• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Nagda
  • पटवारी के लिए चयनित निकिता के घर पहुंचे एसडीएम, कहा- अभी लक्ष्य पूरा नहीं हुआ, आपको पीएससी क्लियर करना है
--Advertisement--

पटवारी के लिए चयनित निकिता के घर पहुंचे एसडीएम, कहा- अभी लक्ष्य पूरा नहीं हुआ, आपको पीएससी क्लियर करना है

मंदसौर जिले में 23वीं रैंक पर पटवारी के लिए चयनित श्रीराम कॉलोनी की निकिता धाकड़ की जिद की कहानी सुनने शुक्रवार...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 05:35 AM IST
मंदसौर जिले में 23वीं रैंक पर पटवारी के लिए चयनित श्रीराम कॉलोनी की निकिता धाकड़ की जिद की कहानी सुनने शुक्रवार दोपहर एसडीएम रजनीश श्रीवास्तव उनके घर पहुंचे। इस दौरान चर्चा में एसडीएम ने कहा पटवारी बन गए हो तो इसका मतलब ये नहीं की लक्ष्य साध लिया। मंजिल अभी दूर है। जिस तरह पटवारी बनने के लिए मेहनत की अब प्रशासनिक अधिकारी बनने के लिए तैयार हो जाओ। पीएससी की तैयारी करो... इसके लिए दिन रात एक कर दो। उन्होंने पिता शांतिलाल धाकड़ को जिम्मेदारी सौंपी कि बेटी को अफसर बनाने के लिए उन्हें भी मेहनत करना है। एसडीएम ने निकिता के साथ माता धीरजबाला धाकड़ व भाई आदित्य धाकड़ का भी स्वागत किया।

डिग्रियां जानकर चौंके, कहा- इतनी तो मेरे पास भी नहीं

एसडीएम ने निकिता से उनकी पढ़ाई के बारे में जाना। निकिता ने बताया कि वे एमए समाजशास्त्र में गोल्ड मेडलिस्ट, एमए भूगोल में कॉलेज मैरिट व एमएससी में कॉलेज प्रथम रह चुकी है। इतना डिग्रियों के बारे में सुनकर एसडीएम दंग रह गए। उन्होंने कहा इतनी डिग्रियां तो मेरे पास भी नहीं है। निकिता की पढ़ाई से खुश एसडीएम ने उन्हें उनका पेन भी दिया। यहां के बाद एसडीएम ने सीएस परीक्षा में ऑल इंडिया स्तर पर तीसरी रैंक हासिल करने वाली मानसी करंदीकर की माता अर्चना करंदीकर का भी सम्मान किया। इस दौरान एसडीएम के अलावा प्रेस क्लब अध्यक्ष प्रकाश जैन, प्रमोद शुक्ला, पवन जाट, चेतन नामदेव, अनुराग दुबे, जितेंद्र चौहान, विशाल भाट, राहुल मीणा, रोनी अधिकारी, विजय प्रजापत, शिवानी वर्मा आदि मौजूद थे।