24 साल पहले लगाए पेड़ों में से काट डाले 107 हरे पेड़, राजस्व विभाग ने बनाया पंचनामा

Nagda News - जूना नागदा रोड स्थित सरकारी जमीन पर लगे 107 हरे पेड़ों को लकड़ी माफिया द्वारा रात के अंधेरे में काट दिया गया। पेड़ों काे...

Bhaskar News Network

Mar 17, 2019, 04:21 AM IST
Nagda News - mp news trees from trees planted 24 years ago 107 green trees revenue department made pankanama
जूना नागदा रोड स्थित सरकारी जमीन पर लगे 107 हरे पेड़ों को लकड़ी माफिया द्वारा रात के अंधेरे में काट दिया गया। पेड़ों काे काटने का क्रम लगभग 15 दिन से चल रहा है, वहीं कुछ पेड़ों को हाल ही में काटा गया है। शनिवार को तहसीलदार सुनील करवरे, राजस्व निरीक्षक मदनलाल उइके व पटवारी ने लगभग आधा किमी क्षेत्र में फैले जंगल का निरीक्षण किया तो अलग-अलग जगह से 107 हरे पेड़ कटे मिले। जिस पर अधिकारियों ने पंचनामा भी बनाया है। खास बात यह है कि लकड़ी माफिया ने बबूल, यूकेलिप्टस के साथ ही वट वृक्ष को भी नहीं छोड़ा है, जबकि वटवृक्ष को धार्मिक मान्यता होने से काटा नहीं जाता है।

एक दिन पहले ही जब्त की थी लकड़ियां

शुक्रवार को जूना नागदा रोड पर सड़क किनारे ही 6 यूकेलिप्टस के पेड़ काटने की सूचना प्रशासन को मिली थी। इस पर राजस्व विभाग ने मौके पर पहुंच बिना अनुमति के 6 यूकेलिप्टस काटने का पंचनामा बनाकर लकडियां जब्त की थी। जब्ती के बाद रात में लकडियां चोरी न हो जाए, इसलिए राजस्व विभाग ने दो चौकीदारों काे तैनात किया था। शनिवार सुबह इन लकड़ियों को जब्त कर निसर्ग उद्यान भेजा गया, लेकिन जंगल के अंदर कितने पेड़ कटे, इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। शनिवार को जब दोबारा शिकायत मिली, तब अधिकारियों ने कटे पेड़ों की गिनती की तो पता चला कि 107 हरे पेड़ों को माफियाओं ने काट दिया है।

जूना नागदा रोड स्थित जंगल से काटे गए पड़े के ठूंठ। इनसेट ताजे ठूंठ।

हरियाली के लिए लगाए थे पौधे, अब अवैध कटाई जारी

बता दें कि चंबल शुद्धिकरण योजना के तहत शहर से निकलने वाले गंदे पानी को चंबल में मिलने से रोकने के लिए नपा ने चेतनपुरा नाले पर बांध बनाया था। नाले की गंदगी को अलग कर पानी का उपयोग करने की योजना थी। इसके तहत ही जूना नागदा रोड किनारे सरकारी जमीन पर लगभग 24 साल पहले सैकड़ों पौधे लगाए गए थे और इस पानी से इन्हें सिंचित किया गया था, जो अब जंगल का रूप ले चुका है। इस जंगल से ही पेड़ों की कटाई अवैध रूप से हो रही है।

रात के अंधेरे में मशीन से काटे हरे पेड़

जूना नागदा रोड पर ईंट भट्टों का संचालन होता है, ऐसे में दिनभर मजदूरों की आवाजाही बनी रहती है। इसलिए लकड़ी माफियाओं द्वारा रात के अंधेरे में हरे बड़े-बड़े पेड़ों पर मशीन चलाई गई। इससे पेड़ जल्दी ही धराशायी हो गए और रात के अंधेरे में ही लकड़ियों को शिफ्ट भी कर दिया गया। इस वजह से जंगल के अंदर पेड़ों की कटाई के बारे में किसी को खबर तक नहीं लगी। जब लकड़ी माफियाओं ने सड़क किनारे के पेड़ काटना शुरू किए तो अवैध कटाई होने की जानकारी प्रशासन को लगी।

जांच कर रहे


Nagda News - mp news trees from trees planted 24 years ago 107 green trees revenue department made pankanama
X
Nagda News - mp news trees from trees planted 24 years ago 107 green trees revenue department made pankanama
Nagda News - mp news trees from trees planted 24 years ago 107 green trees revenue department made pankanama
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना