विज्ञापन

नियुक्तियों में फर्जीवाड़ा जिलेभर में आशा और सहयोगिनी की भर्ती प्रक्रिया जांच के दायरे में

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 04:01 AM IST

Murena News - कलेक्टर प्रियंका दास द्वारा मुरैना शहरी क्षेत्र की 23 आशा कार्यकर्ताओं की नियुक्तियां निरस्त किए जाने के बाद...

Morena News - mp news recruitment process for asha and co operative in the area of fraud in appointments
  • comment
कलेक्टर प्रियंका दास द्वारा मुरैना शहरी क्षेत्र की 23 आशा कार्यकर्ताओं की नियुक्तियां निरस्त किए जाने के बाद जिलेभर में आशा व सहयोगिनी की भर्ती प्रक्रिया जांच के दायरे में आ गई है। इसके पीछे वजह भी है। अंबाह ब्लॉक के खड़ियाहार व मुरैना ब्लॉक के नूराबाद क्षेत्र में वर्ष 2018 में हुई आशा कार्यकर्ताओं की भर्ती के दौरान जो चयन सूची बनी, उसमें पात्रों के नाम काटकर हाथ से अपात्रों के नाम जोड़ दिए गए। जिन अपात्रों के नाम जोडे गए, उनमें कई दूसरे राज्यों में रहती हैं और कई के मैरिट में नंबर कम थे। इसकी बाकायदा जनसुनवाई व सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायतें हुईं लेकिन कार्रवाई आज तक नहीं हुई।

बता दें कि सीएमएचओ दफ्तर में वर्षों से पदस्थ बाबू इस मामले में गड़बड़ी कर रहे हैं। नियमानुसार आशा कार्यकर्ताओं की भर्ती के लिए संबंधित पंचायतों के सरपंच/निकायों के पार्षदों द्वारा बाकायदा ठहराव प्रस्ताव कर प्रतिवेदन बीएमओ ऑफिस को भेजा जाता है। बीएमओ के अनुमोदन पर ही इनकी नियुक्तियां सीएमएचओ ऑफिस द्वारा की जाती हैं, लेकिन मुरैना में अंबाह, खड़ियाहार व नूराबाद ब्लॉक में बीएमओ ऑफिस को दरकिनार कर सीधे सीएमएचओ ऑफिस से ही ऑर्डर जारी कर दिए गए। जब फाइनल सूची जारी हुई तो पात्रों के नाम गायब थे। इसके बाद इस मामले की शिकायतें हुईं लेकिन जांच के नाम पर पूरा मामला अटका हुआ है।

आगरा में ससुराल और मेरिट में अंक भी कम; चयन सूची में पात्रों के नाम काटकर हाथ से जोड़ दिए अपात्रों के नाम

एक दिन पहले ही कलेक्टर ने निरस्त की हैं 23 नियुक्तियां, नूराबाद-खड़ियाहार व अंबाह में भी नियम विरुद्ध हुईं भर्तियां

इन चार उदाहरणों से समझिए नियुक्तियों में कैसे की जा रही धांधली

1. नंदोल का पुरा पंचायत के रूपाहटी गांव की आबादी 1200 है। यहां आशा कार्यकर्ता तारादेवी वर्ष 2006 से पदस्थ हैं। एक हजार की आबादी पर एक आशा कार्यकर्ता की नियुक्ति का प्रावधान है लेकिन सीएमएचओ ने पंचायत का ठहराव प्रस्ताव न होने के बाद भी 31 मार्च 2018 को आदेश क्रमांक 688 के जरिए सोमवती प|ी आलेंद्र सिंह की नियुक्ति द्वितीय आशा कार्यकर्ता के रूप में कर दी। तारादेवी ने इसकी शिकायत सीएमएचओ ऑफिस में अगस्त 2018 में की लेकिन सुनवाई नहीं हुई।

2. नरहेला पंचायत के डंगरियापुरा निवासी मुन्नी कुशवाह ने आशा कार्यकर्ता पद के लिए आवेदन किया था, लेकिन सीएमएचओ ऑफिस से मुन्नी कुशवाह के बजाय दीपा पुत्री बैजनाथ जादौन की नियुक्ति कर दी गई। दीपा की उत्तरप्रदेश के आगरा में शादी हो चुकी है। बिना जांच-पड़ताल के स्वास्थ्य विभाग द्वारा उनकी नियुक्ति आदेश जारी कर दिए गए हैं।

3. सबलगढ़ तहसील की संतोषपुर पंचायत में कुआतोर निवासी वर्षा जादौन ने कटघर पंचायत में आशा सहयोगिनी पद के लिए आवेदन किया था, लेकिन वर्षा की जगह सुलेखा त्यागी की नियुक्ति सहयोगिनी के रूप में कर दी गई। वर्षा ने इस संबंध में जनसुनवाई व कमिश्नर ऑफिस में भी शिकायत कर आरोप लगाया था कि उसका नाम मनगढ़ंत तरीके से हटाकर सुलेखा की नियुक्ति की गई है। कमिश्नर ऑफिस से 8 अगस्त 2018 को सीएमएचओ को पत्र भेजकर शिकायत के संबंध में स्पष्टीकरण भी मांगा गया लेकिन आज तक इस नियुक्ति की न जांच हुई न कोई कार्रवाई।

4. अंबाह ब्लॉक की कमतरी पंचायत के ग्राम मोहर सिरावली में आशा सहयोगिनी की भर्ती होनी थी। इस पद के लिए गांव की ही आशा कार्यकर्ता पूनम प|ी कृष्णपाल सिंह तोमर ने आवेदन किया, लेकिन पूनम की जगह सीएमएचओ ऑफिस से पड़ोस के गांव पंचमपुरा की आशा कार्यकर्ता रूमा प|ी राजेश की भर्ती आदेश अप्रैल 2018 में जारी कर दिए गए, जबकि इस पद पर भर्ती के लिए जो मैरिट सूची बनी उसमें पूनम के 53 % अंक हैं और रूमा के मात्र 49 % अंक। बावजूद इसके यह नियुक्ति कर दी गई।

भर्ती प्रक्रिया निरस्त करने की सिफारिश

भर्ती प्रक्रिया में गड़बड़ी की शिकायतों के बाद कलेक्टर कार्यालय द्वारा एक जांच समिति गठित की गई। इस समिति ने भी पूरी भर्ती प्रक्रिया को संदिग्ध माना। कलेक्टर कार्यालय से 24 जनवरी 2019 को जारी पत्र क्रमांक 812 में सीएमएचओ मुरैना को पत्र जारी कर कहा गया है कि पूरी भर्ती प्रक्रिया नियम विरुद्ध की गई है। पत्र में कहा गया है कि भर्ती प्रक्रिया में नियमों का पालन न करते हुए न तो विज्ञप्ति जारी की गई न प्रोसीडिंग लिखी गई। साथ ही पत्र में सीएमएचओ को चेतावनी दी गई है कि अगर शासन के निर्देशों का पालन नहीं किया जाएगा तो आपके विरुद्ध कार्रवाई हेतु भी शासन को लिखा जाएगा।

हम सभी भर्तियों की करा रहे हैं जांच


X
Morena News - mp news recruitment process for asha and co operative in the area of fraud in appointments
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन