--Advertisement--

8 महीने में पूरी हो पढ़ाई, आज से खुलेंगे सरकारी स्कूल

पब्लिक स्कूलों की तर्ज पर सरकारी स्कूलों ने अपने सिस्टम में नायाब बदलाव किए हैं। इसके चलते इस बार नवीन शैक्षणिक...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:00 AM IST
पब्लिक स्कूलों की तर्ज पर सरकारी स्कूलों ने अपने सिस्टम में नायाब बदलाव किए हैं। इसके चलते इस बार नवीन शैक्षणिक सत्र की शुरूआत दो अप्रैल से की जा रही है। पहला सत्र 30 दिन का होगा जिसमें प्रवेश से लेकर पाठ्य पुस्तक, गणवेश, साइकिल व स्कॉलरशिप का वितरण सुनिश्चित किया जाएगा।

सरकारी स्कूलों के सिस्टम को अपडेट करने से जुड़ी मंशा यह है कि अभिभावकों को यह महसूस हो कि शिक्षा सत्र जल्द शुरू होने से बच्चों को पढ़ाई के लिए पर्याप्त समय मिल सकेगा। अभी तक सरकारी स्कूलों का नया सत्र 15 अगस्त के बाद शुरू होता था और फरवरी में पढ़ाई बंद कर दी जाती थी क्योंकि एक मार्च से बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो जाती थीं। नवीन शिक्षा सत्र में जुलाई से कक्षाएं शुरू होकर सतत आठ महीने तक संचालित रहेंगी जिससे कोर्स को आसानी से पूरा कराया जा सकेगा। दो अप्रेल से शुरू हो रहे नवीन शिक्षा सत्र में छात्र-छात्राओं के दाखिले 15 अप्रैल तक पूरे किए जाएंगे। 15 से 30 अप्रैल के बीच नामांकित छात्रों को पाठ्य पुस्तक,गणवेश, साइकिल व स्कॉलरशिप का वितरण किया जाएगा। 30अप्रैल से ग्रीष्मकालीन अवकाश शुरू होगा जो 15 जून तक चलेगा। 16 जून से कक्षा एक से लेकर इंटर तक की कक्षाओं का अकादमिक सत्र शुरू होगा।

नई व्यवस्था

प्राइवेट की तर्ज पर सरकारी स्कूलों को संचालित करने एक्सीलेंस स्कूल में हुआ शिक्षकों का ओरिएंटेशन

सरकारी स्कूल आज से खुलेंगे इसलिए शिक्षकों को दिए गए टिप्स।

स्कूलों में संसाधनों पर जोर

नवीन शिक्षा सत्र शुरू होने से पहले सभी संस्था प्रधान अपनी शिक्षण संस्था की सफाई कराकर उसका व्हाइट वॉश कराएंगे। इसके अलावा स्कूलों में फर्नीचर, उपकरण मरम्मत, पेयजल व्यवस्था, भवन/शौचालयों का अनुरक्षण कराया जाएगा। स्कूल के प्रवेश द्वार को सजाने से लेकर सूचना पटल को तैयार करने तथा क्लास रूम में आवश्यक दिशा निर्देशों का लेखन कराया जाएगा। इस संबंध में शनिवार को एक्सीलेंस हायर सेकंडरी स्कूल में शिक्षकों का ओरिएंटेशन किया गया।