एक महीने लेट चालू होगा पांटून पुल, 150 गांवों के लोग 120 किमी फेरा लगाकर जा रहे यूपी-राजस्थान

Murena News - पांटून पुल के पास डूबे स्टीमर काे निकालने की कवायद करते कर्मचारी। इस बार अक्टूबर महीने में नहीं बन पाएगा...

Bhaskar News Network

Oct 12, 2019, 08:35 AM IST
Morena News - mp news pantoon bridge will be started a month late people of 150 villages going 120 km round up rajasthan
पांटून पुल के पास डूबे स्टीमर काे निकालने की कवायद करते कर्मचारी।

इस बार अक्टूबर महीने में नहीं बन पाएगा पांटून पुल

वर्तमान में चंबल का जलस्तर बढ़ा हुआ है। इसके अलावा बीच-बीच में कोटा बैराज से पानी भी छोड़ा जा रहा है। ऐसे में पांटून पुल बनाने में काफी मुश्किल होगी। जानकारों का कहना है कि पांटून पुल को तैयार करने में कम से कम पंद्रह दिन का समय लगता है। ऐसे में अक्टूबर माह के अंत तक भी पांटून पुल बनाया जाना संभव नहीं है।

120 किलोमीटर का फेरा लगाकर यूपी व राजस्थान जा रहे लोग

अंबाह-पोरसा क्षेत्र के लोगों को उत्तर प्रदेश व राजस्थान के शहर (आगरा, शमशाबाद, फिरोजाबाद आदि) में जाने के लिए वर्तमान में 120 किलोमीटर का फेरा लगाकर मुरैना-धौलपुर होते हुए जाना पड़ रहा है। जबकि पांटून पूल के रास्ते इन शहरों की दूरी 50 से 60 किलोमीटर से अधिक नहीं होती है।

4 माह तक बंद रहता है पांटून पुल

हर साल मानसून की दस्तक से पूर्व 15 जून को पांटून पुल खोल दिया जाता है। क्योंकि बारिश होने पर चंबल नदी का जलस्तर बढ़ जाता है। इसलिए सुरक्षा की दृष्टि से 15 अक्टूबर यानि चार महीने तक पुल से आवागमन बंद रहता है। हालांकि यात्रियों की सुविधा की दृष्टि से इस अवधि में चंबल नदी में स्टीमर का संचालन किया जाता है, लेकिन बीती तीन पूर्व स्टीमर डूब जाने से यहां आवागमन पूरी ठप है।

पुल तक पहुंचने की सड़क क्षतिग्रस्त

चंबल नदी में बाढ़ आने के कारण पांटूल पुल तक पहुंचने का पक्का सड़क मार्ग पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका है। ऐसे में लोगों को पुल तक पहुंचने में काफी परेशानी होगी। क्योंकि चंबल नदी का रेत गीला होने के कारण न केवल वहां वाहन फंस जाएंगे।

X
Morena News - mp news pantoon bridge will be started a month late people of 150 villages going 120 km round up rajasthan
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना