--Advertisement--

भास्कर संवाददाता | सीहोर

भास्कर संवाददाता | सीहोर प्रदेश सरकार के बुधवार को पेश हुए बजट में जिले के लिए सिंचाई, पेयजल, स्कूल शिक्षा और...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 04:00 AM IST
भास्कर संवाददाता | सीहोर

प्रदेश सरकार के बुधवार को पेश हुए बजट में जिले के लिए सिंचाई, पेयजल, स्कूल शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में राहत मिली है। सालों से अटकी पड़ी कई परियोजनाओं के लिए इस बजट में करीब 22 करोड़ का प्रावधान किया गया। नल जल योजनाओं सहित एक दर्जन से अधिक सड़कें और कई स्कूलों के भवन स्वीकृत किए गए। इसके बावजूद लोगों को बजट से जो उम्मीदें थीं, वे पूरी नहीं हो सकीं।

इस बजट में सीहोर जिले को कुछ खास नहीं मिला है। नसरुल्लागंज और बुदनी क्षेत्र की सिंचाई परियोजनाओं के लिए बजट में राशि का प्रावधान किया गया है। कई परियोजनाएं तो सालों से अधूरी पड़ी हैं। इनमें खरसानिया उप नहर योजना और मरदानपुर उद्वहन सिंचाई योजना हैं।

आठ सिंचाई योजनाओं को मिलेगी गति

सेमरी तालाब, सिंहपुर बैराज, बनेठा मध्यम परियोजना, घोघरा मध्यम परियोजना, रेहटी मध्यम परियोजना, खरसानिया उप नहर योजना, मरदानपुर उद्वहन सिंचाई योजना और सीप कोलार लिंक व्यपवर्तन योजना के लिए करीब 22 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।