गाड़ियों पर लगे थे शादी के स्टीकर, बाराती बनकर बैठे थे इनकम टैक्स ऑफीसर्स...लोगों की नींद खुलती इससे पहले अपने-अपने ठिकानों पर पहुंच गई टीम / गाड़ियों पर लगे थे शादी के स्टीकर, बाराती बनकर बैठे थे इनकम टैक्स ऑफीसर्स...लोगों की नींद खुलती इससे पहले अपने-अपने ठिकानों पर पहुंच गई टीम

100 करोड़ रु. की टैक्स चोरी मिलने का अनुमान...

Bhaskar News

Feb 14, 2019, 12:40 PM IST
income tax  raided the different branches of amrit refinery operators house

मंदसौर/नीमच (एमपी)। आयकर विभाग की इन्वेस्टिगेशन विंग के मप्र व छत्तीसगढ़ के अधिकारियों ने बुधवार को सुबह होते ही मंदसौर की अमृत रिफाइनरी के संचालक के घर और फैक्टरी सहित पांच ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की। करीब 150 सदस्यीय टीम बारातियों के रूप में सत्यम विहार स्थित फैक्टरी संचालक के घर पहुंची। टीम नोट गिनने की मशीन भी साथ लेकर आई है। देर रात तक कार्रवाई जारी रहने से फिलहाल अधिकारियों ने कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है।


'विकास संग निशा' के स्टीकर लगे 20 वाहनों से बारातियों की तरह पहुंची 150 अधिकारियों-कर्मचारियों की टीम सुबह 6.30 बजे ही अमृत रिफाइनरी के संचालक के निवासी पहुंच गई। कोई कुछ समझ पाता उससे पहले ही अधिकारी और पुलिसकर्मी वाहनों से उतरे और पूरे परिसर को अपने कब्जे में ले लिया। इसी दौरान अलग-अलग टीमें धानमंडी स्थित घर, कृषि उपजमंडी स्थित गोदाम, दलौदा स्थित रुचि सोया, बायपास स्थित अमृत रिफाइनरी और मुलतानपुरा स्थित फैक्टरी भी जा धमकीं। कार्रवाई के दौरान टीम के सदस्यों ने नकदी, ज्वैलरी, संपत्ति व स्टॉक का मिलान आयकर विवरणी से किया। क्रय-विक्रय की जानकारी जुटाने के साथ ही गोदाम में रखे माल का सत्यापन भी किया। सत्यापन की कार्रवाई रात तक जारी रही। इससे टीम ने किसी तरह का खुलासा नहीं किया।

रात 3 बजे ही इंदौर से रवाना हो गई थी 300 सदस्यीय टीम
जानकारी के अनुसार आयकर विभाग की टीम में जबलपुर, रीवा, गुना, इंदौर, रतलाम, उज्जैनभोपाल के 300 अधिकारी-कर्मचारी शामिल हैं। ये रात 3 बजे इंदौर से मंदसौर, नीमच व जावरा (रतलाम) के लिए रवाना हुए थे। इनमें से 150 तो मंदसौर में ही डेरा डाले हुए हैं। बाकी जावरा व नीमच में भी सर्चिंग कर रहे हैं।


फैक्टरी में 60 प्रतिशत से ज्यादा काम कच्ची पर्चियों पर होता है
सूत्रों की मानें तो अमृत रिफाइनरी में 60 प्रतिशत काम लूज पेपर पर ही होता है। 40 प्रतिशत की ही एंट्री ही रिकॉर्ड में ली जाती है। फैक्टरी संचालक शक्कर व अन्य उपज की भी खरीदते-बेचते हैं। इसी आधार पर कार्रवाई की गई जो गुरुवार शाम तक पूरी होने की संभावना है। जानकारों के अनुसार यदि आय से अधिक संपत्ति पाई गई तो फैक्टरी संचालक से पेनल्टी के व 137 प्रतिशत टैक्स वसूला जा सकता है।


नीमच : भामाशाह अवॉर्ड विजेता धानुका ऑइल मिल और माहेश्वरी वेयर हाउस के ठिकाने पर देर रात तक की सर्चिंग
आयकर विभाग की टीम ने बुधवार सुबह 6 बजे शहर में दस्तक दी। सोयाबीन तेल के कारोबारी व भामाशाह अवॉर्ड विजेता कैलाश धानुका की धानुका ऑइल मिल व माहेश्वरी वेयर हाउस के मालिक प्रभुलाल झंवर के ठिकानों पर छापा मारा। दोनों केे प्रतिष्ठानों पर 50 से ज्यादा अधिकारी-कर्मचारी पहुंचे। देर रात तक सर्चिंग की। प्रतिष्ठानों में रिकाॅर्ड, दस्तावेजों को देखा। वाहनों पर 'शादी के स्टीकर चस्पा थे ताकि आस-पड़ोस में भी जांच की भनक ना लगे। दोनों फर्में मंडी काराेबार से जुड़ी हैं। आयकर विभाग की शहर में अामद की सूचना से मंडी में साेयाबीन के भाव 250 रुपए प्रति क्विंटल गिर गए। बुधवार सुबह 6 बजे विभाग से इंदौर के ज्वाइंट डायरेक्टर सत्यपाल मीणा व डीडीआई विंग से कपिल कपूर के निर्देशन में बाराती बनकर आईं टीमें जमुनियाकलां स्थित धानुका ऑइल मिल पहुंचीं और अंदर प्रवेश करते ही गेट बंद कर दिया। रिकाॅर्ड देखने एक टीम मंडी स्थित उनकी फर्म भी भेजी। व्यापारी प्रभुलाल झंवर के मनासा रोड स्थित माहेश्वरी वेयर हाउस के अलावा शिक्षक कॉलोनी स्थित निवास पर भी दिनभर टीम रही। पुलिसकर्मी बाहर खड़े रहे। जानकारी लेकर फर्म से जुड़े अन्य पतों पर भी गए।


जावरा : अंबिका सॉल्वेक्स फैक्टरी की दो फर्मो पर कार्रवाई
अंबिका सॉल्वेक्स सोया फैक्टरी में बुधवार को आयकर विभाग की टीम ने दबिश दी। सुबह 7.30 बजे एक ट्रेवलर, दो कार में अधिकारी-कर्मचारी पहुंचे। रतलाम नाका क्षेत्र में फैक्टरी का पता पूछा और फिर गेट पर पहुंचे। जैसे ही वाहनों से अफसरों के साथ पुलिसकर्मी उतरे वहां तैनात कर्मचारियों के होश उड़ गए। टीम अंदर पहुंची और गेट बंद कर दस्तावेज खंगालने शुरू कर दी। देररात तक अधिकारी सर्वे करते रहे। इन्होंने अंबिका सोया फैक्टरी के साथ ही इसी की फर्म वर्धमान सॉलवेंट एक्सट्रेक्शन इंडस्ट्रीज लिमिटेड के दस्तावेज भी जांचे। दिनभर की सर्चिंग के बावजूद अधिकारियों ने स्थानीय स्तर पर जानकारी देने से मना कर दिया। प्लांट मैनेजर कैलाश सेठिया भी अंदर रहे। उनसे संपर्क करना चाहा लेकिन उनका मोबाइल टीम के कब्जे में होने से बात नहीं हो सकी।

X
income tax  raided the different branches of amrit refinery operators house
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना