Hindi News »Madhya Pradesh »Mandsour» आयात शुल्क बढ़ने से सोया एवं पाम तेल के भाव लगभग समान

आयात शुल्क बढ़ने से सोया एवं पाम तेल के भाव लगभग समान

एक मार्च की रात करीब 11.30 बजे जारी नोटिफिकेशन में सीपीओ एवं आरबीडी पामोलीन तेल पर आयात शुल्क में वृद्धि कर दी है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 03:05 AM IST

एक मार्च की रात करीब 11.30 बजे जारी नोटिफिकेशन में सीपीओ एवं आरबीडी पामोलीन तेल पर आयात शुल्क में वृद्धि कर दी है। सीपीओ 14985.53 रुपए प्रति टन से बढ़कर 21978.78 रुपए हो गया है। आरबीडी पाम तेल 20591.47 रुपए से बढ़कर 27798.48 रुपए प्रति टन हो गया है। नए सिरे से आयात में सीपीओ 6.99 रुपए आर.बी.डी. 7.20 रुपए प्रति किलो महंगा पड़ेगा। इंदौर में 715 रुपए वाला पाम 770 रुपए बोला जाने लगा है। पाम -सोयातेल के बीच भावों का अंतर केवल टैक्स का रह गया है। दोनों खाद्य तेलों पर आयात शुल्क में वृद्धि से अन्य खाद्य तेलों के भावों में भी वृद्धि हो जाएगी। देखना यह है कि आयात शुल्क में वृद्धि के बाद विदेशों में कितनी मात्रा में भाव घटते हैं और भारत में कितनी मात्रा में बढ़ते हैं। वर्तमान में भारत में सबसे सस्ता खाद्य तेल पाम और आरबीडी ही था। इसका उपयोग औद्योगिक उत्पादन जैसे नमकीन, कैफेक्शनरी, होटल, हलवाई अधिक मात्रा में करते थे। इन उद्योगों को यह तेल महंगा मिलेगा। इसके अलावा अभी तक सभी खाद्य तेलों के बीच 5 से 10 रुपए किलो का अंतर रहता था अब 3 से 4 रुपए किलो का रह जाएगा।

तिलहनों में तेजी की आशा

आयात शुल्क बढ़ने से तिलहनों के भावों में भी तेजी आना चाहिए। हालांकि शनिवार को इतनी तेजी नहीं आ सकी। सरकार के इस कदम से किसानों को आंशिक लाभ होना चाहिए।आयात शुल्क बढ़ाने से तिलहनों का उत्पादन बढ़ने वाला नहीं है। करोड़ों उपभोक्ताओं को महंगा तेल खरीदना पड़ेगा। 26 फरवरी को देश के बंदरगाहों पर सीपीओ 2,62,704 टन, रिफाइन पामतेल 86559 टन, सूर्यमुखी 1,42,86 टन सोया तेल 95,323 टन कनोला 6,792 टन का स्टॉक बताया गया। शुल्क बढ़ने के बाद मलेशिया में केएलसीई 80 मायनस बंद हुई थी। शुक्रवार की रात 9 मायनस बंद रहा। मुंबई कांडला में भाव नहीं खोले। प्लांटों ने सोया तेल के भावों में 16 से 22 रु. (10 किलो) की वृद्धि की गई है। प्रकाश अविएग्रो महाकाली 768 विप्पी दिव्य ज्योति बजरंग 770 रुपए धानुका एमएस 757 मंदसौर 760 रुपए इंदौर पाम 770 रुपए बताया गया। प्लांटों की खरीदी में सोया की अविएग्रो 3875 खंडवा ऑयल 3825 दिव्य ज्योति इंडियन सोया महाकाली प्रेस्टीज 3850 रामा 3825 शांति ओवरसीज 3825 विप्पी रामा 3800 रुपए धानुका 3860 इटारसी ऑयल 3850 कृति 3800 गुजरात अंबुजा 3850 बैतूल ऑयल 3900 धुले 3950 से 4000 अकोला 3750 से 3950 नागपुर 3920 चंद्रपुर 3975 सोलापुर 4030 लातुर हिंगोली 4010 रु.।

इंदौर सींगदाना तेल 930 से 940 सोया रिफाइन 746 से 752 साॅल्वेंट 715 से 718 रुपए। तिलहन बाजार|मंडी में सरसों हलकी 4000 से 4200 निमाड़ी नई 4300 से 4500 पुरानी 4700 से 4850 रायड़ा नया 3200 से 3300 पुराना 3350 से 3500 सोयाबीन 3800 करंज 2550 टोली 2500 रुपए। कपास्या खली| इंदौर, देवास, उज्जैन 1085 (60 किलो) 1266 (70 किलो) खंडवा, बुरहानपुर 1065 (60 किलो) 1242 (70 किलो) अकोला 1620 रुपए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Mandsour News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: आयात शुल्क बढ़ने से सोया एवं पाम तेल के भाव लगभग समान
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Mandsour

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×