Hindi News »Madhya Pradesh »Neemuch» डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की सुविधा इसी माह, ऑनलाइन खुलेंगे खाते

डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की सुविधा इसी माह, ऑनलाइन खुलेंगे खाते

डाकघरों में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की सुविधा इसी महीने से लोगों को मिलने लगेगी। सेविंग और करंट एकाउंट ऑनलाइन...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 03:45 AM IST

डाकघर में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की सुविधा इसी माह, ऑनलाइन खुलेंगे खाते
डाकघरों में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक की सुविधा इसी महीने से लोगों को मिलने लगेगी। सेविंग और करंट एकाउंट ऑनलाइन खोलने के साथ केशलैस के लिए बिजली,नल, बस, रेलवे बुकिंग, गैस बुकिंग, टेलीफोन बिल, पेट्रोल का भुगतान भी एप से कर सकेंगे। ट्रांजेक्शन सुविधाएं भी मिलेगी। इसके लिए बड़े डाकघर के अपडेशन का काम पूरा हो गया है।

पेमेंट बैंक में खाताधारक से एक लाख रुपए तक की जमा राशि स्वीकार की जाएगी। कोई भी व्यक्ति या व्यावसायिक प्रतिष्ठान इसमें खाता खुलवा सकता है। पेमेंट बैंकों का संचालन सामान्य बैंकों से कुछ अलग होता है। इसमें जमा तथा विदेशों से भेजी जाने वाली विदेशी मुद्रा स्वीकार होगी, इंटरनेट बैंकिंग तथा कुछ अन्य विशिष्ट सेवा प्रदान करने का अधिकार होता है। 25 हजार रुपए तक जमा पर 4.5 प्रतिशत, 25 से 50 हजार रुपए की राशि पर 5 फीसद और 50 हजार से एक लाख रुपए जमा राशि पर 5.5 फीसद ब्याज दिया जाएगा। जिले में 1.10 लाख डाकघर खाता धारकों को भी इसका फायदा होगा। उन्हें ट्रांजेक्शन के लिए डाकघर के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। विभाग ग्रामीण क्षेत्र में वित्तीय समावेश के सरकारी लक्ष्य पूरा करने के साथ भारतीय डाक विभाग अब बैंकों से प्रतिस्पर्धा कर सकेगा। प्राइवेट बैंकों की तरह ग्राहकों के लिए योजनाएं शुरू करेगा। मुख्य डाकघर सहायक अधीक्षक ओपी मीणा का कहना है पेमेंट बैंक की सुविधा का लाभ खाताधारकों के साथ अन्य उपभोक्ताओं को मिल सकेगा।

मुख्य डाकघर जहां इस तरह ग्राहकों को लाइन में लगना पड़ता है। पेमेंट एप से मिलेगी राहत।

पोस्टमैन को मिलें हैंड डिवाइस, मनीऑर्डर सहित अन्य भुगतान घर बैठे प्राप्त कर सकेंगे

प्रधानमंत्री डिजिटल इंडिया योजना के तहत मुख्य डाकघर को हाईटेक बनाने के लिए 18 पोस्टमैन को हैंड होल्ड डिवाइस दिए हैं। इससे खाताधारक को घर बैठे ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की सुविधा मिलेगी। योजना की शुरुआत प्रथम चरण में मुख्य डाकघर में होगी। डिवाइस चलाने के लिए संभागीय कार्यालय पर तीन दिन पोस्टमास्टर को प्रशिक्षण दिया गया है। इसके शुरू होने पर लेन-देन सहित मनीऑर्डर भुगतान संबंधी काम पोस्टमैन खाताधारक व ग्राहक के घर पर पहुंचकर निपटा सकेंगे। ग्राहकों काे पोस्ट ऑफिस के चक्कर नहीं लगाना पड़ेंगे। डिवाइस को सेंट्रल सर्वर से जोड़कर ऑनलाइन किया है। यह ब्रांच पोस्टमास्टर के अंगूठे से ओपन होगा। लेन-देन संबंधी काम सरलता से होंगे। ग्राहकों को लाइन में नहीं खड़ा होना पड़ेगा। डिवाइस से एसडीए आरडी, नरेगा, मनीऑर्डर, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन की सुविधा खाताधारकों को घर बैठे मिलेगी। बीमार, विकलांग या अन्य कोई भी खाताधारक मोबाइल से डाकपाल को बुलाकर लेन-देन कर सकेगा। डाकपालों को नए खाते खोलने में भी सुविधा होगी।

यह भी मिलेगा फायदा

छोटे कारोबारियों व कम आय वाले को ई-पेमेंट, ग्राहकों को डिपॉजिट पर इंश्योरेंस स्कीम के तहत कवर सुरक्षित मिलेगा। बिजनेस कॉरेसपांडेंस व मोबाइल बैंकिंग के जरिए पेमेंट व अन्य सेवा मिलेगी। कोई भी पेमेंट बैंक किसी अन्य बैंक के बिजनेस कॉरेसपांडेंस के तौर पर भी काम कर सकेगा। वह बैंक यह काम सिर्फ उन्हीं सेवाओं के लिए कर सकेगा जो वह खुद नहीं दे रहा। पेमेंट बैंक लोन देने वाली गतिविधियों में शामि‍ल नहीं हो सकेंगे।

एक नजर

1. 10 लाख खाताधारक

52200चालू खाते

45000स्थायी आवर्ती खाते

12800अन्य खाते

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Neemuch

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×