Hindi News »Madhya Pradesh »Mandsour» जलसंकट : दो माह पहले एक टैंकर पानी 200 रुपए का था वो अब 400 से 500 रुपए में मुश्किल से मिल रहा

जलसंकट : दो माह पहले एक टैंकर पानी 200 रुपए का था वो अब 400 से 500 रुपए में मुश्किल से मिल रहा

तापमान बढ़ने साथ टैंकरों की मांग बढ़ने से संचालकों ने भाव बढ़ा दिए हैं। एक माह पहले 5 हजार लीटर पानी का टैंकर 200 रुपए में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 05:20 AM IST

जलसंकट : दो माह पहले एक टैंकर पानी 200 रुपए का था वो अब 400 से 500 रुपए में मुश्किल से मिल रहा
तापमान बढ़ने साथ टैंकरों की मांग बढ़ने से संचालकों ने भाव बढ़ा दिए हैं। एक माह पहले 5 हजार लीटर पानी का टैंकर 200 रुपए में मिल रहा था। अब 400 से 500 रुपए रुपए में भी मुश्किल से मिल रहा है। टैंकर संचालक जलसंकट देख मनमानी राशि वसूल रहे हैं।

शहर के गांधी नगर, यशनगर, अभिनंदन नगर के कई क्षेत्रों में नपा ने सप्लाय लाइन तो बिछा दी लेकिन इन क्षेत्रों में अभी भी आसपास के कुओं से पेयजल वितरण किया जा रहा है। कुओं में पानी कम होने पर क्षेत्र में पर्याप्त पेयजल वितरण नहीं हो रहा। नपा गांधी नगर के संपवेल में रोज दस टैंकर पानी डालकर सप्लाय के प्रयास कर रही लेकिन फिर भी लोगों की पूर्ति नहीं हो रही। लोग घरों में टैंकर डला रहे हैं। अभिनंदन नगर, गांधी नगर, 500 क्वार्टर, यशनगर सहित कई क्षेत्रों में टैंकरों की मांग बढ़ने से टैंकर संचालकों ने मनमानी राशि वसूलना शुरू कर दिया है। पंद्रह दिन पहले 200 रुपए में पांच हजार लीटर का टैंकर मिल रहा था वहीं वर्तमान में इसकी दर 400 से 500 रुपए तक पहुंच गई हैं। टैंकर चालक आवश्यकता अनुसार लोगों से मोटी राशि वसूल रहे हैं। किसी व्यक्ति को शाम या रात को टैंकर की जरूरत पड़ जाती है तो टैंकर संचालक उससे 500 रुपए तक वसूल रहे हैं। जनता कॉलोनी निवासी पूजा मोदी ने बताया एक दिन शाम को पानी खत्म हो गया तो जिला पंचायत तिराहे पर खड़े रहने वाले टैंकर संचालकों ने 500 रुपए मांगें, मुश्किल से भाव कर 450 रुपए में टैंकर डलवाया।

रोज बिकता है 2 लाख रुपए का पानी

दिनभर टैंकर सड़कों पर दौड़ते रहते हैं।

मूल्य निर्धारण पर जिला प्रशासन का नहीं नियंत्रण

टैंकर संचालकों में कई संचालक निजी कुओं से 50 रुपए प्रति टैंकर में पानी खरीदते हैं। डीजल सहित अन्य खर्च 100 व 150 रुपए तक होता है। संचालक इसे 400 से 500 रुपए तक बेच रहे हैं। मूल्य निर्धारण पर जिला प्रशासन नियंत्रण नहीं है। कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव नपा सीएमओ से चर्चाकर जल्द समाधान कराने व टैंकर संचालकों से चर्चा कर दर तय कराने की बात कह रहे हैं।

शहर में 50 से अधिक टैंकर है। जिसमें से प्रति टैंकर चालक एक दिन में कम से कम 10 टैंकर पानी सप्लाई करता है। औसत एक चालक 400 रुपए में टैंकर खाली करता है तो वह दिन में 4 हजार का पानी बेचता है। इस मान से शहर में रोज 2 लाख रुपए का पानी विक्रय हो रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Mandsour

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×