• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Multai
  • ग्रामीणों ने कहा: झूठी शिकायत से कट गए गरीबी रेखा की सूची से नाम
--Advertisement--

ग्रामीणों ने कहा: झूठी शिकायत से कट गए गरीबी रेखा की सूची से नाम

साहब हम आर्थिक रूप से कमजोर है। मेहनत मजदूरी करके परिवार पालते हैं। 12 साल पहले हमारा नाम गरीबी रेखा की सूची में...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 05:30 AM IST
ग्रामीणों ने कहा: झूठी शिकायत से कट गए गरीबी रेखा की सूची से नाम
साहब हम आर्थिक रूप से कमजोर है। मेहनत मजदूरी करके परिवार पालते हैं। 12 साल पहले हमारा नाम गरीबी रेखा की सूची में दर्ज हुआ था। एक ग्रामीण ने सीएम हेल्प लाइन में झूठी शिकायत की। इस आधार पर सूची में से नाम काट दिए गए। यह बात गुरुवार को ग्राम हतनापुर से पहुंचे नायब तहसीलदार आशिक अली से ग्रामीणों ने कही।

ग्रामीणों ने गरीबी रेखा की सूची में नाम यथावत रखे जाने की मांग की। ग्रामीण फकीर गाडरे, गजानंद गाडरे, युवराज पवार और ग्रामवासियों ने बताया 72 परिवारों का नाम गरीबी रेखा की सूची में से काटा गया है। सूची से नाम कटने से अब शासन की योजना का लाभ नहीं मिल रहा है। ग्रामीण मुन्नालाल ने सीएम हेल्प लाइन में शिकायत की थी। जिसके बाद सर्वे टीम बनाकर सूची बनवाई गई। सूची कब और कैसे बनी, सर्वे कब हुआ इसकी जानकारी भी किसी को नहीं है। ऐसे में ग्रामीणों ने दोबारा जांच कर सूची में से काटे गए पात्र गरीबों के नाम दोबारा जोड़ने की मांग की है। नायब तहसीलदार आशिक अली ने बताया सीएम हेल्पलाइन में शिकायत होने के बाद जांच टीम द्वारा जांच की गई थी। अपात्र होने की स्थिति में सूची में से नाम काटे गए हैं। कार्रवाई से ग्रामीण संतुष्ट नहीं हैं तो कलेक्टर के पास अपील कर सकते हैं।

मुलताई। गरीबी रेखा की सूची में नाम कटने से परेशान ग्रामीणों ने नायब तहसीलदार को ज्ञापन देते।

X
ग्रामीणों ने कहा: झूठी शिकायत से कट गए गरीबी रेखा की सूची से नाम
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..