--Advertisement--

प्राइमरी के छात्रों को रोज नहीं दे रहे दो पेज होमवर्क

राज्य शासन ने जारी किए थे आदेश, नियमों का पालन नहीं कर रहे शिक्षक भास्कर संवाददाता | मुरैना जो बच्चे ठीक से...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:55 AM IST
राज्य शासन ने जारी किए थे आदेश, नियमों का पालन नहीं कर रहे शिक्षक

भास्कर संवाददाता | मुरैना

जो बच्चे ठीक से लिखना नहीं जानते, जिन्हें बोलकर लिखाना कठिन है, ऐसे बच्चों को प्रतिदिन दो पेज का होमवर्क दिए जाने के आदेश रा’य शिक्षा केन्द्र ने प्राइमरी स्कूलों को दिए थे लेकिन यह काम जनवरी बीतने तक स्कूलों में शुरू नहीं हो सका है।

प्राइमरी स्कूल के बच्चों को किताब पढ़ना व लिखना ठीक से आए तथा वह इमला को ठीकसे लिखना सीख जाएं इसके लिए शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार की प्रक्रिया छह महीने पहले जिले के 1810 प्राइमरी स्कूलों में शुरू करायी गई थी।। जिला शिक्षा केन्द्र ने हैडमास्टर्स को निर्देश दिए थे कि वह कक्षाओं में सुलेख व श्रुति लेख के एक-एक पेज का होमवर्क बच्चोंं को नियमित दिया करें। अगले दिन होमवर्क को बारीकी से चेक कर उसकी गल्तियों पर गोला खीचें ताकि बच्चे को की गई श्रुटि का अहसास कराया जा सके।

प्राइवेट स्कूलों की तर्ज पर होमवर्क दिए जाने का सिलसिला पूरे शिक्षा सत्र में चलाया जाए। इसके साथ ही महीने के अंत में सतत व्यापक मूल्यांकन टेस्ट लिए जाएं ताकि प्रगति सामने आ सके। जिले के 1810 प्राइमरी स्कूलों में दर्ज प्रत्येक छात्र-छात्रा का पोर्ट फोलियो तैयार कराया जाना था लेकिन यह काम भी हैडमास्टर्स ने जनवरी बीतने तक शुरू नहीं कराया है।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..