100 बेड का आधुनिक मेटरनिटी वार्ड बनेगा हर बेड तक ऑक्सीजन की पाइप लाइन डलेगी

Mandsour News - जिला अस्पताल निरीक्षण के लिए अगले माह तक एनक्यूएस (नेशनल क्वालिटी एश्याेरेंस) की टीम आ सकती है। इसके पहले जिला...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 03:57 AM IST
Mandsour News - mp news a modern bed of maternity ward will make the bed of oxygen pipeline up to every bed
जिला अस्पताल निरीक्षण के लिए अगले माह तक एनक्यूएस (नेशनल क्वालिटी एश्याेरेंस) की टीम आ सकती है। इसके पहले जिला अस्पताल का कायाकल्प करने का काम रविवार से शुरू हो गया। पीडब्ल्यूडी ने अभी 90 लाख रुपए से 6 वार्डों का जीर्णोद्धार शुरू किया है। इसके साथ ही छतों पर रखी पानी की टंकियों को बदलने, एक्सरे रूम व लेबोरेटरी का कायाकल्प भी किया जाएगा। इधर, जिला अस्पताल परिसर में ही आधुनिक 100 बेड के मेटरनिटी वार्ड की डिजाइन फाइनल हो गई, पीआईयू अधिकारी मंगलवार बुधवार को टेंडर कॉल करने की बात कह रहे हैं।

एनक्यूएस की टीम के आने से पहले कलेक्टर के आदेश पर पीडब्ल्यूडी ने जिला अस्पताल का जीर्णाेद्धार शुरू कर दिया। एक वार्ड की मरम्मत व जीर्णाेद्धार के लिए 15 लाख रुपए का बजट रखा है। इसमें वार्डों की दीवारों पर प्लास्टर, छत की मरम्मत व दीवारों पर 6 फीट ऊंचाई तक टाइल्स लगाई जाएगी जिससे वार्डों का सौंदर्यीकरण होगा। फर्श पर लगे कोटा स्टोन पर मिरर पॉलिश कराई जाएगी जिससे फर्श में चमक आएगी। छत पर रखी सीमेंट की पेयजल टंकियों की जगह पीवीसी टंकियां रखी जाएंगी, जिससे छत में सीपेज की समस्या खत्म होगी। वहीं टंकियों के ओवरफ्लो होने पर इसका पाइंट नीचे बगीचे में दिया जाएगा जिससे पानी छत पर नहीं बहेगा। पीडब्ल्यूडी ने महिला सर्जिकल वार्ड से अस्पताल के कायाकल्प की शुरुआत कर दी है। इसके बाद मेल सर्जिकल वार्ड, एक परिवार कल्याण, एक सर्जरी एवं सिंधी वार्ड का जीर्णोद्धार किया जाएगा।

दीवाराें पर 6 फीट ऊंचाई तक लगेंगी टाइल्स, होगा प्लास्टर

पीडब्ल्यूडी द्वारा एनक्यूएस टीम के साथ मिलकर एक्सरे रूम व लेबोरेटरी के जीर्णोद्धार का प्लान भी तैयार किया जा रहा है। इसमें एक्सरे रूम में खिड़कियों को बंद करने के साथ रेडिएशन प्रूफ बनाया जाएगा। लेबोरेटरी में पास का रूम मर्ज करने पर विचार किया जा रहा है जिससे जगह की गुंजाइश बढ़ सके। साथ ही प्लेटफाॅर्म में सुधार किया जाएगा। ओपीडी में पर्ची के लिए अंदर परिसर में लाइन लगती है जिससे परिसर में भीड़ हो जाती है। अब अस्पताल प्रबंधन खिड़की को बाहर की तरफ करने पर विचार कर रहा जिससे पर्ची कटाने वालों की लाइन बाहर लग सके।

जिला अस्पताल में पीडब्ल्यूडी ने शुरू किया मरम्मत कार्य।

मेटरनिटी वार्ड के लिए इसी सप्ताह लगेंगे टेंडर, 17 करोड़ रुपए मंजूर

जिला अस्पताल में कायाकल्प के साथ ही 100 बेड वाले अत्याधुनिक मेटरनिटी वार्ड की सुविधा मिलने वाली है। इसके लिए 17 करोड़ रुपए मंजूर हो गए हैं व स्वास्थ्य विभाग ने ड्राइंग-डिजाइन भी तैयार करा ली है। इसमें महिलाओं के लिए आधुनिक मशीनें उपलब्ध कराई जाएंगी। हर बेड के पास तक पाइप लाइन के माध्यम से ऑक्सीजन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। अस्पताल में किसी मरीज के गले में कुछ अटक जाता है, पेट या फेफड़े में पानी भर जाता है तो सेंट्रल सक्शन सिस्टम के माध्यम से उसे तुरंत निकाला जा सकेगा। वार्ड में गंभीर मरीजों की 24 घंटे मॉनिटरिंग के लिए अस्पताल को 12 मल्टीपेरा मॉनिटरिंग सिस्टम मिलेंगे। इसमें माड्यूलर लेबर टेबल सहित कई आधुनिक सुविधाएं मौजूद होंगी। पीआईयू के कार्यपालन यंत्री दिनेशकुमार श्रीवास्तव ने बताया कि इसके लिए सोमवार को डिजाइन उपलब्ध हो जाएगी। डिजाइन उपलब्ध होते ही मंगलवार या बुधवार को मेटरनिटी वार्ड के लिए टेंडर प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

X
Mandsour News - mp news a modern bed of maternity ward will make the bed of oxygen pipeline up to every bed
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना