पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Mandsour News Mp News Chemical Colored Red Water Polluting Polluted Shivana

लच्छे रंगने का केमिकलयुक्त लाल पानी शिवना को कर रहा प्रदूषित

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
{तीन माह में किसी भी स्थिति में काम शुरू करने का लक्ष्य, नपाध्यक्ष ने किया निरीक्षण

नपाध्यक्ष ने सामाजिक संगठन सदस्योंं के साथ बुगलिया से कोर्ट परिसर तक शिवना की स्थिति देखी। यहां हालात बदतर नजर अाए। खानपुरा नीलगर खरंजा में लच्छा बनाने से रंगों का केमिकलयुक्त पानी नालाें से हाेते हुए शिवना किनारे बने गड्‌ढे मेें छोड़ा जा रहा है। पानी अधिक होने पर यह ओवरफ्लो होकर शिवना में पहुंच रहा है। इससे शिवना दूषित हाे रही है। इस पर नपाध्यक्ष ने अधिकारियों को 15 दिन में प्लान तैयार कर टीएस की स्वीकृति के लिए भेजने को कहा। नपा द्वारा बुगलिया नाले से मुक्तिधाम के आगे तक शिवना किनारे 3 करोड़ रुपए से बड़ा नाला बनवाया जाएगा। शिवना में मिलने वाले अन्य सभी नाले काे इसमें छोड़ेंगे। यह मुक्तिधाम के आगे निकाला जाएगा। इधर, 50 लाख रुपए से मुक्तिधाम के पास स्टॉपडैम बनाया जाएगा।

सामाजिक संगठनों व शहर की जनता से शिवना शुद्धिकरण के वादे पर नपाध्यक्ष ने काम शुरू कर दिया है। शनिवार को नपाध्यक्ष राम कोटवानी ने संघर्ष कर रहे सामाजिक संगठनों के सदस्य सुनील बंसल, रवींद्र पांडे, अजीजुउल्लाह खां, सत्येंद्र सोम आदि के साथ शिवना का निरीक्षण किया। सभी ने प्रतापगढ़ पुलिया के पास खानपुरा का गंदा पानी ईदगाह के पीछे बुगलिया में मिलने नारायणनगर, मदारपुरा का गंदा पानी भी बुगलिया में छोड़ने की जानकारी दी। बताया यह गंदा पानी तीन छतरी बालाजी के यहां शिवना में मिल रहा है। संगठन सदस्याें ने खानपुरा नीलगर खरंजा में लच्छा बनाने से रंगों का केमिकलयुक्त पानी शिवना में मिलने की जानकारी दी। बताया कि बुगलिया नाले से मुक्तिधाम तक करीब पांच नाले शिवना में मिल रहे हैं।

बड़ा नाला बनाने का लिया निर्णय

निरीक्षण के बाद सभी ने प्रारंभिक रूप से बुगलिया नाले से शिवना किनारे मुक्तिधाम के आगे तक बड़ा नाला बनाने का निर्णय लिया। नपा इंजीनियरों के अनुसार करीब 3 करोड़ में नाला बन जाएगा। इससे सारा गंदा पानी मुक्तिधाम के आगे पहुंच जाएगा। इसके बाद मुक्तिधाम के यहां करीब 50 लाख रुपए से स्टॉपडैम भी बनाया जाएगा। इससे रामघाट तक शिवना में पानी एकत्र रहेगा।


नीलगर खरंजा मोहल्ला के यहां इस तरह लच्छे का रंगवाला पानी नाले में पहुंच रहा। यही पानी अागे जाकर शिवना में मिलकर उसे दूषित करता है।


{15 दिन में बनाई जाएगी कार्ययोजना, फिर तकनीकी स्वीकृति के लिए भेजेंगे फाइल

{विभिन्न नालों का गंदा पानी राेकने के लिए बुगलिया से मुक्तिधाम तक बनाएंगे बड़ा नाला

...ताकि जल्द शिवना को शुद्ध किया जा सके

निरीक्षण के बाद नपाध्यक्ष ने उपयंत्री बीबी गुप्ता को जनसामान्य से सोशल मीडिया के माध्यम से चर्चा कर सुझाव मांगने। इन पर 15 दिन में डीपीआर तैयार कर तकनीकी स्वीकृति के लिए भेजने के निर्देश दिए ताकि जल्द से जल्द शिवना शुद्धिकरण किया जा सके।

नपा के पास पर्याप्त बजट

राम कोटवानी, नपाध्यक्ष, मंदसाैर
खबरें और भी हैं...