण का वादा पूरा न करने से समाज में आक्रोश है। समाज विरोध स्वरूप मप्र के 26 जिलों की 52 विधानसभा में कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित करके सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करा रही है। गुरुवार को खातेगांव विधानसभा में मीणा समाज द्वारा आक्रोश रैली निकाली जाएगी। इस रैली में मीणा समाज के प्रदेशाध्यक्ष पूर्व न्यायाधीश लालाराम मीणा, उपाध्यक्ष डॉ. रवि वर्मा, पूर्व विधायक गणपत पटेल, संगठन महामंत्री भीम सिंह समेत दर्जनभर प्रदेश के नेता शामिल होंगे। मीणा समाज सेवा संगठन के जिलाध्यक्ष कमल पटेल ने बताया कि समाज की आरक्षण व प्रतिनिधित्व वाली मांग लम्बे समय से चली आ रही है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अब तक चार बार समाज के कार्यक्रमों में वादा कर चुके हैं कि वे केंद्र को आरक्षण के लिए चिट्‌ठी लिखेंगे। लेकिन अब तक चिट्‌ठी नहीं भेजी, जबकि विधानसभा में प्रस्ताव भी पास हो गया है। इसीलिए इस बार समाज का नारा हैै कि चिट्‌ठी नहीं तो वोट नहीं। गौरतलब है कि मीणा समाज को राजस्थान, उत्तरप्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र समेत विदिशा की सिराेंज तहसील में आदिवासी का आरक्षण मिला हुआ है। इसमें से सिरोंज के भीतर से वर्ष 2003 में सिरोंज से आरक्षण खत्म कर दिया गया। अब समाज पूरे प्रदेश में आरक्षण मांग रही है। मप्र मीणा समाज सेवा संगठन के नेतृत्व में बुधनी और सोहागपुर विधानसभा में कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किए जा चुके हैं। खातेगांव में तीसरा सम्मेलन होगा। इसमें खातेगांव विधानसभा में रहने वाले समस्त मीणा समाज उपस्थित रहेगी। कार्यक्रम के बाद रैली के रूप में एसडीएम को ज्ञापन सौंपने जाएंगे।