• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Nagda
  • आज होने वाला वार्षिकोत्सव निरस्त, अंतिम समय तक अतिथियों को लेकर गफलत में रहा प्रबंधन
--Advertisement--

आज होने वाला वार्षिकोत्सव निरस्त, अंतिम समय तक अतिथियों को लेकर गफलत में रहा प्रबंधन

स्वामी विवेकानंद सरकारी कॉलेज में गुरुवार को आयोजित वार्षिकोत्सव निरस्त हो गया है। नेताओं को अतिथि बनाने के फेर...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 07:15 AM IST
स्वामी विवेकानंद सरकारी कॉलेज में गुरुवार को आयोजित वार्षिकोत्सव निरस्त हो गया है। नेताओं को अतिथि बनाने के फेर में उलझा कॉलेज प्रबंधन बुधवार शाम तक यह तय नहीं कर पाया कि भाजपा और कांग्रेस से अतिथियों की संख्या कितनी रखी जाए।

छात्रसंघ अध्यक्ष सोनम कुरैशी ने कहा दोनों दलों से समान संख्या में अतिथि बुलाए जाएं। मंगलवार को इस पर सहमति भी बन गई थी, आमंत्रण पत्र छप चुके थे। इसमें कुल 5 अतिथि थे, जिसमें कांग्रेस से दिलीपसिंह गुर्जर, सुबोध स्वामी, नरेंद्र गुर्जर, भाजपा से लालसिंह राणावत, नपाध्यक्ष अशोक मालवीय शामिल थे। बुधवार को प्रबंधन ने दूसरा आमंत्रण छपवाया, जिसमें अतिथि बढ़कर 10 हो गए। इसमें पूर्व आमंत्रित अतिथियों के साथ ही विधायक दिलीपसिंह शेखावत, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य डॉ. तेजबहादुरसिंह चौहान, मंडल अध्यक्ष राजेश धाकड़, नपा उपाध्यक्ष सज्जनसिंह शेखावत, भाजयुमो जिलाध्यक्ष सी.एम. अतुल के नाम भी जुड़े। छात्रसंघ ने आपत्ति ली। अध्यक्ष कुरैशी कहा नेताओं को बुलाने पर एक राय नहीं तो बतौर मुख्य अतिथि शहीद के परिजन को ही आमंत्रित किया जाए। लेकिन प्रभारी प्राचार्य डॉ. शीला ओझा इस पर सहमत नहीं हुईं। नतीजतन शाम 4.30 बजे कॉलेज के नोटिस बोर्ड पर वार्षिकोत्सव निरस्त करने की सूचना चस्पा कर दी गई।

प्राचार्य डॉ. ओझा बोलीं- मैं कुछ नहीं कह सकती

प्राचार्य डॉ.शीला ओझा ने कहा छात्रसंघ प्रभारी के आवेदन पर कार्यक्रम निरस्त किया है। दो-दो आवेदन और अतिथियों की संख्या के संबंध में मैं आपको कुछ नहीं बोल सकती।

छात्रसंघ प्रभारी मिश्रा बोले आमंत्रण से प्राचार्य ने रोका

छात्रसंघ प्रभारी डॉ. भुवनेश मिश्रा ने कहा आमंत्रण छपने के बाद उसे बंटवाने से प्राचार्य ने उन्हें रोका। बुधवार को उन्होंने अतिथि बढ़ाने को कहा। छात्रसंघ से चर्चा की मगर सहमति नहीं बनी। प्राचार्य ने मेरे अनुशंसा पत्र पर कार्यक्रम निरस्त कर दिया।

ऐसे चला हाई वोल्टेज ड्रामा