नरसिंहगढ़

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Narsinghgarh
  • जिस पाल से भारी वाहन भी नहीं निकलने चाहिए, वहां हो जाती है मशीनों से खुदाई
--Advertisement--

जिस पाल से भारी वाहन भी नहीं निकलने चाहिए, वहां हो जाती है मशीनों से खुदाई

नरसिंहगढ़ | स्थानीय प्रशासन और नगरपालिका शहर के ढांचे को लेकर कितने गंभीर हैं, यह परशुराम सागर की पाल पर जाकर देखा...

Dainik Bhaskar

Apr 28, 2018, 05:30 AM IST
नरसिंहगढ़ | स्थानीय प्रशासन और नगरपालिका शहर के ढांचे को लेकर कितने गंभीर हैं, यह परशुराम सागर की पाल पर जाकर देखा जा सकता है। पाल- यानी तालाब की रिटेनिंग वाल। करीब 300 साल पुराने तालाब की पाल का विशेष ध्यान रखने की जरूरत है। वैसे तो इस पर से भारी वाहन भी नहीं निकालने चाहिए, लेकिन पाल से धड़ल्ले से लोडिंग वाहन भी निकलते हैं और पाइप लाइन डालने या बिजली के पोल खड़े करने के नाम पर मशीनों से खुदाई भी होती है। कुछ महीने पहले ही जेसीबी से खुदाई की गई थी। इस बात पर किसी का ध्यान नहीं है कि अगर पाल क्षतिग्रस्त हुई तो तालाब की वजह से शहर को कितना बड़ा नुकसान पहुंच सकता है।

X
Click to listen..