गुरुदेव की रथयात्रा के साथ दीक्षार्थी बहन जयति छाजेड़ का वर्षीदान वरघोड़ा निकला

Neemuch News - शहर के शंखेश्वर पार्श्वनाथ मंदिर जैन कॉलोनी मंदिर 3 दिनी विजय राजेंद्र सूरीश्वरजी की 192वी जयंती एवं 112वीं...

Bhaskar News Network

Jan 14, 2019, 04:07 AM IST
Neemuch News - mp news with the rath yatra of gurudev the boycott of dikshayari sister jayati chhajed came out
शहर के शंखेश्वर पार्श्वनाथ मंदिर जैन कॉलोनी मंदिर 3 दिनी विजय राजेंद्र सूरीश्वरजी की 192वी जयंती एवं 112वीं स्वर्गारोहण दिवस का रविवार को समापन हो गया। सुबह से शाम तक धार्मिक कार्यक्रम हुए। सुबह 8 से 9 बजे तक समस्त नवकार मंत्र आराधक परिवार के लिए नवकारसी हुई। सुबह 9 बजे मंदिर से गुरुदेव की रथयात्रा एवं मुमुक्षु दीक्षार्थी बहन जयति छाजेड़ का वर्षीदान वरघोड़ा निकला। दाेपहर 12.39 बजे गुरुपद महापूजन व 108 दीपक से महाआरती हुई।

मंदिर धर्मसभा को संबोधित करते हुए साध्वी दिव्यगिराजी महाराज ने कहा माता-पिता के धार्मिक संस्कार मानव की आत्मा के कल्याण का मार्ग प्रशस्त करते हैं। परमात्मा के जाप से मानव जीवन के अनेक कष्ट मिट सकते हैं। जीओ और जीने दो को जीवन का ध्येय वाक्य बनाए तभी जीवन में सुख शांति आती है। उन्होंने कहा कि माता पिता का संस्कार कहां से कहां पहुंचा देता है। मनुष्य गति से मानव जहां जाना चाहे वहां जा सकता हैं। लेकिन मनुष्य आत्मा की गति को महत्व नहीं देता है। जितना हमारा गुरु और प्रभु के प्रति पवित्र भाव होते है उतना कल्याण होता है। नवकार मंत्र आराधक जैन महावीर प्रभु की संतान है। साध्वी दिव्य मैत्री ने बोलो जय-जय गुरुदेव सुख दु:ख में राखे गुरुदेव...स्तवन प्रस्तुत किया। शर्मिला डुंगरवाल ने भारत जारोली का अनुमोदना पत्र का वाचन किया। परमात्मा के दीपक चांदी की थाली से आरती धार्मिक चढ़ावे की बोली लगाई गई। पंकज जैन ने गुरुवर को ज्ञान के सागर है.....जब जब दिल उदास होता है मोहनखेड़ा वाला मेरे साथ होता है। ऋतु पोरवाल, आशा डूंगरवाल ने चारों दिशाओं में फैल रही सारे जहां में धूम मचाई है गुरुवर्या आई रौनक छाई है ज्ञान की गंगा घर में आई है...गीत प्रस्तुत किया। बालिका मंडल ने वंदन करू हाथा जोड़ जोड़कर ......स्तवन प्रस्तुत किया। ट्रस्ट अध्यक्ष राजेंद्र डूंगरवाल ने भी संबोधित किया। संचालन मंजुल डोसी, शर्मिला डूंगरवाल ने किया। विधायक दिलीपसिंह परिहार, नपाध्यक्ष राकेश जैन, संतोष चोपड़ा, अनिल नागौरी, अजीत बम्ब, अनूप मेहता, नाथूलाल कांठेड़, विजय छाजेड़, सुनिल पटवा, गुणवंत बंडी, प्रकाश मानव, बाबूलाल लोढ़ा, सुनिल पटेल, भारत जारोली, वीरेंद्र लोढ़ा, मनोहरसिंह लोढ़ा, राजेन्द्र जारोली, मनीष कोठारी, प्रकाश चौरडिय़ा उपस्थित थे।

गुरुपाद महापूजन व 108 दीपक से महाआरती की

गुरु सप्तमी महोत्सव पर मंदिर में धार्मिक कार्यक्रम में मौजूद श्रद्धालु।

शाम को हुआ महापूजन

साध्वी दिव्यगिरा, दिव्य मैत्री के सान्निध्य में शाम 4 बजे राजेंद्र गुरुपद महापूजन मंत्रोच्चारण के साथ हुआ। इसमें पाठ पर 108 दीपक प्रज्जवलित किए प्रतिमा देव मंदिर पर गुलाब के फलों से शृंगारित किया गया। विधिकारक पंकज जैन ने किस्मत वाले के मिलता है गुरु का साथ भजन प्रस्तुत किए तो श्रृद्धालु झूम उठे।

X
Neemuch News - mp news with the rath yatra of gurudev the boycott of dikshayari sister jayati chhajed came out
COMMENT