Hindi News »Madhya Pradesh News »Manasa» मनासा नप अध्यक्ष से असंतुष्ट 13 पार्षद अविश्वास प्रस्ताव पर आज कलेक्टर को दर्ज कराएंगे बयान

मनासा नप अध्यक्ष से असंतुष्ट 13 पार्षद अविश्वास प्रस्ताव पर आज कलेक्टर को दर्ज कराएंगे बयान

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 02:45 PM IST

भास्कर संवाददाता | नीमच/मनासा नगर परिषद अध्यक्ष यशवंत सोनी से असंतुष्ट भाजपा के 9 व 4 निर्दलीय पार्षदों ने...
भास्कर संवाददाता | नीमच/मनासा

नगर परिषद अध्यक्ष यशवंत सोनी से असंतुष्ट भाजपा के 9 व 4 निर्दलीय पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव के लिए मंगलवार को नीमच पहुंचकर कलेक्टर को शपथ-पत्र सौंपे थे। इस पर सभी पार्षद गुरुवार को बयान दर्ज करवाने के लिए कलेक्टर के समक्ष उपस्थित होंगे। पार्षदों की खिलाफत से भाजपा संगठन में उफान आ गया है। इस राजनीतिक घमासान से विपक्षी दल कांग्रेस में उत्साह का माहौल है।

पार्षदों की बगावत पर बुधवार को जिलाध्यक्ष हेमंत हरित मनासा पहुंचे। उन्होंने विधायक कैलाश चावला, महामंत्री बंशीलाल राठौर, उपाध्यक्ष राजेश लढ़ा, पुष्कर झंवर, नप अध्यक्ष यशवंत सोनी, विस प्रभारी सुनील यजुर्वेदी के साथ बैठक कर असंतुष्ट पार्षदों को मनाने तथा नाराजगी के कारणों पर चर्चा की। हालांकि अंतिम निर्णय को लेकर किसी भी नेता ने कुछ भी कहने से इनकार किया। नप उपाध्यक्ष संजय सहगल ने कहा कि हम पार्टी के लिए वफादार है। आगामी चुनाव के लिए संगठन को मजबूत कर रहे हैं। पार्षदों की बात स्थानीय संगठन तक पहुंचाई लेकिन कुछ नहीं हुआ। गत दिनों में नप बैठक में अध्यक्ष से नाराज पार्षद नहीं पहुंचे। गुरुवार को हम सभी पार्षद कलेक्टर कार्यालय में बयान देने पहुंचेंगे।

नगर परिषद की स्थिति

15 कुल पार्षद

11भाजपा के

4निर्दलीय

ये पार्षद हंै शामिल- संजय सहगल, गिरजाशंकर शर्मा, रामनारायण मेघवाल, प्रीति व्यास, किशोर जोलान्या, भारती वर्मा, टीना कुश्वाह, मंजू एनिया, राजा मारू, गणेश राठौर, ओमप्रकाश कछावा, अरुणा माली, शबाना शेख। जबकि पंकज पोरवाल, वैशाली सोनी ने अविश्वास प्रस्ताव से दूर है।

संज्ञान लेना चाहिए था : भाजपा

विस प्रभारी सुनील यजुर्वेदी ने कहा कि बैठक में पार्षद शामिल नहीं हुए थे तो स्थानीय स्तर पर संगठन को संज्ञान लेकर असंतुष्ट पार्षदों से चर्चा करना चाहिए थी। लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया। अविश्वास प्रस्ताव आगे नहीं बढ़े इसके प्रयास किए जा रहे है। मुखर्जी मंडल अध्यक्ष अजय तिवारी ने कहा पार्षदों से बातचीत कर सामंजस्य बैठाने के प्रयास चल रहे हैं ताकि गुरुवार को पार्षद बयान देने नहीं पहुंचे।

लूट की फूट है: कांग्रेस

कांग्रेस नेता श्याम सोनी ने कहा कि यह नगर की जनता के हित में नहीं है। यह सिर्फ लूट की फूट का नतीजा है। भाजपा के लोग ही पार्टी का विरोध कर रहे है। ब्लॉक अध्यक्ष चंद्रशेखर पालीवाल ने कहा कि यह लड़ाई परिषद में रुपयों के बंदर बाट की है जो सड़क पर आ गई है। भाजपा को नगर की जनता से कोई लेना देना नहीं है। उनकी बात नहीं बनीं तो विरोध कर रहे है। नगर की जनता ने इन्हें वोट दिया उसका मजाक बनाया जा रहा है। पार्टी संगठन का बखान करती है संगठन कहा है यह हम पूछना चाहते हैं।

कोरम पूरा करना होगा

अभिभाषक दीपक गेहलोद ने बताया 13 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव का शपथ पत्र दिया है। कोरम को पूरा करने के लिए कलेक्टर के समक्ष प्रस्तुत होकर बयान देना होंगे। 12 से कम पार्षद पहुंचे तो प्रस्ताव को निरस्त माना जाएगा। कोरम पूरा होने पर प्रशासन द्वारा राज्य शासन को जानकारी दी जाएगी। इसके बाद नप अध्यक्ष अधिकार विहीन हो जाएंगे।

माउंट आबू पहुंचे पार्षद

सूत्रों के अनुसार सभी 13 असंतुष्ट पार्षद माउंट आबू में है। गुरुवार को सभी एक साथ बयान देने के लिए पहुंचेंगे। भाजपा नेताओं ने जब किसी पार्षद से संपर्क साधा तो उसने आबू में होने की बात कहीं।

सामंजस्य बैठाने के प्रयास कर रहे हैं- भाजपा जिलाध्यक्ष हेमंत हरित ने कहा संगठन के पदाधिकारियों और अन्य लोगों से अविश्वास प्रस्ताव को लेकर चर्चा की है। हम सामंजस्य बैठाने का प्रयास कर रहे हैं। ताकि मामला आगे नहीं बढ़े।

भाजपा: संगठन में तकरार, सत्ता में दरार

नीमच | जिले में भाजपा की अंदरूनी खींचतान से संगठन कमजोर होता जा रहा है। नेताओं में तकरार और सत्ता में बहुमत होने के बाद भी दरार आ रही है। मनासा में पूर्ण बहुमत वाली नप में अध्यक्ष यशवंत सोनी को हटाने के लिए 9 पार्षदों ने चार निर्दलीय पार्षदों को साथ लेकर कलेक्टर को शपथ-पत्र दिए। इससे संगठन में हलचल मच गई। अपनी ही पार्टी के विरोध में उतरने भाजपा में यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भाजपा जिलाध्यक्ष हेमंत हरित की नियुक्ति पर सोशल मीडिया से पार्टी स्तर तक विरोध, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष मीना जायसवाल की नियुक्ति से असंतोष पदाधिकारियों का दायित्व लेने से इंकार कर दिया था।

जावद विधायक ओमप्रकाश सखलेचा व पूरण अहीर का विवाद, नीमच नपाध्यक्ष राकेश जैन के खिलाफ पार्षदों द्वारा लगातार शिकायतें करना, सरवानिया महाराज नप अध्यक्ष पुखराज जाट के खिलाफ पार्षदों की लामबंदी का मामला भी सुर्खियों में रहा है। संगठन में विरोध के साथ विवाद बढ़ रहे हैं और अनुशासन वाली पार्टी के झगड़े सड़क पर आ रहे हैं। पिछले एक वर्ष में भाजपा पदाधिकारी विवादों के घेरे में आए हैं। मंडल अध्यक्षों से लेकर जिलाध्यक्ष तक कार्यकर्ताओं की शिकवा-शिकायतें आती है लेकिन उनका निराकरण नहीं होने पर विवाद सार्वजनिक हो रहे हैं। संगठन और सत्ता के लोगों की कार्यशैली को लेकर कार्यकर्ता प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमारसिंह चौहान तक पहुंचे हैं।

संगठन के पदाधिकारी विवादों में फंसे

भाजपा व इससे जुड़े संगठन के पदाधिकारी विवादों में फंसे। मामले सार्वजनिक होने पर थाने तक पहुंचा है। भाजयुमो जिलाध्यक्ष भूपेंद्रसिंह भीमावत और उनके साथियों के खिलाफ अवैध वसूली का मामला सिटी थाने में, अभाविप की यामिनी योगी पर रुपए मांगने, जान से मारने की धमकी देने के आरोप में मंदसौर, नीमच जिले के थाने में केस दर्ज हुआ। 27 दिसंबर को एकात्म यात्रा के संबंध में बैठक के बाद पार्षद विनीत पाटनी और सुमित अहीर में मारपीट हो गई थी। वरिष्ठों ने समझाइश देकर मामला शांत कर दिया था। लेकिन पार्षदों ने कलेक्टर, एसपी को शिकायत दर्ज कराई थी।

15 वर्ष में दूसरी बार ऐसा विवाद

मनासा नप अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पहली बार नहीं आया है। इससे पहले कांग्रेस की अध्यक्ष शशि कसेरा 2001 में पानी की गंभीर समस्या हल करने में नाकाम रही। जनता की मांग पर 16 मई 2002 को पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव पारित किया था। परिषद से अविश्वास प्रस्ताव कलेक्टर और प्रदेश शासन को भेजा। शासन स्तर से कार्रवाई नहीं होने पर मामला हाईकोर्ट पहुंचा। हाईकोर्ट के आदेश पर प्रदेश सरकार ने अविश्वास प्रस्ताव को निर्वाचन आयोग के पास भेजा। आयोग ने अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान की घोषणा की। 24 अप्रैल 2003 को अध्यक्ष के लिए चुनाव में 80 फीसदी जनता ने मतदान किया। 22 फीसदी मत कसेरा के पक्ष में रहे। जनता के फैसले पर आयोग ने मुहर लगाई और शशि कसेरा को अध्यक्ष पद से हटा दिया। खाली कुर्सी भरी कुर्सी कर इंदिरा सतोकिया को अध्यक्ष बनाया था।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Manasa News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: मनासा नप अध्यक्ष से असंतुष्ट 13 पार्षद अविश्वास प्रस्ताव पर आज कलेक्टर को दर्ज कराएंगे बयान
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      रिजल्ट शेयर करें:

      More From Manasa

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×