• Hindi News
  • Mp
  • Neemuch
  • Mandsore News mp news on the court39s order the toilets dropped in 45 minutes now the road is closed then it will be difficult to reach the station

कोर्ट के आदेश पर 45 मिनट में गिराया शौचालय अब रोड बंद किया तो स्टेशन पहुंचना होगा मुश्किल

Neemuch News - शहर से अतिक्रमण हटाने वाली नपा ने खुद ही स्टेशन स्थित 3 बीघा जमीन पर 33 साल से कब्जा कर रखा था। इस पर 14 साल पहले सुलभ...

Jan 25, 2020, 08:15 AM IST
Mandsore News - mp news on the court39s order the toilets dropped in 45 minutes now the road is closed then it will be difficult to reach the station

शहर से अतिक्रमण हटाने वाली नपा ने खुद ही स्टेशन स्थित 3 बीघा जमीन पर 33 साल से कब्जा कर रखा था। इस पर 14 साल पहले सुलभ कॉम्प्लेक्स और करीब 10 साल पहले स्टेशन जाने का रास्ता भी बना दिया। काेर्ट की सख्ती के बाद शुक्रवार काे नपा ने सिर्फ 45 मिनट में जेसीबी से सुलभ कॉम्प्लेक्स व पास में बने शौचालय को ढहा दिया।

कॉम्प्लेक्स के साथ सामने वाला करीब 30 फीट का मुख्य रास्ता भी इसी जमीन पर है। यह बंद हाेता है ताे लाेगाें का स्टेशन जाना मुश्किल हाे जाएगा। इसके अतिरिक्त स्टेशन जाने के लिए दूसरी तरफ 15 फीट की संकरी गली में 8 फीट का रास्ता है। इस पर हमेशा जाम लगता है। वाहनों का पूरा दबाव उस मार्ग पर गया तो लोग घर से समय पर निकलने के बाद भी स्टेशन देरी से पहुंचेंगे जिससे उन्हें नुकसान उठाना पड़ेगा। कलेक्टर ने विकल्प खाेजने की बात कही है।

ग्वालियर स्टेट के समय पुजारी को मोरूसी (मालिकाना हक) पट्‌टा दिया था

रेलवे स्टेशन के बाहर राम मंदिर की जमीन थी। ग्वालियर स्टेट के समय शासन ने पुजारी को मोरूसी (मालिकाना हक) पट्‌टा कृषि के लिए दिया था। इस पर करीब 1965 में पुजारी मंगलनाथ ने 3 बीघा जमीन मुकेश पटेल के पिता सर्वदमन पटेल को बेच दी थी। इसके बाद सुंदरलाल पटवा सरकार ने आदेश निकाला कि जितनी भी मंदिर की जमीन है, कलेक्टर अपने पजेशन में लें। तब तत्कालीन प्रशासन ने इस जमीन को प्रबंधक कलेक्टर मंदसौर के नाम पर लिया। इसके बाद तत्कालीन कलेक्टर हीरालाल त्रिवेदी ने आदेश निकाला कि विवादित जमीन पर नपा तार फेंसिंग कर कब्जे में ले। 2005 में नपा ने इस जमीन पर सुलभ कॉम्प्लेक्स बना दिया। इसको लेकर 2014 में मुकेश पटेल सुप्रीम कोर्ट से केस जीत गए। इसके बाद अवमानना याचिका लगाई जिस पर कोर्ट ने मुकेश को कब्जा देने के आदेश दिए। इस पर प्रशासन ने जेसीबी से सुलभ कॉम्प्लेक्स व रोड पर बने सार्वजनिक शौचालय को 45 मिनट में ध्वस्त कर दिया।

स्टेशन पर इस तरह लगता है जाम

नाहटा चौराहा से रेलवे स्टेशन जाने के लिए परिसर के बाहर ‘वी’ आकार में दो रास्ते हैं। एक मार्ग ‘एल’ आकार में मिड इंडिया रेलवे फाटक की तरफ जा रहा है। इस मार्ग पर रेलवे ने बाउंड्रीवॉल बनाकर करीब 7 से 8 फीट का गेट छोड़ है। दूसरा मुख्य मार्ग 30 फीट का जो सुलभ काॅम्प्लेक्स के सामने से हाेते हुए सीधे रेलवे स्टेशन परिसर में पार्किंग तक पहुंच रहा है। इसी मार्ग से स्टेशन के सभी ऑटो व यात्री वाहनों से पहुंचते हंै। यह मार्ग भी मुकेश पटेल की 3 बीघा जमीन पर है। यह मार्ग बंद हुआ तो स्टेशन जाने में मुश्किल हो जाएगी। लोगों को 8 फीट के गेट से आना-जाना करना होगा जिसमें से एक साथ दो माेटरसाइकिल भी नहीं निकल सकती है। इसके अलावा बाहर पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। मामले में जिम्मेदारों के पास कोई जवाब नहीं है।


शौचालय टूटा, अब सुविधा के लिए लाेग होंगे परेशान

अतिक्रमण हटाने वाली नपा ने ही दबा रखी थी 3 बीघा िनजी जमीन

वर्तमान में स्टेशन जाने वाले रोड पर इस तरह ट्रैफिक व्यस्त रहता है। ये रोड बंद हुआ तो स्टेशन पहुंचना मुश्किल हो जाएगा।





जमीन मेरी है ताे कब्जा ताे लेना ही हाेगा


अन्य मार्ग के लिए विकल्प खोजेंगे


कोर्ट के आदेश पर नपा ने सुलभ कॉम्प्लेक्स व सार्वजनिक शौचालय तो तोड़ दिया। इसके अतिरिक्त रेलवे के बाहर कोई अन्य व्यवस्था नहीं है। अब लोगों को स्टेशन परिसर में बने सुलभ शाैचालय का उपयोग करना होगा।

Mandsore News - mp news on the court39s order the toilets dropped in 45 minutes now the road is closed then it will be difficult to reach the station
X
Mandsore News - mp news on the court39s order the toilets dropped in 45 minutes now the road is closed then it will be difficult to reach the station
Mandsore News - mp news on the court39s order the toilets dropped in 45 minutes now the road is closed then it will be difficult to reach the station
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना