ये क्या हो रहा है...? जिस रामकी कंपनी को रासायनिक वेस्ट के निपटारे की जिम्मेदारी, उसने ही पीथमपुर तक बहाया घातक रसायन

Nagda News - उद्योगों में उत्पादन के बाद शेष रहे घातक रसायनों का प्रबंधन करने वाली पीथमपुर स्थित रामकी कंपनी की बड़ी लापरवाही...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 04:05 AM IST
Nagda News - mp news what is going on the ramky company which has the responsibility of settling the chemical waste
उद्योगों में उत्पादन के बाद शेष रहे घातक रसायनों का प्रबंधन करने वाली पीथमपुर स्थित रामकी कंपनी की बड़ी लापरवाही उजागर हुई है। मामला रविवार सुबह का है। औद्योगिक क्षेत्र स्थित एक केमिकल उद्योग से रासायनिक वेस्ट भरकर रामकी का एक वाहन पीथमपुर के लिए रवाना हुआ। इस वाहन से लगातार रासायनिक पदार्थ का रिसाव तेजी से हो रहा था। भास्कर टीम ने चालक को बताया भी, मगर उसने परवाह किए बगैर ही रिसाव बंद करने के लिए वाहन रोकना भी मुनासिब नहीं समझा। नतीजा औद्योगिक क्षेत्र से इंगोरिया रोड के उत्कृष्ट सड़क के रास्ते गुजरे इस वाहन से रिस रहा रसायन वाहन के पहिए पर गिरने से लोगों पर छींटे उड़ाता हुआ गुजरा। रास्ते भर सड़कों पर यह रसायन गिरता रहा। संभावना है कि पीथमपुर तक रिसाव होता रहा, जाे कि बड़ी लापरवाही है। बड़ा सवाल है कि लीकेज होने के बाद भी संबंधित उद्योग ने उक्त वाहन को इस स्थिति में उद्योग से बाहर कैसे जाने दिया, क्योंकि रासायनिक वेस्ट का परिवहन करने के कड़े मापदंड निर्धारित है।

लापरवाही अर्थात दुर्घटना

वेस्ट मैनेजमेंट एक्सपर्ट सुमीत मोहता ने बताया रासायनिक वेस्ट परिवहन करने के कड़े मापदंड हैं। परिवहन के दौरान किसी भी तरह का लीकेज नहीं होना चाहिए। यह जवाबदारी रसायन का प्रबंधन करने वाली कंपनी और उस उद्योग की भी है, जहां से यह रसायन निकला है। क्योंकि ऐसी स्थिति होने से बड़ा हादसा संभावित है। इससे पर्यावरण और जनजीवन पर भी विपरीत प्रभाव होता है।

उत्कृष्ट सड़क पर रासायनिक वेस्ट बहाता हुआ गुजरा रामकी कंपनी का वाहन।

Nagda News - mp news what is going on the ramky company which has the responsibility of settling the chemical waste
X
Nagda News - mp news what is going on the ramky company which has the responsibility of settling the chemical waste
Nagda News - mp news what is going on the ramky company which has the responsibility of settling the chemical waste
COMMENT