• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Nepanagar News
  • हमारी सरकार में व्यवस्थित चलती थी मिल -कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष
--Advertisement--

हमारी सरकार में व्यवस्थित चलती थी मिल -कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष

नेपानगर के दौरे पर आए कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष, नेपा मिल के मुद्दे पर बात की। भास्कर संवाददाता | नेपानगर नेपा...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:20 AM IST
नेपानगर के दौरे पर आए कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष, नेपा मिल के मुद्दे पर बात की।

भास्कर संवाददाता | नेपानगर

नेपा लिमिटेड रिवाइवल प्रोजेक्ट में देरी एवं बढ़ती लागत पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने कहा इसका कारण वे बताए जो इस क्षेत्र से नेतृत्व कर रहे हैं। जिनकी प्रदेश व देश में सरकार है। उनकी दिल्ली में भी पकड़ है। भोपाल में वे प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पद पर विराजित है वे बताए कि स्वीकृत प्रोजेक्ट की राशि मिलने में देरी क्याें हुई। रिवाइवल से संबंधित अन्य औपचारिकताएं पूरी होने में कहा देरी हो रही है। कर्मचारियों का वेतन समय पर क्यों नहीं दिया जा रहा है। उन्होंंने कहा हमारी सरकार थी तो सभी काम व्यवस्थित रूप से चल रहे थे। समय पर हमने बजट में वेतन का भी प्रावधान कराया था। भाजपा केवल जिम्मेदारी से पलड़ा झाड़ती है।

शनिवार को कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव नेपानगर के दौरे पर रहे। इस दौरान नगर में नेपा लिमिटेड के लिए गठित संयुक्त मोर्चा ने अरुण यादव को ज्ञापन सौंपा। व्यापारी संघ के अध्यक्ष जगविंदरसिंह जॉली ने कहा आपके कार्यकाल के दौरान नेपा मिल को रिवाइवल पैकेज उपलब्ध कराया गया था। लेकिन वर्तमान में अन्य औपचारिकताएं पूर्ण करने में काफी लंबा समय लग गया है। इससे रिवाइवल पैकेज की लागत करीब 434 करोड़ रुपए हो गई है। वहीं संशोधित रिवाइवल पैकेज की स्वीकृति एवं राशि मिलने में जितना समय लगेगा उस हिसाब से 4 से 6 करोड़ रुपए प्रतिमाह लागत और अधिक बढ़ती जाएगी। इस मनोहर दावरे ने कहा नेपा लिमिटेड को रिवाइवल पैकेज के लिए केंद्र सरकार से बैंक ग्यारंटी नहीं मिलने के कारण बैंकों द्वारा भी 128 करोड़ का ऋण नहीं दिया गया।

कंपनी में पिछले दो सालों से पूरी तरह से उत्पादन ठप पड़ा है। लगभग 725 कर्मचारी एवं अधिकारी है। जिन्हें समय पर वेतन देने के लिए कोई राशि नहीं है। इसके लिए भी सैलरी सपोर्ट मांगा गया है। आरएमडी रिवाइवल प्रोजेक्ट पूरा हो जाता है तो कंपनी की उत्पादन क्षमता बढ़कर 99 हजार मेट्रीकटन प्रतिवर्ष हो जाएगी एवं डीइंकिंग प्लांट की वजह से न्यूजप्रिंट की ब्राइटनेस और गुणवत्ता बढ़ेगी।

18 करोड़ में बेचने के थे प्रयास

अरुण यादव ने कहा कि मुझे ऐसा प्रतीत होता है 1998, 99 अौर 2000 में जब उनकी सरकार थी तब भी मिल को बंद कराने का बड़ा प्रयास किया था। कौड़ी के दाम बड़े उद्योग पतियों को कंपनी को 17, 18 करोड़ में देेने के प्रयास हुए थे। तब भी वे ही क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हुए सांसद थे। आज भी वे ही सांसद होकर उनकी ही सरकार है। उनके द्वारा कोई सकारात्मक पहल कंपनी के हित में क्यों नहीं लिए गए। उल्लेखनीय है कि अरुण यादव के खंडवा संसदीय क्षेत्र के संसदीय काल में नेपा लिमिटेड को रिवाइवल पैकेज स्वीकृत हुआ था। इसके पश्चात केंद्र में सत्ता परिवर्तन हुआ।

शनिवार को हनुमान जन्मोत्सव के अवसर पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव ने चिमनापुर स्थित मनकामनेश्वर वीर हनुमान मंदिर पर पूजा अर्चना की। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की। इस दौरान मोर्चे के अध्यक्ष संजय विजयवर्गीय, सोजन सैनी, जगविंदरसिंह जॉली, जिला कांग्रेस अध्‍यक्ष अजय रघुवंशी, महिला प्रदेश उपाध्यक्ष िवजयेता चौहान, पूर्व विधायक हमीद काजी, रामकिसन पटेल, अंतरसिंह बर्डे, विनोद पाटील, मनोहर दावरे सहित अन्य उपस्थित थे।