Hindi News »Madhya Pradesh »Nagda» सफेद और लाल फाइल के प्रयोग में अव्वल, 1 साल में निपटाए 173 केस मई 2017 में हुई थी शुरुआत, भोपाल में अब अमल

सफेद और लाल फाइल के प्रयोग में अव्वल, 1 साल में निपटाए 173 केस मई 2017 में हुई थी शुरुआत, भोपाल में अब अमल में आया तरीका

हुजूर तहसील का प्रयोग भले ही भोपाल में अब शुरू हुआ है, लेकिन नागदा तहसील और एसडीएम कार्यालय में एक साल से इस प्रयोग...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 06:15 AM IST

हुजूर तहसील का प्रयोग भले ही भोपाल में अब शुरू हुआ है, लेकिन नागदा तहसील और एसडीएम कार्यालय में एक साल से इस प्रयोग पर काम कर रहा है। लाल और सफेद रंग की फाइल में रिकॉर्ड रखने का प्रयोग इतना सफल हुआ है कि अब तक 1 से 5 साल तक के प्रकरणों की 173 फाइलों का निपटारा भी कर दिया गया है।

भास्कर से चर्चा में एसडीएम रजनीश श्रीवास्तव ने बताया यह व्यवस्था 2017 से ही शुरू कर दी गई थी। । बड़ी बात यह है कि इस प्रयोग से 6 महीने में ज्यादातर प्रकरण निपट भी चुके हैं। एसडीएम श्रीवास्तव ने बताया मई 2017 वे यहां पदस्थ हुए थे। तब उन्होंने कर्मचारियों से लाल और सफेद रंग की फाइलों में रिकॉर्ड रखवाना शुरू कर दिया था। जिसकी वे खुद मॉनिटरिंग भी करते थे। समाप्त हुए प्रकरणों में 107 फाइलें एक वर्ष से अधिक और 66 पांच वर्ष पुरानी थी। निपटाए गए अधिकांश प्रकरण जमीन संबंधित मामलों में की गई अपील के हैं।

इसलिए शुरू की व्यवस्था

कार्यालय में ज्यादातर प्रकरण जमीन संबंधित आते हैं। जिनके दस्तावेज अलग-अलग रंग की फाइलों में रखने से यह पता नहीं चलता कि कौन सा प्रकरण कितना पुराना है। इसीलिए एसडीएम ने यह प्रयोग करते हुए कर्मचारियों से लाल और सफेद रंग की फाइल में दस्तावेज रखवाना शुरू किया। दस्तावेज रखवाने के बाद वे खुद कर्मचारियों से इसका फीडबैक भी लेते थे। अब स्थिति यह है कि अधिकारियों के साथ कर्मचारियों को भी आसानी से पता चलता है कि कौन सा प्रकरण कितना पुराना है। जिसका सही समय पर निराकरण भी हो रहा है।

पटवारियों के नंबर भी अंकित

गौरतलब है कि तहसील में करीब 36 पटवारी और 3 आरआई हैं। इनमें से कब कौन कहां रहता है इसकी जानकारी के लिए कार्यालय में सभी के नंबर भी सार्वजनिक किए हैं। इससे अधिकारी के साथ आम व्यक्ति भी इन्हें कॉल कर प्रकरण की प्रगति की जानकारी ले सकता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Nagda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×