पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Mandsour News Mp News 2 Inches Of Rain In 24 Hours 7 Gates Of Gadgil And 20 Gates Of Retam Opened Gandisagar Level Increased By 125 Feet

24 घंटे में 2 इंच बारिश, गाडगिल के 7 और रेतम के 20 गेट खोले, गांधीसागर का लेवल 1.25 फीट बढ़ा

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बेहतर बारिश से जिले में 2015 के बाद सावन में आंकड़ा 27 इंच पर पहुंचा है जो औसत से केवल 5 इंच दूर है। अच्छी बारिश से गांधीसागर का वाटर लेवल 1270.1 फीट पर पहुंच गया है।

जिले में बुधवार सुबह तक औसत 26.7 इंच बारिश दर्ज की गई है। शाम तक यह आंकड़ा 27.5 तक पहुंच गया। इससे पहले 2015 में 7 अगस्त तक सर्वाधिक 28 इंच बारिश दर्ज हुई थी। गतवर्ष जिले में 7 अगस्त तक केवल 14.4 इंच बारिश दर्ज हुई थी। अच्छी बारिश के चलते बुधवार दोपहर दोपहर बाद पशुपतिनाथ मंदिर की छोटी पुलिया के उपर पानी होने से पुलिस जवान तैनात किए गए। नाहरगढ़-बिल्लाैद मार्ग व बसई से मेलखेड़ा मार्ग बंद हो गया। नाहरगढ़-बिल्लाैद पर शिवना एवं मेलखेड़ा मार्ग पर पानी पुलिया के ऊपर से पानी बह रहा है।

मल्हारगढ़ में बुधवार दोपहर में दो घंटे तेज बारिश हुई। जिससे नगर की निचली बस्तियों में तीन से चार फीट पानी जमा हो गया। लोग बच्चों को को कंधे पर बैठाकर स्कूल से घर ले गए। मल्हारगढ़ एसडीएम रोशनी पाटीदार द्वारा बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में नालों से अतिक्रमण हटवाया गया। इसके साथ ही नालों को चौड़ा भी किया।

बिल्लौद-नाहरगढ़, बसई मेलखेड़ा मार्ग बंद, जिले के सभी तालाब लबालब

जिलेभर में जोरदार बारिश के चलते बुधवार को गाडगिल सागर बांध के 9 में से 7 गेट खोले गए।

इधर, खेतों में भरा पानी

लगातार बारिश से खेतों में पानी भर गया है। तुरकिया के उदयसिंह मकाती, कालूसिंह बोराना, मोहनसिंह मकाती, हरिसिंह मुकाती ने बताया कि सड़क बनने के बाद पानी की निकासी नहीं होने के कारण खेतों में पानी आ गया है। फसल सड़ने लगी है। ठेकेदार को पाइप रखने के लिए कई बार कहा परन्तु ध्यान नहीं दिया। आज पानी की निकासी नहीं होने के कारण खेतों में घुटने बराबर पानी है।

उफनते नाले से ट्रैक्टर निकालने का किया प्रयास, तीन लाेग फंसे

राधेश्याम गायरी मिस्त्री का काम करता है। यह अमरपुरा से कनघट्टी की तरफ आ रहा था। राधेश्याम एक बार मकान की छत भरने वाली मशीन को लेकर पुल पार कर चुका था। मकान का काम करने वाले दो मजदूर दशरथ व गणपत दावरी दूसरी तरफ रह गए थे। राधेश्याम उन्हें लेने ट्रैक्टर से वापस गया। ट्रेक्टर के पीछे दोपहिया वाहन रखकर दोनों को ट्रैक्टर पर बैठाकर राधेश्याम ने नाला पार करने का प्रयास किया तो वह बहाव के कारण नाले में जा गिरा। इस पर तीनों ट्रैक्टर के उपर बैठ गए। बाद में ग्रामीणों ने उन्हें बाहर निकाला।

चक्कर आने से संतुलन बिगड़ा, बाइक सहित बहा-सेमलिया हीरा सोमली नदी पर पुल के ऊपर पानी होने के बाद भी गांव के प्रभुलाल माली बाइक से गुजर रहे थे। पुलिया के बीच माली को चक्कर आ गए जिससे बाइक का संतुलन बिगड़ गया और वे बाइक सहित पानी में जा गिरे। ग्रामीणों की मदद से प्रभुलाल को बचा लिया लेकिन उनकी बाइक पानी में बह गई। 1 मीटर तक खोले रेतम बैराज गेट-रेतम बैराज के 24 में से 20 एक-एक मीटर तक खोले गए हैं। जल संसाधन विभाग के कार्यपालन यंत्री सुधीर वाघेला ने बताया कि इससे 18 लाख लीटर पानी प्रति सेकंड बह रहा है। यह मनासा होते हुए गांधीसागर में पहुंच रहा है। बैराज का लेवल अभी 426.80 मीटर है।

जनपद की ग्राम पंचायत साठखेड़ा के ग्राम सेमली रूपा में बारिश के कारण मनरेगा योजना के तहत सुदूर ग्राम संपर्क सड़क के तहत बनाई पुलिया पूरी तरह पानी में बह गई है। ग्रामीण परेशान।

7 साल बाद सर्वाधिक 41 इंच बारिश गरोठ में दर्ज

जिलेभर में अच्छी बारिश है लेकिन गरोठ क्षेत्र में रिकाॅर्ड बन गया है। गरोठ में सर्वाधिक अब तक 41 इंच बारिश हो गई है। गरोठ वर्षा मापक केंद्र के पास भी 7 साल का आंकड़ा है जिसमें अब तक इतनी बारिश नहीं हुई। इसी तरह बेहतर बारिश के कारण दूसरे नंबर पर मंदसौर शहर में 30 इंच बारिश हुई है। भानपुरा में सबसे कम 20.7 इंच बारिश हुई है।

खबरें और भी हैं...