--Advertisement--

नायर दंपति हत्याकांड : नौकर ही निकला हत्यारा, ग्वालियर से खरीदा था चाकू

पुलिस ने आरोपी नौकर राजू काे भोपाल के भेल इलाके से गिरफ्तार किया। हत्या में इस्तेमाल चाकू भी बरामद किया है।

Dainik Bhaskar

Mar 10, 2018, 12:08 PM IST
बुजुर्ग दंपति भोपाल के अवधपुर बुजुर्ग दंपति भोपाल के अवधपुर

भोपाल। अवधपुरी स्थित कवर्ड कैंपस नर्मदा वैली कॉलोनी में 73 वर्षीय रिटायर्ड एयरफोर्स अफसर और उनकी पत्नी की हत्या का खुलासा पुलिस ने शनिवार दोपहर कर दिया है। मृतक जीके नायर और उनकी पत्नी गोमती की हत्या उनके पुराने नौकर ने की थी। पुलिस ने राजू को भोपाल के भेल क्षेत्र से गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल लिया। प्रारंभिक पूछताछ में उसने नौकरी से निकालने पर गुस्सा होकर वारदात को अंजाम देने की बात कही है। हत्या के लिए उसने ग्वालियर से चाकू खरीदा था। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।

नौकरी से निकालने पर गुस्सा था आरोपी

- पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में नौकर राजू ने बताया कि वह नायर के यहां काम करता था। करीब 7 महीने पहले रुपयों के लेनदेन को लेकर उन्होंने उसे नौकरी से निकाल दिया था। इसके बाद उसने क्षेत्र में ही अन्य जगह पर नौकरी की, लेकिन इनके कारण उसे वहां से निकाल दिया गया। इन्हीं के चलते उसकी कॉलोनी से ही छुट्टी हो गई। कहीं काम नहीं मिलने से कुछ समय पहले वह फिर ये नायर दंपति से काम मांगने पहुंचा था, लेकिन उन्होंने काम देने की बजाय उसे घर से भगा दिया था। यह बात उसे नागवार गुजरी और उसने उन्हें सबक सिखाने का मन बना लिया था। आरोपी ने इसके लिए कुछ समय पहले ग्वालियर से चाकू खरीदा था। गुरुवार रात वह 10 से 11 बजे के करीब दंपति के घर पहुंचा था। यहां कुछ देर तक उसने काम देने को लेकर बात की, जब उन्होंने उसे जाने को कहा तो उसने दोनों का गला रेत दिया। उनकी मौत के बाद वह वहां से भाग गया। पुलिस ने शनिवार को आराेपी को भेल क्षेत्र से पकड़ा।

ऐसे पता चली वारदात

- शुक्रवार सुबह करीब 8 बजे नायर के घर काम करने वाली मोहनबाई घर पहुंची। पोर्च के गेट का ताला अंदर से लगा था। इस पर मोहनबाई ने आवाज लगाई, लेकिन जवाब नहीं मिला। यह सुनकर पड़ाेसी अपने बंगले से नायर की पहली मंजिल की गैलरी में पहुंचे। उन्होंने दरवाजे पर धक्का दिया तो यह खुल गया। अंदर बुजुर्ग दंपती खून से लथपथ पड़े थे। दोनों शव फर्स्ट फ्लोर में बेडरूम के दरवाजे पर आमने-सामने पड़े मिले। घर का सामान अस्त-व्यस्त नहीं था इसलिए मामला चोरी या लूट का नहीं लग रहा है।

इसलिए हुआ राजू पर शक
- राजू ने नायर से रुपए लिए थे। उनके नाम पर कई लोगों से उधार लिया था। वह घर में कभी भी आ सकता था। घर की पूरी जानकारी थी।
- हर दरवाजा अंदर से बंद था। सिर्फ पहली मंजिल की गैलरी का खुला था। यह तभी संभव है, जब कोई पहले से अंदर हो।
- नायर के रिश्तेदार ने सुबह फोन पर हत्या की जानकारी दी। उसने ग्वालियर में होने की बात कही और फोन बंद कर लिया।

कौन है आरोपी राजू

- राजू की पत्नी आरती को नायर दंपती ने तब से पाला है जब वह 8 साल की थी। राजू ने अपनी बहन की शादी के लिए नायर से डेढ़ लाख रुपए उधार लिए थे। आरती का पति होने के कारण वह नायर के घर कभी भी आता-जाता था।

घटनास्थल सेे उठे अहम सवाल

1. मृतक दंपति फर्स्ट फ्लोर पर कैसे?

- नायर की कमर और गोमती के घुटनों में दर्द रहता था। इसलिए दंपती पहली मंजिल पर कम ही जाते थे, लेकिन दोनों की बॉडी फर्स्ट फ्लोर पर सीढ़ियों के पास मिले। अगर चोरी की नियत से हत्या की गई, तो घर से कुछ भी चोरी क्यों नहीं गया?

2. एक साथ ऊपर क्यों गए?

- वारदात के वक्त क्या दंपती एक साथ थे या फिर उन्हें साजिश रचने के बाद ऊपर बुलाया गया। क्योंकि दोनों के एक साथ ऊपर जाने का कोई कारण नहीं दिखा।

3. गोमती शाकाहारी तो 3 अंडे की करी किसने खाई?

- भास्कर टीम घर क्राइम सीन पहुंची तो किचन में 3 अंडों के छिलके पड़े मिले, लेकिन इनकी करी किसने बनाई, सामने नहीं आया। दंपती के अलावा किसी तीसरे शख्स के लिए भी खाना बना था। नायर कभी-कभी ही एक अंडा खाते थे। गोमती शाकाहारी थीं। ऐसे में साफ है कि गुरुवार रात अंडे की सब्जी किसी तीसरे ने खाई। काम करने वाली मोहनबाई के मुताबिक, उसने गुरुवार रात 11 रोटी छोड़ी थीं। इनमें से 9 रोटी खाई गईं।

4. क्या सोने से पहले ही हत्या की गई?

- रात में सोने से पहले गोमती बचा हुआ खाना फ्रिज में रखती थीं। लेकिन शुक्रवार सुबह सांभर और दूध स्टैंड पर रखा मिला। यानी हत्यारे ने सोने से पहले ही वारदात को अंजाम दिया या उन्हें खाना फ्रिज में रखने का मौका ही नहीं दिया? घर पर ऐसा कौन सा मेंबर था, जो करीबी होने के साथ ही वारदात कर सकता है। इस सवाल के जवाब में पुलिस को पहला शक राजू पर ही जाता है। उससे पूछताछ हो रही है।

X
बुजुर्ग दंपति भोपाल के अवधपुरबुजुर्ग दंपति भोपाल के अवधपुर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..