--Advertisement--

अवैध शराब बेचने वालों पर नजर रखने बनेगी टीम

गांव को नशामुक्त बनाने के लिए प्रत्येक ग्रामीण को आगे आकर काम करना होगा। सभी के प्रयासों से ही गांव नशामुक्त बन...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 04:35 AM IST
गांव को नशामुक्त बनाने के लिए प्रत्येक ग्रामीण को आगे आकर काम करना होगा। सभी के प्रयासों से ही गांव नशामुक्त बन सकता है। इसकी शुरुआत ग्रामीणों को अपने घर से करने की जरूरत है। यह बात प्रभातपट्टन ब्लॉक के मंगोनाकला में गायत्री परिवार, चेतना रीगल वेलफेयर सोसाइटी और मां ताप्ती मानव सेवा संस्थान के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित नशामुक्ति कार्यक्रम में टीआई एसके अंधवान ने कही।

अंधवान ने कहा पुलिस अवैध शराब बेचने वाले सहित अन्य सामाजिक अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए सतत कार्य करती है। आमजनों के सहयोग से सफलता मिल सकती है। उन्होंने कहा अवैध शराब बेचने वालों की सूचना दें तत्काल कार्रवाई की जाएगी। अवैध शराब बेचने और गांव में शांतिभंग करने वालों पर नजर रखने के लिए ग्रामरक्षा समिति का गठन किया जाएगा। जिसमें युवा और महिलाओं को शामिल किया जाएगा। सोसाइटी के अध्यक्ष कृष्णा दरवाई ने कहा गांव में अवैध शराब बिक रही है। जिससे गांव में अशांति का माहौल व्याप्त है। उन्होंने गांव के सभी बुजुर्गों, युवाओं को मिलकर गांव में फैली अशांति को दूर करने की समझाइश दी। उपस्थित महिलाओं ने गांव में अवैध शराब बिक्री से होने वाली परेशानी के संबंध में जानकारी दी।

अभियान

मंगोनाकलांं में ग्रामीणों ने लिया अवैध शराब बेचने वालों के खिलाफ अभियान चलाने का निर्णय

मुलताई। मंगोनाकलां में ग्रामीणों ने मिलकर लिया गांव को नशामुक्त करने का संकल्प।