--Advertisement--

जांच दल ने मृतकों के परिजनों के लिए बयान

जांच दल ने मृतकों के परिजनों के लिए बयान कुक्षी| विगत दिनों नगर के एक मंदिर के पुजारी गजेंद्र बैरागी का...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 05:10 AM IST
जांच दल ने मृतकों के परिजनों के लिए बयान
जांच दल ने मृतकों के परिजनों के लिए बयान

कुक्षी|
विगत दिनों नगर के एक मंदिर के पुजारी गजेंद्र बैरागी का स्वास्थ्य बिगड़ जाने पर उन्हें कुक्षी अस्पताल लाया गया था। जहां बीएमओ डॉ. केके सोनी की लापरवाही से खाली पड़े आक्सीजन सिलेंडर व एंबुलेंस समय पर नहीं मिलने से मौत हो गइ थी। जनहित संघर्ष समिति ने आक्रोश रैली निकालकर कुक्षी विधायक एवं एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर बीएमओ डॉ. सोनी को हटाने की मांग की थी। मामले में गुरुवार को जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एके पटेल के मार्गदर्शन में लोकेश जोशी, ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर जयंतीलाल खन्ना कुक्षी एवं सौरभ तिवारी ने रेस्ट हाऊस पर मृतक बैरागी के पुत्र लक्की बैरागी के बयान लिए। बैरागी ने बीएमओ डॉ. सोनी पर लापरवाही के आरोप लगाते हुए कहा पिताजी का स्वास्थ्य खराब होने के कारण उन्हे तुरंत कुक्षी अस्पताल में लाया गया था। परिसर में डॉ. सोनी भी एक निजी मेडिकल स्टोर के बाहर बैठे थे। स्वयं जाकर पिता की हालत बताई किंतु उन्होंने पिताजी के स्वास्थ्य का प्रारंभिक परीक्षण नहीं किया। 20 मिनट पश्चात ड्यूटी पर मौजूद डॉ. राहुल मंडलोई ने स्वास्थ्य परीक्षण किया तो उन्होंने उनकी हालत गंभीर बताते हुए उन्हें तुरंत मय ऑक्सीजन के साथ बड़वानी ले जाने के लिए रैफर किया। किन्तु अस्पताल में ऑक्सीजन सिलेंडर एवं एंबुलेंस की अनुपलब्धता के चलते उनकी बड़वानी ले जाते हुए रास्ते में ही मौत ही गई। अगर आॅक्सीजन सिलेंडर एवं एम्बुलेंस समय पर मिल जाती तो उनकी मौत नहीं होती।



जनहित संघर्ष समिति अध्यक्ष महिमराम पाटीदार, डॉ निर्मल पाटीदार,रूपेश बड़जात्या, लक्की बैरागी, निरंजन सोनी और मनोज बैरागी आदि उपस्थित थे।

X
जांच दल ने मृतकों के परिजनों के लिए बयान
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..