--Advertisement--

छह माह में 12 गांवाें में शुरू होगी पेयजल योजना

पीएचई पेयजल संकट से निपटने के लिए जिले के तीनों ब्लॉक के लिए करोड़ों की योजना शुरू करने वाला है। नीमच, मनासा और जावद...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 04:15 AM IST
पीएचई पेयजल संकट से निपटने के लिए जिले के तीनों ब्लॉक के लिए करोड़ों की योजना शुरू करने वाला है। नीमच, मनासा और जावद विकासखंड के लिए 6 करोड़ 43 लाख 76 हजार रुपए की पेयजल योजनाओं का काम छह माह में कराया जाएगा। इससे चार हजार लोगों को राहत मिलेगी।

प्रशासन ने जिले में बंद पड़ी जल परियोजनाओं पर काम करना शुरू कर दिया है। पीएचई ने 12 नई योजनाओं के टेंडर जारी किए हैं। पीएचई ईई एमएस भिड़े ने बताया चयनित गांवों में आरसीसी पेयजल टंकी निर्माण कराया जाएगा। सम्पवेल बनाकर सबमर्सिबल पंप लगाया जाएगा। एक ओपनवेल पंप के साथ पाइप लाइन डाली जाएगी। वाटर प्यूरीफायर उपलब्ध कराया जाएगा। घर घर नल कनेक्शन भी उपलब्ध कराए जाएंगे। एचडीपीई पाइप, जीआई पाइप, डीआई पाइप के साथ ऑटोमेटिक वाटर लेवल , ईडीकेटर के साथ कई सुविधाएं दी जाएगी। निर्माण एजेंसी को छह माह में काम पूरा करना होगा। योजना का काम होने पर लाइनों की टेस्टिंग के साथ लोगों के घरों तक पानी पहुंचाया जाएगा और जलसंकट की समस्या हल की जाएगी। हर गांव में कनेक्शन होने के बाद संबंधित निर्माण एजेंसी को दो साल तक पेयजल योजना का संचालन भी करना होगा। निर्माण एजेंसियों को गुणवत्ता के साथ काम करना होगा।

स्वीकृति

करीब 4 हजार लोगों को पेयजल संकट से मिलेगी मुक्ति, 6.43 करोड़ रुपए की योजना के हुए टेंडर

जानिए किस गांव में कितने लाख की योजना

ग्राम योजना की लागत नल कनेक्शन

घसुंडी जागीर 58.34 लाख रुपए 630

अरनिया बोराना 51.25 लाख रुपए 478

सेमली चंद्रावत 55.61लाख रुपए 460

बामनबर्डी 55.89लाख रुपए 392

बराड़ा 59.41 लाख रुपए 341

फुसरिया 74.52 लाख रुपए 246

पालराखेड़ा 49.28लाख रुपए 332

मड़ावदा 53.17लाख रुपए 351

मजीरिया 95.30 लाख रुपए 540

धाकड़खेड़ी 36.46लाख रुपए 144

सांकरियाखेड़ी 54.53 लाख रुपए 361

टामोटी 60.27 लाख रुपए 326

50 हजार से 1 लाख लीटर क्षमता की बनेंगी टंकियां

घर घर पानी पहुंचाने के लिए गांव-गांव में पेयजल टंकियों का निर्माण किया जाएगा। नल कनेक्शनों की संख्या के अनुसार कहीं 50, 75 हजार और 1 लाख लीटर क्षमता की पेयजल टंकी बनाई जाएगी।