• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Murena News
  • रामायण पाठ व हनुमान जी का किया शृंगार, जगह-जगह हुए भंडारे
--Advertisement--

रामायण पाठ व हनुमान जी का किया शृंगार, जगह-जगह हुए भंडारे

चैत्र मास की पूर्णिमा तिथि यानि शनिवार को हर साल की तरह इस बार भी बजरंग बली की जयंती मनाई गई। इस पर्व पर जिले भर के...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:00 AM IST
चैत्र मास की पूर्णिमा तिथि यानि शनिवार को हर साल की तरह इस बार भी बजरंग बली की जयंती मनाई गई। इस पर्व पर जिले भर के मंदिरों में प्रात:काल हनुमानजी को चोला चढ़ाया गया। इसके बाद संगीतमयी रामायण पाठ एवं हनुमान चालीसा का दौर चलता रहा। कई मंदिरों पर भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें हजारों लोगों ने प्रसाद लाभ लिया।

घरौना सरकार: नेशनल हाइवे स्थित घरोना हनुमान मंदिर से सुबह से ही दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा। यहां महंत द्वारा विधि विधान पूर्वक वीर हनुमान की पूजा-अर्चना की गई। मंदिर परिसर में सैकडों लोग रामायण पाठ व हनुमान चालीस पढ़कर पवनपुत्र हनुमानजी की आराधना कर रहे थे। मालूम हो कि घरोना मंदिर पर कई सालों से अनवरत रामायण पाठ का आयोजन चल रहा है। जिसमें शामिल होकर नगर के सैकडों लोग रोजाना हनुमानजी से मन्नत मांगते हैं।

बड़ोखर हनुमान मंदिर: नगर का प्रसिद्ध बड़ोखर हनुमान मंदिर श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। हनुमान जयंती के दिन यहां श्रद्धालुओं ने चना-रेवड़ी व बूंदी के लड्डुओं का प्रसाद चढ़ाकर बजरंग बली से मन्नत मांगी। कुछ श्रद्धालुओं द्वारा यहां भक्तजन को पूड़ी सब्जी का प्रसाद भेंट किया। हनुमान जयंती पर यहां दर्शन करने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ देखते बन रही थी।

12 फुटा हनुमान मंदिर पर लगा मेला: शहर के सिद्ध नगर क्षेत्र स्थित 12 फुटा हनुमान मंदिर में हर साल की तरह इस बार भी विशाल मेले का आयोजन हुआ। यहां महंत रामरट बाबा ने हनुमान जी 12 फुट की विशाल प्रतिमा पर चोला चढ़ाया।

धर्म

पवन पुत्र हनुमानजी की जयंती पर सुबह से ही दर्शन को उमड़े श्रद्धालु, नेजे चढ़ाकर मांगी मन्नत, कटबरी व 12 फुटा हनुमान मंदिर में लगा मेला

घरौना सरकार पर सुन्दरकाण्ड का पाठ करते श्रद्धालु।

हनुमान जयंती पर हुए कार्यक्रम

शहर के पुलिस लाइन हनुमान मंदिर, करह आश्रम, पंचमुखी हनुमान मंदिर पर भी शनिवार को महाबली बजरंग बली की जयंती मनाई गई। इन मंदिरों पर विद्वान पंडितों द्वारा विधि-विधान पूर्वक वेदमंत्रों के बीच हनुमान की पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद यहां सामूहिक रूप से हनुमान चालीसा का पाठ हुआ। पूजा के उपरांत महंत ने बताया कि हनुमान जयंती के दिन बजरंग बली की पूजा-अर्चना करने से भक्तों को जन्म जन्मांतर के पापों से मुक्ति मिल जाती है तथा परिवार की उन्नति होती है।

कटीबरी हनुमानजी पर नेजा चढ़ाए, दो दिवसीय मेला प्रारंभ

एमएस रोड कटबरी हनुमान मंदिर पर सुबह पांच बजे से नेजा चढ़ाने वाले श्रद्धालु आना शुरू हो गए थे। कई ग्रामीण मंडलियां यहां संगीतमयी रामायण पाठ कर प्रभु बजरंग बली की आराधना करतीं नजर आईं। यहां हनुमान जयंती के अवसर पर दो दिवसीय मेला लगता है। जिसके पहले दिन नेजे चढ़ते हैं तथा कन्या भोज व भागवान की कथा का दौर चलता है। दूसरे दिन यहां विशाल दंगल का आयोजन होता है। जिसमें जिले भर के अलावा अन्य प्रांतों के पहलवान जोर आजमाइश करने आते हैं।