• Hindi News
  • Mp
  • Murena
  • Morena News mp news sewer company dug man hole for second time in 25 days school vehicles stuck on uprooted roads

सीवर कंपनी ने 25 दिन में दूसरी बार खोदे मैन होल, उखड़ी सड़कों पर फंस रहे स्कूल वाहन

Murena News - सीवर प्राैजेक्ट पर काम कर रही कंपनी शहर के लोगों के लिए आए दिन नई मुसीबत खड़ी कर रही है। शुक्रवार को पुरानी हाउसिंग...

Oct 12, 2019, 08:31 AM IST
सीवर प्राैजेक्ट पर काम कर रही कंपनी शहर के लोगों के लिए आए दिन नई मुसीबत खड़ी कर रही है। शुक्रवार को पुरानी हाउसिंग काॅलोनी के मैनहोल में एक निजी स्कूल की बस फंसने से बच्चे एक घंटे बिलंव से स्कूल पहुंचे। ऐसे सीन शहर में अन्य देखने पर भी देखने को मिल रहे हैं लेकिन नगर निगम के अफसर सीवर कंपनी के कारिंदों को काम के मानकों का पालन कराने के प्रति पाबंद नहीं कर रहे हैं।

शहर की पुरानी हाउसिंग काॅलोनी में सीवर कंपनी ने गुरुवार को पूर्व पार्षद हरी सिंह सिकरवार की कोठी के सामने व उसके पास वाले चौराहे के मैनहोल खोल दिए। जेसीबी मशीन से मैनहोल के आस-पास की मिट्‌टी हटा दिए जाने से वहां आठ वर्गफीट लंबे-चौड़ी क्षेत्र की जमीन पर सड़क उखड़ गई है। दोनों साइटों पर काम करने के दौरान ठेकेदार की लेबर ने संबंधित क्षेत्र काे रेड रिबन लगाकर एरिया सुरक्षित नहीं किया और ना ही वहां सूचनात्मक ऐसा कोई बोर्ड लगाया जिससे वाहनों को डायवर्ट होने में सुविधा रहे। नतीजा सबके सामने था कि शुक्रवार की सुबह 7 बजे एक स्कूल की रूट क्रमांक 4 की बस बच्चों को लेकर हरी सिंह पार्षद की कोठी के पास पहुंच रही थी उससे पहले ही सीवर मैनहोल के गड्‌ढ़े में फंस गई। ड्राइवर मुरली ने एक घंटे मशक्कत के बाद भी बस को गड्‌ढे से बाहर नहीं निकाल पाया। बाद में अन्य वाहन की मदद से स्कूल के बच्चे एक घंटे की देरी से स्कूल पहुंच सके। इससे पहले रात को इसी स्थान पर एक स्काॅर्पियों भी फंस गई जिसे डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद गड्‌ढे से बाहर निकाला जा सका।

वहीं शहर की पाॅश कालोनियों में शुमार पुरानी हाउसिंग काॅलोनी की सड़क को सीवर कंपनी के कारिंदों ने बीते 25 दिन में दूसरी बार खोदा है। मैनहोल ठीक करने के नाम पर जेसीबी से सड़क की खुदाई के कारण बड़े क्षेत्र में एक-एक फीट के अंदर तक सड़क खुद जाने से दो पहिया व चार पहिया वाहन फंस रहे हैं। लेकिन निर्माण एजेंसी काम वाली साइटों पर फैंसिंग करके संबंधित स्थान को सुरक्षित नहीं कर रही है। खास बात यह है कि नगर निगम के इंजीनियर भी ठेकेदार को इस बात के लिए पाबंद नहीं कर रहे हैं कि निर्माण स्थल पर सुरक्षा मानकों को सुनिश्चित करना उनकी जिम्मेदारी व टेंडर की शर्तों में शामिल है। इसका लाभ उठाकर ठेकेदार शहर के 25 वार्डों में सीवर बिछाने व उसके बाद उखड़ी सड़कों को माेटरबेल करने का काम मनमाने तरीके से कर रहा है।

पुरानी हाउसिंग कालोनी के मैनहोल में फंसी बस।

बारिश बंद लेकिन एमएस रोड पर डामर नहीं

शहर में बैरियर से लेकर हाईस्कूल चौराहे तक एमएस रोड पर डामर बिछाने का काम सीवर कंपनी को करना है। कंपनी का कहना था कि बारिश के कारण हॉट मिक्स प्लांट शुरू नहीं हो पा रहा है। लेकिन बारिश बंद होने के पांच दिन भी सीवर कंपनी ने एमएस रोड पर डामर कराने की काम शुरू नहीं किया है। इस हाल में एमएस रोड का काफी बड़ा हिस्सा मोटरेबल नहीं होने से सबसे ज्यादा परेशानी स्कूल बसों व एम्बुलेंसों को हो रही है। गौरतलब है कि एमएस रोड पर सीवर लाइन बिछाने का काम तीन महीने पहले पूरा हो चुका है।

सर्विस रोड न बनने से उठ रहे धूल के गुबार

फ्लाईओवर के दोनों ओर पक्की सर्विस रोड का निर्माण नहीं होने से बीते दो महीने से हाईवे पर धूल के गुबार उठ रहे हैं। इससे बैरियर क्षेत्र के दुकानदारों समेत कमिश्नर बंगला प्रभावित है लेकिन फ्लाईओवर के निर्माण में लगी मंगलम बिल्डकॉन कंपनी अक्टूबर के दूसरे सप्ताह तक डामरीकृत सर्विस रोड तैयार नहीं करा सकी है। इस आलम स्कूल वैन में सवार होकर जाने वाले बच्चों को मुंह पर मास्क लगाकर जाना पड़ रहा है। सर्विस रोड बनाने के संबंध में कलेक्टर व एसपी को ठेकेदार पर दबाव बनाने की जरूरत है लेकिन दोनों ही अधिकारी इस मामले में उदासीन हैं।

साइट पर नहीं पहुंच रहे इंजीनियर

मेयर इन काउंसिल की बैठक में तय हुआ था कि शहर में जो भी निर्माण कार्य चल रहे हैं उनकी साइट पर इंजीनियर उपस्थित रहेंगे। लेकिन इस आदेश के दो महीने बाद तक कोई भी इंजीनियर, निर्माण स्थल पर पहुंचकर ठेकेदार का मार्गदर्शन नहीं कर रहा है और ना ही काम की गुणवत्ता सुनिश्चित करने में रुचि ले रहा है।

निर्माण एजेंसी पर कार्रवाई करेंगे


X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना