• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Narsinghgarh
  • मुआलिया खैदर में बिना अनुमति हरे-भरे पेड़ों को मशीन से काटा
--Advertisement--

मुआलिया खैदर में बिना अनुमति हरे-भरे पेड़ों को मशीन से काटा

एक तरफ शहरी क्षेत्र में हरियाली बढ़ाने के लिए पर्यावरण प्रेमी और संगठन मेहनत करके पौधों को रोपकर सींच रहे हैं। ...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 04:40 AM IST
एक तरफ शहरी क्षेत्र में हरियाली बढ़ाने के लिए पर्यावरण प्रेमी और संगठन मेहनत करके पौधों को रोपकर सींच रहे हैं।

दूसरी तरफ प्रशासन की अनभिज्ञता से ग्रामीण क्षेत्रों में धड़ल्ले से हरे पेड़ों की कटाई चल रही है। ताजा मामले में शहर से 5 किलोमीटर दूर मुआलिया खैदर गांव में रातों रात दर्जनों हरे भरे पेड़ों को मशीन की मदद से काट दिया गया। मामले की सूचना मिलने पर एसडीएम ने राजस्व विभाग की टीम को मौके पर भेजकर निरीक्षण करवाया। फिलहाल मामले की जांच कर रही है।

सार्वजनिक नाले और पट्टे की जमीन में लगे पेड़ों को बनाया निशाना

गांव में पट्टे की जमीन और सार्वजनिक नाले में लगे पुराने पेड़ों को निशाना बनाया गया है। फिलहाल प्रशासनिक टीम इस बात की जांच कर रही है कि पेड़ों को काटने में किसका हाथ है। जिस व्यक्ति के नाम पट्टा है, वह बुजुर्ग हैं और अपने घर में बीमार हालत में हैं।

पर्यावरण प्रेमी और संगठन मेहनत कर रोप रहे पौधे

गांव में बड़ी संख्या में पेड़ों की कटाई हो गई है ।

पानी की मांग की पर्यावरण कार्यकर्ताओं ने

शहरी क्षेत्र में वन विभाग की गणेश चौक पहाड़ी पर पिछले वर्ष रोपे गए पौधों को अब अतिरिक्त सिंचाई की जरूरत है। पौधरोपण अभियान को संचालित करने वाले स्वयंसेवी संगठन आईआरई-जंगल के सदस्यों ने बताया कि गर्मी शुरू होने से अब पौधों को ज्यादा पानी की जरूरत है।इस विषय में नगर पालिका सीएमओ पवन अवस्थी ने सप्ताह में दो बार सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध करवाने की बात कही है।

टीम को मुआयने के लिए भेजा था, जांच चल रही है