• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Manasa
  • डोडाचूरा व अफीम तस्करों के पट्टे निरस्त करने के लिए पुलिस ने नारकोटिक्स को लिखा पत्र
--Advertisement--

डोडाचूरा व अफीम तस्करों के पट्टे निरस्त करने के लिए पुलिस ने नारकोटिक्स को लिखा पत्र

मादक पदार्थ तस्करी करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्ती बरतने लगी है। तस्करी पर नकेल कसने के लिए पुलिस दूसरे विभागों से...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 03:55 AM IST
मादक पदार्थ तस्करी करने वालों के खिलाफ पुलिस सख्ती बरतने लगी है। तस्करी पर नकेल कसने के लिए पुलिस दूसरे विभागों से जानकारियां साझा करने लगी है। इसी कड़ी में मनासा पुलिस ने पिछले दिनों अफीम और डोडाचूरा में पकड़ाए आरोपियों की कुंडली नारकोटिक्स विभाग को भेजकर तस्करी में लिप्त आरोपियों के अफीम खेती के पट्टे निरस्त करने की अनुशंसा की है।

एसडीओपी रवींद्र बोयट ने बताया एसपी टी के विद्यार्थी के निर्देश पर मादक पदार्थों की तस्करी के खिलाफ मनासा पुलिस द्वारा अभियान चलाया, जिसमें 30 किलो अफीम तस्करी करते जार्डा गांव के पास से तीन तस्करों को पकड़ा था। आरोपी लालू गायरी और पूर्व सरपंच मांगीलाल गायरी के अफीम पट्टे निरस्त करने के लिए नारकोटिक्स विभाग को पत्र लिखा है। इसी तरह डोडाचूरा तस्करी में आरोपी कंजार्डा निवासी पिकअप चालक दिलीप पिता शांतिलाल (26) और फरार चल रहे आरोपी मालिक झोपडिय़ां निवासी रमेश पिता भेरूलाल मारू के अफीम पट्टे का पता लगाया जा रहा है ताकि नारकोटिक्स को निरस्त करने के लिए पत्र लिख सके। पुलिस ने पिकअप वाहन में तस्करी करते 55 बोरो में भर कर ले जाया जा रहा 8.39 क्विंटल डोडाचूरा बरामद कर आरोपी चालक को गिरफ्तार किया था और मालिक फरार हो गया था। उन्होंने बताया तस्करी के मामलों के अलावा आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपी रतन गुर्जर का पट्टा निरस्त करने के लिए विभाग को लिखा है। एसडीओपी के मुताबिक आपराधिक छवि के लोगों के बारे में अन्य विभागों से समन्वय बनाया जा रहा ताकि अपराधी पर चारों तरफ से दबाव पड़े और वो अपराध से तौबा कर ले।

किसानों से खरीदी साढ़े 22 हजार किलो अफीम

मनासा। नारकोटिक्स विभाग ने मनासा और रामपुरा तहसील के 141 गांवों के 3415 किसानों से 22526 किलो अफीम खरीदी है। सोमवार को तृतीय वर्ग अफीम अधिकारी द्वारा अफीम खरीदी का आखिरी दिन होगा। रामपुरा तहसील के 14 गांवों के 392 किसानों की अफीम का तौल करते ही 3 अप्रैल से लगाए गए अफीम खरीदी कैम्प का समापन हो जाएगा। रविवार को मनासा तहसील के 12 गांवों के 95 किसानों से 590 किलो और रामपुरा तहसील के 14 गांवों के 191 किसानों से 1274 किलो अफीम खरीदी। मनासा तहसील में अभी तक 127 गांवों के 3224 किसानों से 21252 किलो अफीम खरीदी है। इसमें से 20662 किलो अफीम अल्कोलाइड फैक्टरी नीमच भेजी जा चुकी है। सोमवार को राजपुरा, तलाऊ, अमरपुरा, मेल खेड़ा, मान्यखेड़ी, कराड़िया, सिंगाड़िया, डोरियाखेड़ी, पाल्या, वैदपुरा, बचाखेड़ी, अमलीया, संगाखेड़ी और दुधलाई के किसानों की अफीम का तौल होगा।