ये महीने टैक्स से चूके तो लगेगा ब्याज व पेनल्टी

Mandsour News - यह महीना टैक्स के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है। आपको कई तरह के टैक्स चुकाने पड़ेंगे। इनमें संपत्तिकर, इनकम टैक्स,...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 03:56 AM IST
Mandsour News - mp news if you miss this month39s tax interest and penalties
यह महीना टैक्स के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है। आपको कई तरह के टैक्स चुकाने पड़ेंगे। इनमें संपत्तिकर, इनकम टैक्स, जीएसटी व एडवांस टैक्स शामिल है। यदि समय पर इनका भुगतान नहीं हुआ तो आपको ब्याज के साथ पेनाल्टी भी चुकाना होगी। इससे पचने के लिए इससे अच्छा है कि यदि आप पर किसी तरह का कोई टैक्स बकाया है तो जल्द से जल्द जमा करा दें ताक पेनल्टी से बंच सकें।

नपा लगाएगी 10 फीसदी पेनल्टी

संपत्तिकर- वर्ष 2018-19 का संपत्तिकर नगर पालिका में जमा कराने की आखिरी तारीख भी 31 मार्च है। इसके पहले यदि यह कर जमा नहीं कराया जाता है तो नगर निगम द्वारा बकाया राशि पर 10 फीसदी पेनल्टी वसूली जाएगी।

इस माह कब-कौन सा टैक्स जमा कराना है

एडवांस टैक्स का समय निकला

वर्ष 2018-19 का एडवांस टैक्स जमा कराने की आखिरी तारीख 15 मार्च थी। व्यापारियों को यह टैक्स सालभर में चार किस्तों में चुकाना होता है। 15 जून, 15 सिंतबर, 15 दिसंबर व 15 मार्च को। मार्च तक व्यापारियों को 100 फीसदी टैक्स जमा कराना होता है। ऐसे व्यापारी जिनका सालभर का कर 10 हजार से ज्यादा बन रहा है उन्हें यह टैक्स जमा कराना होता है। इसके बाद चुकाने पर ब्याज और पेनल्टी लगती है।

जीएसटी : फरवरी का 3बी रिटर्न जमा कराने की आखिरी तारीख 20 मार्च है। ऐसे कारोबारी जिन्होंने कंपोजीशन नहीं ले रखा है। उन्हें यह टैक्स चुकाना होता है। 20 मार्च तक नहीं चुकाने पर ब्याज के साथ 50 रुपए रोज पेनल्टी चुकाना होगी।

इनकम टैक्स रिटर्न

लेट फीस के साथ इनकम टैक्स जमा कराने की आखिरी तारीख 31 मार्च है। वर्ष 2017-18 का इनकम टैक्स रिटर्न जमा कराने की आखिरी तारीख 31 अगस्त 2018 तय थी। करदाता रिटर्न दाखिल करने से चूक गया हो तो 31 मार्च तक 10 हजार रुपए लेट फीस के साथ दाखिल कर सकता है। 31 मार्च की तारीख याद रखें क्योंकि यह चूकने के बाद रिटर्न दाखिल नहीं किया जा सकेगा।

साॅफ्टवेयर देगा रिटर्न की जानकारी

जीएसटी के अंतर्गत रजिस्टर्ड कारोबारी अपनी घोषित टैक्स देनदारी के साथ अपने फाइनल और समरी सेल्स रिटर्न में क्लेम किए इनपुट टैक्स क्रेडिट का मिलान कर सकेंगे। रिपोर्ट देखने के साथ इसेे डाउनलोड भी कर सकेंगे। जीएसटी नेटवर्क ने टैक्सपेयर्स को फाइनल सेल्स रिटर्न जीएसटीआर-1 में घोषित टैक्स देनदारी पर रिपोर्ट देखने और डाउनलोड करने की सुविधा दे दी है। साथ ही फॉर्म जीएसटीआर-3 बी में घोषित और दिए रिटर्न को देखा जा सकेगा। जीएसटीआर-1 जहां माह की 11 तारीख तक फाइल किया जाता है। जीएसटीआर-3बी अगले महीने की 20 तारीख तक फाइल किया जाता है। अभी यदि देखना हो तो सॉफ्टवेयर खरीदना पड़ता था। इसके बाद नजर आता था लेकिन अब जीएसटी के सॉफ्टवेयर में ही यह पता चल जाएगा।

X
Mandsour News - mp news if you miss this month39s tax interest and penalties
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना