Hindi News »Madhya Pradesh »Kukshi» 10 महिलाओं काे 21 लाख का ऋण स्वीकृत किया

10 महिलाओं काे 21 लाख का ऋण स्वीकृत किया

मप्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा ग्राम स्वराज अभियान अंंतर्गत आजीविका एवं कौशल विकास दिवस मनाते हुए सरकार...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 09, 2018, 03:20 AM IST

10 महिलाओं काे 21 लाख का ऋण स्वीकृत किया
मप्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा ग्राम स्वराज अभियान अंंतर्गत आजीविका एवं कौशल विकास दिवस मनाते हुए सरकार की योजनाओं पर प्रकाश डाला। मुख्य अतिथि जनपद पंचायत सीईओ ऋतु राय, विशेष अतिथि नप अध्यक्ष मुकामसिंह किराड़े, जनपद उपाध्यक्ष रातुसिंह सोलंकी एवं अन्य विभागों से अधिकारी आदि मंचासीन थे। विकासखंड में कुल 814 स्व सहायता समूह है। जिन्हें वित्तीय वर्ष 2017-18 में 2 करोड़ से अधिक की राशि बैंक से ऋण उपलब्ध कराया जा चुका हैं। जिससे वे अपनी आवश्यकता की पूर्ति कर स्व रोजगार स्थापित कर रही हैं।

कार्यक्रम में बेरोजगार युवक-युवतियों का पंजीयन कर परामर्श केंद्रों के माध्यम से डीडीयू जीकेवाय योजना अंतर्गत 145 महिलाओं का पंजीयन किया गया। स्व रोजगार योजना के अंतर्गत दस महिलाओं को अगरबत्ती मशीन के लिए 21 लाख का ऋण बैंकों के माध्यम से स्वीकृत कराया गया। अभी तक महिलाओं द्वारा अगरबत्ती मशीन, साबुन निर्माण, सेनेटरी नेपकिन, सिलाई, कड़ाई, बाग प्रिंट का कार्य सफलता पूर्वक किया जा रहा हैं। विकासखंड की जानकारी हंसा चौहान ने दी। स्व सहायता समूहों की दीदीयों को सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में बताया। पोषण आहार, महिला बाल विकास की जानकारी भी दी। जपं सीईओ ऋतु राय ने महिला समूहों के उत्पादन व विशेष प्रयास की सराहना की। समग्र स्व सहायता के अंतर्गत स्वास्थ्य पोषण आहार की जानकारी भी दी गई। समूहों के उत्पादन अगरबत्ती, साबुन, सेनेटरी, नेपकिन, बाग प्रिंट आदि के स्टॉल भी लगाए गए। जिसका अतिथियों ने अवलोकन किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में महिलाएं शामिल हुई।

आजीविका एवं कौशल विकास दिवस मनाकर स्व सहायता समूह द्वारा निर्मित उत्पाद की प्रदर्शनी भी लगाई

कुक्षी. कार्यक्रम में महिलाओं को ऋण के स्वीकृत पत्र बांटे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Kukshi

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×