आचार संहिता का असर: महावीर व परशुराम जयंती पर चल समारोह, रैली निकालने पर रोक

Murena News - प्रशासन ने शहर में वाहन रैली व चल समारोह की अनुमति देने से किया इंकार भास्कर संवाददाता|मुरैना लोकसभा चुनाव की...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:26 AM IST
Morena News - mp news the effect of the code of conduct mahavir and parashuram jayanti on the ongoing ceremony the ban on the withdrawal of the rally
प्रशासन ने शहर में वाहन रैली व चल समारोह की अनुमति देने से किया इंकार

भास्कर संवाददाता|मुरैना

लोकसभा चुनाव की आचार संहिता के चलते प्रशासन ने धार्मिक या सामाजिक कार्यक्रम के दौरान शहर की सड़कों पर रैली व चल समारोह निकालने की अनुमति पर रोक लगा दी है। इससे जैन समाज महावीर जयंती के अवसर चल समारोह नहीं निकाल पाएंगे। वहीं ब्राह्मण समाज परशुराम जयंती पर वाहन रैली निकालने की अनुमति नहीं मिलने नाराज हो गया है। यहां बता दें कि 17 अप्रैल को जैन समाज महावीर जयंती मनाएगा, वहीं 7 मई को ब्राह्मण समाज परशुराम जयंती मनाए जाने की तैयारी कर रहा है।

मंगलवार को जैन समाज ने निकाली प्रभात फेरी: जैन समाज ने महावीर जयंती से एक दिन पूर्व मंगलवार को सुबह 7 बजे बड़े जैन मंदिर से प्रभात फेरी निकाली। यह रैली स्टेशन रोड, हनुमान चौराहा, लोहिया बाजार होते हुए बड़े जैन मंदिर लौटी। जहां जैन समाज महावीर स्वामी की पूजा-अर्चना की। शाम के समय बड़े जैन मंदिर में भजन-संकीर्तन एवं आरती का आयोजन किया गया। प्रभात फेरी में महावीर जयंती के आयोजक पदम चंद जैन, पार्श्वनाथ दिगंबर बड़े जैन मंदिर कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र भंडारी, पदम चौधरी, नितिन जैन, ओमप्रकाश जैन, धर्मेंद्र जैन आदि प्रमुख रूप से शामिल थे।

शांतिपूर्ण ढंग से निकालेंगे चल समारोह: महावीर जयंती के संयोजक पदमचंद्र जैन ने बताया कि 17 अप्रैल को महावीर जयंती पर चल समारोह न निकालकर महावीर स्वामी की प्रतिमा को छोटे जैन मंदिर तक लाया जाएगा। इस आयोजन के लिए जैन समाज के सभी लोग बड़े जैन मंदिर में एकत्रित होंगे। जहां से वे भगवान महावीर स्वामी की प्रतिमा के साथ शंकर बाजार, स्टेशन रोड होते हुए लोहिया बाजार स्थित छोटे जैन मंदिर पहुंचेंगे। जैन समाज का कहना है कि चल समारोह के दौरान बैंड-बाजे का उपयोग नहीं किया जाएगा तथा पूरा धार्मिक आयोजन शांतिपूर्ण ढंग से किया जाएगा।

6 मई निकालेंगे वाहन रैली: इस संबंध में ब्राह्मण समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव शर्मा का कहना है कि भगवान परशुराम जयंती 7 मई को मनाई जाएगी। इसके एक दिन पहले 6 मई को ब्राह्मण समाज शहर में वाहन रैली का आयोजन करेगा। हालांकि इसके लिए प्रशासन से अनुमति मांगी गई है। प्रशासन ने तीन दिन पहले अनुमति देने की बात कही है। लेकिन हमारा ऐलान है कि अनुमति मिले या न मिले ब्राह्मण समाज वाहन रैली अवश्य निकालेगा। सनातन काल से मनाई जा रही परशुराम जयंती जैसे धार्मिक आयोजन में सरकारी आदेशों का कोई महत्व नहीं है।

निर्वाचन आयोग ने रैलियों को किया प्रतिबंधित


X
Morena News - mp news the effect of the code of conduct mahavir and parashuram jayanti on the ongoing ceremony the ban on the withdrawal of the rally
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना