• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Nagda
  • Nagda News mp news the team who had reached the ground to build the garden on bypass had to return the women standing in front of jcb had to return

बायपास पर गार्डन निर्माण के लिए जमीन पर कब्जा करने पहुंची टीम, जेसीबी के सामने खड़ी हुईं महिलाएं, लौटना पड़ा

Nagda News - बायपास पर कस्तूरबा छात्रावास के समीप गार्डन निर्माण कार्य शुरू करने गुरुवार को नगर पालिका, राजस्व और पुलिस बल...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:35 AM IST
Nagda News - mp news the team who had reached the ground to build the garden on bypass had to return the women standing in front of jcb had to return
बायपास पर कस्तूरबा छात्रावास के समीप गार्डन निर्माण कार्य शुरू करने गुरुवार को नगर पालिका, राजस्व और पुलिस बल मौके पर पहुंचा। जेसीबी से खुदाई शुरू करते ही आसपास के किसान व रहवासियों ने पहुंचकर विवाद शुरू कर दिया। किसानों का कहना था कि नोटिस के बिना ही उनकी निजी जमीन सहित श्मशान पर भी नपा कब्जा कर रही है। हालात यह थे कि महिलाएं व बच्चे जेसीबी के आगे खड़े हो गए। जब नपाकर्मी उन्हें समझाने पहुंचे तो महिलाओं ने उनकी काॅलर तक पकड़ ली। विरोध बढ़ा तो प्रशासन उल्टे पैर लौट गया।

बता दें कि 16 अप्रैल को भी प्रशासनिक अमला निर्माण कार्य शुरू कराने पहुंचा था, उस दौरान भी विवाद हुआ था। उसके बाद किसानों ने सीमांकन को लेकर आवेदन भी किया था, लेकिन प्रशासन ने सीमांकन नहीं किया और गुरुवार को दोबारा जमीन पर कब्जा लेकर निर्माण कार्य शुरू करने अमला गया था।

2 घंटे तक चलती रही प्रशासन व लोगों में बहस

दोपहर 12 बजे नपा के प्रभारी सीएमओ आबिद अली, इंजीनियर शाहिद मिर्जा, रईस, पटवारी अनिल शर्मा मय पुलिस बल के मौके पर पहुंचे थे। दल के मौके पर पहुंचते ही महिलाएं, बच्चे सभी एक साथ पहुंचे और बिना सीमांकन के खुदाई नहीं करने की मांग करने लगे। जब जेसीबी से खुदाई शुरू की गई तो सभी उसके आगे खड़े हो गए। विरोधकर्ताओं ने पटवारी शर्मा को भी खरी-खोटी सुनाई। महिलाओं ने उनके साथ मारपीट का आरोप तक लगाया। बाद में शर्मा ने तहसीलदार राजाराम करजरे को फोन पर पूरी जानकारी दी और अमला लौट गया।

यह है किसानों की मांग

क्षेत्र के बंटू चंद्रवंशी ने बताया सर्वे क्रमांक 294 गोचर भूमि है, जहां नपा द्वारा गार्डन बनाया जा रहा है। उसके पास गांव का पुराना श्मशान है, जहां बच्चों को दफनाया जाता है। साथ ही नाथ समाज की समाधियां हैं तो चंद्रवंशी समाज के कुल देवता का मंदिर भी है। नपा द्वारा खुदाई करने से बच्चों व नाथ समाज की समाधि में से कंकाल बाहर निकलने लगे हैं। आसपास किसानों की कृषि भूमि भी है। बिना सूचना के ही किसानों के बीच खेत में खुदाई की गई है। इससे किसानों की निजी भूमि भी जा रही है। निर्माण के पहले किसानों की जमीन व श्मशान का सीमांकन 1962 के रिकॉर्ड के अनुसार कराया जाए, जिससे किसानों को भी नुकसान न हो और समाधियों को भी क्षति न पहुंचे। इसके साथ ही किसानों को खेतों तक पहुंचने के लिए रास्ता व सिंचाई के लिए पाइप डालने की व्यवस्था की जाए।

95 लाख से होना है गार्डन का निर्माण

नागदा-जावरा बायपास स्थित कस्तूरबा छात्रावास के समीप राजस्व विभाग ने नपा को जमीन आवंटित की है। जहां नपा द्वारा 95 लाख की लागत से नए पार्क का निर्माण किया जाना है। इस पार्क में म्युजिकल फाउंटेन, किड्स प्ले जोन, योग और बुजुर्गों के लिए ध्यान केंद्र भी बनाया जाना है। पार्क का निर्माण करीब 5 बीघा में होना है।

जमीन पर बैठकर पटवारी दिखाने लगे रिकॉर्ड

जमीन पर कब्जे के विरोध में जेसीबी के सामने खड़ी हो गईं महिलाएं।

दोबारा जमीन पर कब्जे की कार्रवाई करेंगे


देखेंगे कि सीमांकन कराया जाए या नहीं


Nagda News - mp news the team who had reached the ground to build the garden on bypass had to return the women standing in front of jcb had to return
X
Nagda News - mp news the team who had reached the ground to build the garden on bypass had to return the women standing in front of jcb had to return
Nagda News - mp news the team who had reached the ground to build the garden on bypass had to return the women standing in front of jcb had to return
COMMENT