• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Neemuch
  • जिला अस्पताल में अब जनसहयोग से होंगे काम, बढ़ेगी सुविधाएं, 100 बेड मिलेंगे
--Advertisement--

जिला अस्पताल में अब जनसहयोग से होंगे काम, बढ़ेगी सुविधाएं, 100 बेड मिलेंगे

सरकारी जिला अस्पताल अब निजी अस्पताल जैसा नजर आएगा। रंग बिरंगा चित्रकारी से सजा अस्पताल भवन, रोशनी के साथ हॉल,...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:00 AM IST
सरकारी जिला अस्पताल अब निजी अस्पताल जैसा नजर आएगा। रंग बिरंगा चित्रकारी से सजा अस्पताल भवन, रोशनी के साथ हॉल, मरीजों के लिए एलसीडी, 100 आधुनिक बेड, अत्याधुनिक सुविधाघर के साथ मरीज के परिजन के रूकने के लिए हॉल की सुविधा मिलेगी। कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रमसिंह ने अस्पताल के 6 महीने में एक करोड़ रुपए की लागत से कायाकल्प की योजना तैयार की है।

जिला अस्पताल को आधुनिक सुविधाओं से लैस करने के लिए वरिष्ठ समाजसेवी माणकलाल सोनी, अल्ट्राटेक सीमेंट, अडानी ग्रुप, धानुका सोया प्लांट, बैंकर्स के साथ अन्य संस्थाओं, उद्योगपतियों और समाजसेवियों का सहयोग मिलेगा। अल्ट्राटेक को अस्पताल भवन, ओपीडी,परिसर की इलेक्ट्रिफिकेशन कराने, मरीजों के लिए वेटिंग हॉल को संवारने का काम सौंपा है। पीडब्ल्यूडी द्वारा भवन में रंग रोगन करवाया जा रहा है। दीवारों पर धानुका सोया द्वारा चित्रकारी करवाई जाएगी। समाजसेवी माणकलाल सोनी 100 आधुनिक बेड उपलब्ध कराएंगे। अन्य समाजसेवी व संस्थाओं ने पंखे, कूलर, वाटर कूलर लगाने की सहमति दी है। अस्पताल परिसर में गार्डन का निर्माण भी जनसहयोग से होगा। इसमें बैंकों द्वारा लोगों के बैठने के लिए कुर्सियां उपलब्ध कराई जाएगी। आधुनिक टॉयलेट, सुविधाघर अल्ट्राटेक द्वारा बनाए जाएंगे। इससे छह महीने बाद अस्पताल की दशा पूरी तरह से बदल जाएगी। किसी भी व्यक्ति या संस्था से प्रशासन नगद सहयोग राशि नहीं लेगा। सभी कार्य समय पर पूरे हो इसके लिए सहयोग देने वाली संस्था व समाज सेवी ही सामग्री खरीदकर अस्पताल में पहुंचाएंगे। स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ाने के लिए कलेक्टर ने निजी अस्पतालों के डॉक्टरों से सेवा लेने की योजना भी बनाई है। इससे डॉक्टरों की कमी दूर होगी और मरीजों को समय पर उपचार मिल सकेगा।

मरीज के परिजन के लिए बनेगा विश्राम गृह

जिला अस्पताल में इस तरह बनेगा मरीजों के लिए वेटिंग हॉल।

भवन की रंगाई-पुताई व गार्डन का काम शुरू

कायाकल्प योजना के तहत जिला अस्पताल भवन की रंगाई पुताई शुरू हो गई है। दीवारों पर स्वच्छता का संदेश देते चित्र उकेरे जाएंगे। गार्डन निर्माण और हरी घास लगाने का काम चल रहा है। 100 बेड खरीदने अौर गार्डन में कुर्सियां लगाने के लिए प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। जनरल व मेटरनिटी वार्ड के 30 शौचालय की मरम्मत, सेफ्टी टैंक की मरम्मत के साथ इन्हें नपा सीवरेज लाइन से जोड़ेगी। सुलभ इंटरनेशनल के समीप महिला एवं पुरुष के लिए छह-छह शौचालय बनाए जाएंगे। इससे मरीज व उनके परिजनों को सुविधा मिलेगी।

अस्पताल में भर्ती मरीज के परिजन को रात में ठहरने की वर्तमान में कोई व्यवस्था नहीं है। इस परेशानी को देखते हुए प्रशासन ने अस्पताल परिसर में महिला एवं पुरुष के लिए सर्वसुविधायुक्त दो हॉल विश्राम गृह के रूप में तैयार किए जाएंगे। जहां सशुल्क बेडसीट, कंबल, तकिया, पलंग, गद्दे उपलब्ध कराए जाएंगे।

हरियाली के लिए लगाएंगे पौधे : पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देने व हरियाली के लिए अस्पताल परिसर में पौधे लगाने की योजना है। इसमें एरिका पाम, फ्राईक ग्रीन, टेबल पाम, टेसीना, क्रिसमस ट्री, प्वाईंट सीरिया, पाम लेमन, फयूजा, आईएसओ, कोसनड्रा के पौधे रोपे जाएंगे। इससे सरकारी अस्पताल का लुक निजी अस्पताल जैसा नजर आएगा।

सभी काम जल्द पूरे करवाएंगे


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..