• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Mandsour News
  • कुंभकरणी सरकार को जगाने का प्रयास व संविदा हाेलिका दहन किया
--Advertisement--

कुंभकरणी सरकार को जगाने का प्रयास व संविदा हाेलिका दहन किया

प्रदेश सरकार ने बजट में कर्मचारी संगठनों की मांगों को मंजूर नहीं किया तो कर्मचारी संगठनों ने आंदोलन में तेजी ला...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 04:00 AM IST
प्रदेश सरकार ने बजट में कर्मचारी संगठनों की मांगों को मंजूर नहीं किया तो कर्मचारी संगठनों ने आंदोलन में तेजी ला दी। सोसायटी कर्मचारियों ने धरना स्थल पर ही नाट्य रूपांतरण करते हुए एक पात्र को सरकार रूपी कुंभकरण का रूप दिया। इसी तरह स्वास्थ्यकर्मियों ने संविदा होलिका दहन किया। कर्मचारी संगठनों की हड़ताल से जनता के कामों में लगातार देरी हाे रही है। जिला सहकारी बैंक अध्यक्ष मदनलाल राठौर ने बताया सभी सोसायटी स्तर पर हड़ताल होने से गेहूं पंजीयन नहीं हो रहे हैं। सीएमएचओ डॉ. महेश मालवीय ने बताया संविदाकर्मियों की हड़ताल के चलते स्थायी स्टाफ की शेड्यूलवार ड्यूटी लगाई है। पूरा प्रयास कर रहे हैं कि किसी भी मामले में जांच, उपचार में असुविधा ना रहे।

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी होली नहीं मनाएंगे

मंदसौर | संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संगठन मांगों को लेकर लगातार 11वें दिन गांधी चौराहे पर हड़ताल पर रहे। संविदा हाेलिका दहन भी किया। जिलाध्यक्ष विपिन सक्सेना ने बताया इस बार सरकार की नीतियों के विरोध में कर्मचारी हाेली नहीं मनाएंगे। शुक्रवार को कर्मचारी रंगों का त्याग कर रंगहीन वस्त्रों में धरनास्थल पर उपस्थित होंगे। उन्होंने बताया भोपाल में सीएम से प्रतिनिधिमंडल की वार्ता विफल रही है इसलिए अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी रखेंगे।

साेसायटीकर्मियों ने घंटियां बजाईं, नहीं हुआ असर

मंदसौर. सोसायटीकर्मियों ने मांगों को लेकर गुरुवार को सहकारी बैंक के पास धरनास्थल पर ‘कुंभकरणी सरकार’ का नाट्य मंचन किया। कर्मचारी को कुंभकरण दर्शाते हुए लाख घंटियां बजाईं लेकिन वह नहीं जागा। इसे सरकार का रूप बताया। संघ अध्यक्ष नंदकिशोर धाकड़ ने बताया सरकार ने अब तक मांगों की सुनवाई नहीं की है इसलिए कर्मियों ने समर्थन मूल्य के गेहूं पंजीयन व्यवस्था से लेकर सोसायटियों के खाद-बीज, ऋण संबंधी कामों तक बंद कर दिया है।