• Hindi News
  • National
  • Porsa News Mp News No Sting On Black Marketing Of Stamps Four To Five Times More Money To Buy Stamps

स्टांप की कालाबाजारी पर नहीं अंकुश, चार से पांच गुना अधिक पैसा देकर खरीदने पड़ रहे स्टांप

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
वेंडर 50 व 100 के स्टांप पर वसूल रहे दोगुना, 10 व 20 के स्टांप पर चार से पांच गुना अधिक पैसा

भास्कर संवाददाता | अंबाह/पोरसा

अंबाह और पोरसा तहसील में 10 और 20 रुपए का स्टांप चार से पांच गुना और 50 व 100 रुपए के स्टांप पर दोगुना अधिक पैसा देकर खरीदना पड़ रहा है, जबकि वेंडरों द्वारा अधिक पैसा लेने को लेकर कई बार ग्रामीणों सहित अन्य लोगों ने राजस्व अधिकारियों से लिखित में शिकायत की, उसके बाद भी वेंडर मनमानी से बाज नहीं आ रहे हैं। जबकि वेंडरों को स्टांप बेचने पर शासन द्वारा कमीशन दिया जाता है। अधिकारियों की अनदेखी के कारण लोगों को मुंह मांगे पैसा वसूला जा रहे हैं जिसकी वजह से लोग काफी परेशान हैं।

बता दें कि जिला कोषालय द्वारा अंबाह तहसील में स्टांप बेचने के लिए 20 लाइसेंस दिए हैं, वहीं पोरसा में 16 लोगों काे लाइसेंस दिए गए हैं। जिससे तहसील में आने वाले लोगों को किसी प्रकार की परेशानी न हो, साथ ही मूल्य रेट पर स्टांप मिल सके। लेकिन वेंडर स्टांप पर मनमानी पैसा वसूल रहे हैं। 10 व 20 के स्टांप 50 से 80 रुपए तक लिए जा रहे हैं। जब कोई विरोध करता है तो स्टांप वेंडर स्टांप देने से मना कर देते हैं। वहीं लोगों को मजबूर होकर अधिक पैसा देकर स्टांप खरीदना पड़ रहा है। जबकि लोगों ने कई बार सब-रजिस्टार से आवेदन देकर शिकायत भी की, फिर भी अधिकारी द्वारा स्टांप वेंडरों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की हुई। शिकायतकर्ताओं का कहना है कि वेंडरों की अधिकारियों के साथ सांठगांठ होने के कारण कार्रवाई नहीं की जाती है।

लोग करें शिकायत, हम करेंगे कार्रवाई

यदि वेंडर स्टांप खरीदने पर अधिक पैसा ले रहे हैं तो गलत है। जो लोग अधिक पैसा देकर स्टांप खरीद रहे है, वह कार्यालय आकर शिकायत करें। हम तत्काल वेंडर के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। उमेश कौरव, तहसीलदार अंबाह

खबरें और भी हैं...