शहर को पॉलीथिन से मुक्त करना है बड़ी चुनौती, 5 साल में भी नहीं हो पाया समाधान

Neemuch News - स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में नपा को हर दो माह में कार्यों की जानकारी शासन को देना होगी। इसके आधार पर जनवरी में निरीक्षण...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:25 AM IST
Mandsore News - mp news big challenge to free the city from polythene solution can not be done even in 5 years
स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में नपा को हर दो माह में कार्यों की जानकारी शासन को देना होगी। इसके आधार पर जनवरी में निरीक्षण होगा। हर दो माह में कार्यों के दो-दो हजार अंक व अंत में सर्वे के लिए 4 हजार अंकों पर मूल्यांकन होगा। इस बार सर्वेक्षण में शहर को टॉपटेन में लाने के लिए नपा के सामने पॉलीथिन मुक्त शहर की चुनौती होगी। हालांकि इसके लिए अधिकारी कार्ययोजना तैयार कर अगले सप्ताह से क्रियान्वयन की बात कह रहे हैं। पिछले पांच साल पर नजर डालें तो नपा ने कई बार कार्रवाई की पर अब तक समाधान नहीं निकल पाया है।

स्वच्छ सर्वेक्षण को शासन ने इस बार स्वच्छ सर्वेक्षण लीग 2020 नाम दिया। इसके साथ सर्वेक्षण में केवल दो से तीन माह ही अभियान चलाए जाने पर शासन ने साल भर स्वच्छता की प्रक्रिया चले इसके लिए कई भागों में बांट दिया है। अब नपा को जून, सितंबर व दिसंबर अंत में स्वच्छता के लिए किए कार्यों का ब्योरा देना होगा। तीन बार इन कार्यों का दो-दो हजार अंकों पर मूल्यांकन होगा। इसमें कचरा एकत्रीकरण व परिवहन के लिए 500, कचरा डिस्पोजल के लिए 700, सेप्टिक टैंक की सफाई के लिए 300, जागरूकता के लिए 200 एवं कर्मचारियों की क्षमता बढ़ाने पर 300 अंक निर्धारित किए हैं। साथ ही स्वच्छ सर्वेक्षण लीग 2020 में शासन ने शहर को पॉलीथिन मुक्त करने के कार्य को भी शामिल किया है। नपा को 104 अंक से टॉप 100 व टॉप 10 में आने के लिए बहुत मेहनत करना होगी क्योंकि मप्र शासन ने किसी भी तरह के पॉलीथिन के बैग पर प्रतिबंध लगा दिए हैं। नपा शहर में पॉलीथिन पर प्रतिबंध लगाने के लिए पिछले पांच सालों में कई बार कार्रवाई व समझाइश के अभियान चला चुकी है। इसके बाद भी शहर में पॉलीथिन का उपयोग आम है। आज भी रोज करीब 10 टन पॉलीथिन का उपयोग होता है। हर सब्जी व फल के ठेले पर पॉलीथिन मिलती है, 99 फीसदी दुकानदार पॉलीथिन का उपयोग कर रहे हैं। ऐसे में जल्द इन पाॅलीथिन पर प्रतिबंध लगा कर लोगों को कपड़े की थैली का उपयोग करने के लिए प्रेरित करना नपा के सामने चुनौती होगी।

सबसे अधिक कचरा डिस्पोजल के लिए 700 अंक

पहले समझाइश देंगे, नहीं माने तो फिर करेंगे कार्रवाई


सबसे अधिक कचरा डिस्पोजल के लिए 700 अंक निर्धारित हैं। नपा के पास कचरे को ट्रेंचिंग ग्राउंड पर ले जाने के बाद उसकाे अलग-अलग करने व प्रबंधन के लिए कोई प्रयास नहीं है। सेग्रीगेशन मशीन महीनों से बंद है। कचरे से खाद बनाने की प्रक्रिया भी बंद है। ऐसे में नपा को 700 अंकों से हाथ धोना पड़ सकता है। अब मामले में अधिकारी जल्द टेंडर प्रक्रिया कर इसे ठेके पर देने का विचार कर रहे हैं।

शहर में हो रहा खुलेआम पॉलीथन का उपयोग व शहर के गांधी चाैराहे पर पाॅलीथिन में फूलमालाएं बेचते व्यापारी।

Mandsore News - mp news big challenge to free the city from polythene solution can not be done even in 5 years
X
Mandsore News - mp news big challenge to free the city from polythene solution can not be done even in 5 years
Mandsore News - mp news big challenge to free the city from polythene solution can not be done even in 5 years
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना