• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Narwar
  • Narwar - भुजरिया तालाब की पार तोड़कर गड़रिया मोहल्ले के 50 घरों को डूबने से बचाया
--Advertisement--

भुजरिया तालाब की पार तोड़कर गड़रिया मोहल्ले के 50 घरों को डूबने से बचाया

भास्कर संवाददाता| पोहरी/भौंती/ रन्नौद पोहरी जनपद मुख्यालय की ग्राम पंचायत पोहरी में स्थित भुजरिया तालाब की पार...

Dainik Bhaskar

Sep 09, 2018, 04:31 AM IST
Narwar - भुजरिया तालाब की पार तोड़कर गड़रिया मोहल्ले के 50 घरों को डूबने से बचाया
भास्कर संवाददाता| पोहरी/भौंती/ रन्नौद

पोहरी जनपद मुख्यालय की ग्राम पंचायत पोहरी में स्थित भुजरिया तालाब की पार तोड़कर मोहल्ले वालों ने अपने 50 घरों को डूबने से बचाया है। स्थिति ये बनी कि लगभग आधी रात तक मोहल्ले के अधिकांश घरों में तालाब का पानी प्रवेश कर गया था। जिससे परेशान ग्रामीणों ने पहले प्रशासन को सूचना दी, लेकिन कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा तो उन्होंने तालाब की लगभग 5 फीट चौड़ा पार तोड़कर अपने घरों को डूबने से बचाया बल्कि जनहानि होने से भी बचा लिया है। ग्रामीणों का कहना था कि तालाब का जल स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है जिससे हमारे घरों पानी घुसने के अलावा घर डूबते जा रहे थे, जिसके चलते हमने तालाब की पार को तोड़ दिया है। गौरतलब यह है कि दैनिक भास्कर ने एक दिन पहले ही चेता दिया था कि अगर रात भर बारिश हुई तो गड़रिया मोहल्ला के 50 घरों में पानी भर जाएगा। इसके बाद भी प्रशासन ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया है।

लोगों की माने तो शुक्रवार की रात तक अधिकांश घरों में पानी प्रवेश कर गया था। जिससे 50 परिवारों की चिंताएं बढ़ गईं थीं। सूचना देने पर जब कोई नहीं आया तो सब लोग इकट्‌ठा होकर गैंती फावड़े लेकर निकले और सामूहिक रूप से रात 1 बजे तालाब की पार को लगभग 5 फीट तोड़ दिया था जिससे पानी दूसरी ओर निकल गया।

भुजरिया तालाब की पार तोड़ने के बाद बहता पानी।


मैंने निरीक्षण कर पार को चौड़ा करवाया है


मैंने ही एसडीएम को निर्देशित किया था


सतनवाड़ा सड़क किनारे बने घरों में भरा पानी

सतनवाड़ा एबी रोड से नरवर जाने वाले मार्ग निर्माण ठेकेदार द्वारा सड़क निर्माण के दौरा नाली नहीं बनाए जाने के कारण सड़क किनारे बने घरों में पानी भर गया है। जिससे घरों में रखा गृहस्थी का सामन खराब हो गया है। ग्रामीण सुरेश बंसल, करूआ कुशवाह, कालू राठौर, नारायण कुशवाह, कमलो जोगी आदि ने संयुक्त रूप से बताया है कि सतनवाड़ा-नरवर मार्ग निर्माण करने वाले ठेकेदार द्वारा सड़क बनाते समय महज एक साइड में नाली का निर्माण किया गया है। जिसके चलते हमारे घरों में बारिश का पानी भर गया है। जिससे न केवल गृहस्थी का समान खराब हो गया है। बल्कि रात भर लोग सो नहीं सके हैं। वहीं रात भर घरों में पानी भरने से धड़कनें तेज हो गई थी। ग्रामीणों का कहना है कि हालात ये बने कि सुबह सुबह घरों में डीजल पंप आदि रखकर घरों से पानी निकाला गया।

ठेकेदार को ठहराया घरों में पानी भरने का जिम्मेदार : ग्रामीणों का आरोप है कि शायद हमारे घरों में पानी नहीं भरता या फिर कम भरता यदि ठेकेदार द्वारा सड़क निर्माण के समय हमारे घरों की साइड में नाली का निर्माण नहीं किया गया है। इसलिए हमारे घरों में ज्यादा पानी भर गया है जिससे हमारे खाने-पीने सहित सभी तरह का गृहस्थी का सामान खराब हो गया है। वहीं ठेकेदार कहना है कि पाइप लाइन वालों ने नाली निर्माण नहीं होने दिया था इसलिए हमने नाली का एक साइड में निर्माण नहीं किया है।

X
Narwar - भुजरिया तालाब की पार तोड़कर गड़रिया मोहल्ले के 50 घरों को डूबने से बचाया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..