Hindi News »Madhya Pradesh »Murena» बसों में ठूंस-ठूंसकर भर रहे सवारियां हादसे का खतरा, अफसर नहीं देते ध्यान

बसों में ठूंस-ठूंसकर भर रहे सवारियां हादसे का खतरा, अफसर नहीं देते ध्यान

नगर समेत ग्रामीण रूटों पर बस ऑपरेटर परिवहन नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। अधिकांश रूटों पर अनफिट बसें क्षमता से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 06:15 AM IST

नगर समेत ग्रामीण रूटों पर बस ऑपरेटर परिवहन नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं। अधिकांश रूटों पर अनफिट बसें क्षमता से कहीं अधिक सवारियां भरकर चलाई जा रही है। खटारा बसों के संचालन से यात्रियों के लिए सफर कष्टप्रद हो रहा है। इस संबंध में नागरिकों ने पुलिस अधीक्षक और जिला परिवहन अधिकारी को पत्र लिखा है। जिसमें परिवहन शर्तों की धज्जियां उड़ा रही अनफिट एवं ओवरलोड यात्री बसों की धरपकड़ के लिए साझा अभियान चलाने की आवश्यकता बताई है।

समाजसेवी बृजमोहन गुप्ता ने प्रस्तुत पत्र में बताया कि विजयपुर से मुरैना, शिवपुरी और ग्वालियर के बीच प्रतिदिन 65 बसें चलती है। इसके अलावा वीरपुर,सहसराम, रघुनाथपुर व श्यामपुर रूट पर 30 से अधिक बसें चलाई जा रही है। इनमेंं कई बसें बिना लाइसेंस और फिटनेस प्रमाण पत्र के सड़क पर दौड़ रही है। बस के मोटरपार्ट्स कंडम होने के साथ ही शीशे, खिड़की व सीटें तक सलामत नहीं है। कई बसोंं में सीटों के पास कटी हुई टीन और नुकीली कीलें निकल रही है। भेड़-बकरी जैसे जानवरोंं को भी बसों में बैठाने से परहेज नहीं करते हैं। गौर करने वाली बात यह है कि विजयपुर क्षेत्र में पिछले साल हुई भीषण बस दुर्घटना में चार लोगों की मौत तथा दर्जनभर लोगों के गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Murena News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: बसों में ठूंस-ठूंसकर भर रहे सवारियां हादसे का खतरा, अफसर नहीं देते ध्यान
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Murena

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×