Hindi News »Madhya Pradesh »Multai» डूब क्षेत्र में आने वाले ग्रामीणों को जल संसाधन विभाग ने हटने के दिए निर्देश

डूब क्षेत्र में आने वाले ग्रामीणों को जल संसाधन विभाग ने हटने के दिए निर्देश

पारसडोह डेम में इस बारिश में पूर्ण जल भराव क्षमता तक पानी भरने का लक्ष्य रखा है। इस स्थिति में जल संसाधन संभाग ने...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 05:30 AM IST

पारसडोह डेम में इस बारिश में पूर्ण जल भराव क्षमता तक पानी भरने का लक्ष्य रखा है। इस स्थिति में जल संसाधन संभाग ने डूब क्षेत्र में आने वाले ग्रामीणों को डूब क्षेत्र में मौजूद चल संपति को हटाने के निर्देश दिए हैं। जिससे चल संपति पानी में डूबने से बच सके।

जल संसाधन संभाग के कार्यपालन यंत्री जीपी सिलावट ने बताया पारसडोह डेम सिंचाई परियोजना का निर्माण कार्य 31 मई तक पूरा हो जाएगा। जिससे बारिश में डेम में पूर्ण जल भराव क्षमता तक पानी भरने का लक्ष्य रखा है। डेम के अधिकतम जलभराव क्षेत्र को चिंहित कर दिया है। डूब क्षेत्र में आने वाले ग्राम काजली, नांदकुडी, देवडोंगरी, गरवा, पचधार, गौला, पौनी, कुटखेड़ी, डोहलन और बोरगांव की सीमा में चिंहित अधिकतम जलभराव क्षेत्र में ग्रामीणों की चल संपति है। ग्रामीणों को बारिश शुरू होने के पहले अपनी चल संपति हटाने के लिए कहा है। 15 जून तक ग्रामीण अपनी चल संपति को चिंहित जल भराव क्षेत्र से नहीं हटाते हैं तो इसकी जवाबदारी विभाग की नहीं होगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Multai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×