विज्ञापन

पिता नहीं थे, 4 कन्याओं के पिता बनकर किया कन्यादान

Dainik Bhaskar

Feb 14, 2019, 04:52 AM IST

Nagda News - तराना। तहसील मुख्यालय से 20 किमी दूर ग्राम कायथा के बर्तन व्यवसायी ने 4 कन्याओं का विवाह खुद के खर्च पर करवाया।...

Tarana News - mp news father was not a father daughters made daughters
  • comment
तराना। तहसील मुख्यालय से 20 किमी दूर ग्राम कायथा के बर्तन व्यवसायी ने 4 कन्याओं का विवाह खुद के खर्च पर करवाया। दरअसल इन कन्याओं के पिता नहीं थे, इस पर कायथा के राजेश कुमार सोनी ने पिता बनकर चारों को बेटी मानकर कन्यादान किया। सोनी की कायथा में ही चांदी-सोने एवं बर्तन की दुकान है।

सोनी ने बताया कि उनके दो पुत्र हैं, पुत्री नहीं है। कन्या का विवाह करने की इच्छा हमेशा से ही मन में थी। कन्या विवाह आयोजना की प्रेरणा ग्राम लक्ष्मीपुरा स्थित संत आसाराम बापू के आश्रम से मिली। विवाह आयोजन रविवार को निवास पर ही किया गया। दो दिन तक चले आयोजन में 7 लाख रुपए खर्च कर कन्याओं को गृहस्थी के सामान के साथ ही 5 आभूषण भी उपहार स्वरूप भेंट किए।चार कन्याओं में से दो बहनों की माता की मजदूरी करती हैं। चारों कन्याओं के विवाह की जानकारी सोनी को मिली। इसके बाद सामूहिक विवाह करवाने का निर्णय लिया। पहली कन्या शेफाली पिता स्व. मोहन शर्मा माता प्रेम भाई निवासी कानवन जिला धार का विवाह लखन पिता ओमप्रकाश निवासी शाजापुर पचोर में हुआ। वहीं शिवानी पिता दिनेश सोनी निवासी पीपलरावां का विवाह पवन पिता शांतिलाल सोनी निवासी बिजलपुर (इंदौर ) के साथ हुआ। शिवानी के पिता 14 साल से लापता हैं।

विवाह आयोजन में नव दंपतियों को आशीर्वाद देते।

दोनों बहनों की माता मजदूरी करती है

इधर, कायथा निवासी सोना पिता स्व. शिवनारायण राठौड़ का विवाह विशाल पिता रतनलाल राठौर उमनी नागदा एवं बहन मीना का विवाह पवन पिता देवकरण राठौड़ निवासी फतेहाबाद के साथ हुआ। दोनों बहनों की माता मजदूरी करती है।

21 कन्याओं का विवाह कराना है : सोनी ने बताया कि वह आगे भी कन्या विवाह करवाएंगे। साथ ही एक साथ किस करने होगा सामूहिक विवाह कराने की तमन्ना है।

X
Tarana News - mp news father was not a father daughters made daughters
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन