Hindi News »Madhya Pradesh »Multai» 2 दिन में 10 लाख लीटर की जरूरत, नगर पालिका को पांच दिन में खरीदकर मिल पा रहा 9 लाख लीटर पानी

2 दिन में 10 लाख लीटर की जरूरत, नगर पालिका को पांच दिन में खरीदकर मिल पा रहा 9 लाख लीटर पानी

दो दिन में एक बार पानी देने नपा को 10 लाख लीटर पानी की जरूरत है। इसके विपरीत नपा को पांच दिन में एक बार पानी देने के लिए...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 05:35 AM IST

2 दिन में 10 लाख लीटर की जरूरत, नगर पालिका को पांच दिन में खरीदकर मिल पा रहा 9 लाख लीटर पानी
दो दिन में एक बार पानी देने नपा को 10 लाख लीटर पानी की जरूरत है। इसके विपरीत नपा को पांच दिन में एक बार पानी देने के लिए 9 लाख लीटर पानी ही उपलब्ध हो पा रहा है। नागरिकों को पांच दिन में एक बार पानी मिल पा रहा है वह भी पर्याप्त नहीं। पेयजल व्यवस्था नपा के ट्यूबवेल पर निर्भर है। नपा के 30 ट्यूबवेल 28 हैंडपंप सूख चुके हैं। ट्यूबवेल सूखने से नपा ने शहर से 9 किलोमीटर दूर सांडिया के पांच किसानों के ट्यूबवेल से पानी लेना शुरू किया है। इन पांचों ट्यूबवेल से नपा को 4.50 लाख लीटर पानी ही मिल पा रहा है। जलापूर्ति के लिए नपा ठेकेदार से भी पानी खरीद रही है। नगर में स्थित 28 हैंडपंप में से 23 सूख चुके हैं। जल संकट से निपटना मुश्किल होता जा रहा है।

खरीदने से भी नहीं मिल रहा पर्याप्त पानी

नगर पालिका ने पानी उपलब्ध कराने ठेका दिया है। ठेकेदार से प्रतिदिन 10 लाख लीटर पानी की डिमांड की जा रही है। पानी की व्यवस्था नहीं होने के कारण ठेकेदार 4.50 लाख लीटर पानी ही उपलब्ध करा पा रहा है। ठेकेदार का कहना है नगर के जलस्रोत सूखने से पानी नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में नपा पानी खरीदकर भी प्यास नहीं बुझा पा रही है।

रोज बिक रहा 40 हजार लीटर पानी

पानी की कमी से बाजार में पानी की खरीद फरोख्त बढ़ गई है। शहर में 5 कोल्ड वाटर प्लांट हैं। जौलखेड़ा में भी एक प्लांट है। 6 प्लांट से प्रतिदिन 2 हजार केन पानी बिक रहा है। 20 लीटर क्षमता की केन 20 से 25 रुपए में बिकती है। पीने के लिए नागरिकों को पानी खरीदकर ही पीना पड़ रहा है।

जलसंकट

30 ट्यूबवेल, 28 हैंडपंप सूखे, पांच दिन में एक बार हो पा रही सप्लाई, केन खरीदकर बुझाना पड़ रही प्यास

नगर में जल संकट गहराने से ट्यूबवेल पर पानी के लिए पहुंचने लगे वार्डवासी।

जल संकट से निपटने ट्यूबवेल खनन किए जाएंगे। 9 ट्यूबवेल खनन के लिए टीएस मिली है। ट्यूबवेल खनन के लिए सर्वे किया जा रहा है। एक-दो दिन में ट्यूबवेल खनन शुरु हो जाएगा। आरसी गव्हाड़े, सहायक यंत्री नपा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Multai

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×