Hindi News »Madhya Pradesh »Bhopal »News» 8 People Got Buried In It, Two Were Reported To Be Killed

खोदी गई नाली धंसकने से 2 महिलाओं की मौत, 5 लोग घायल, छुई निकालने गए थे सभी

4जी लाइन डालने के लिए खोदी जा रही नाली में से छुई निकालने गए लोगों के साथ हादसा।

राजीव रंजन | Last Modified - Mar 13, 2018, 07:10 AM IST

  • खोदी गई नाली धंसकने से 2 महिलाओं की मौत, 5 लोग घायल, छुई निकालने गए थे सभी
    +3और स्लाइड देखें
    टीकमगढ़ में लाल मिट्टी की खदान धंसने से दो की मौत हो गई।

    टीकमगढ़(मध्यप्रदेश).करमौरा से देवराहा मार्ग पर सोमवार दोपहर करीब 2 बजे गहरा नाला धंसकने से दो महिलाओं की मौत हो गई और पांच लोग घायल हो गए। घायलों को जतारा कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया गया जहां तीन की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया। ये लोग पौतनी (छुई) निकाल रहे थे, तभी हादसा हो गया। घटना की जानकारी लगते ही करमोरा गांव में अफरा-तफरी मच गई। एसडीएम आदित्य सिंह एवं एसडीओपी एससी बोहत ने घटनास्थल पहुंचकर स्थिति संभाली।

    आधा दर्जन लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला

    - पुलिस ने बताया कि दोपहर के वक्त करमौरा गांव के लोग खोदे गए नाले से पौतनी निकाल रहे थे, तभी अचानक वह धंसक गया। जिसमें 20 वर्षीय रोशनी अहिरवार एवं 35 साल की कुसुम देवी की दबने से मौत हो गई। वहीं सौहाइयां अहिरवार, आनंद अहिरवार, जीतू यादव, विमला अहिरवार घायल हो गए। उन्हें कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में भर्ती कराया गया।

    - खदान में आधा दर्जन लोग फंसे थे, जिन्हें तत्काल सुरक्षित निकाल लिया गया, लेकिन दो महिलाएं ज्यादा गहराई में फंसी होने से उनकी मौत हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही करमौरा गांव में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। लोग नाले की तरफ दौड़ने लगे। फंसे लोगों को बड़ी मुश्किल से बाहर निकाला गया। पुलिस को सूचना मिलते ही एंबुलेंस को मौके पर भेजा गया।

    निजी कंपनी की लाइन डालने को खोदी जा रही है 3 फीट गहरी नाली

    एक निजी टलीकॉम कंपनी द्वारा 4जी की लाइन डाली जा रही है। जेसीबी मशीन से लगभग तीन फीट गहरी खुदाई की जा रही है। खुदाई के दौरान एक जगह पौतनी निकल आई। ग्रामीणों ने पौतनी निकालना शुरू कर दी। घायल महिला जसोदा बाई ने बताया कि दोपहर के वक्त 15-20 महिलाओं सहित कई लोग पौतनी निकाल रहे थे, तभी अचानक नाले के आकार की जगह धंसक गई। एसडीएम आदित्य सिंह का कहना है कि एक निजी टलीकॉम कंपनी की लाइन डाली जा रही है। उसी े के लिए खुदाई की जा रही है। गांव के लोग उसी में से पौतनी निकाल रहे थे, तभी पौतनी भरभराकर ढह गई। मृतकों के परिवार के लिए राहत राशि दिलाने की कोशिश की जा रही है।

    तीन जिला अस्पताल रैफर

    करमौरा निवासी कुइया बाई, आनंद अहिरवार एवं जीतू अहिरवार की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रैफर किया गया। जहां उनका इलाज चल रहा है।

    क्या होती है पौतनी?

    पौतनी का मतलब सफेद मिट्टी अर्थात छुई है। इसका इस्तेमाल कच्चे घरों की पुताई में किया जाता है। कुछ लोग चूने के रूप में भी इसका उपयोग करते हैं।

  • खोदी गई नाली धंसकने से 2 महिलाओं की मौत, 5 लोग घायल, छुई निकालने गए थे सभी
    +3और स्लाइड देखें
    लोगों ने महिलाओं को उठाकर एंबुलेंस से अस्पताल भेजा।
  • खोदी गई नाली धंसकने से 2 महिलाओं की मौत, 5 लोग घायल, छुई निकालने गए थे सभी
    +3और स्लाइड देखें
    दो महिलाओं को फौरन अस्पताल भेजा गया।
  • खोदी गई नाली धंसकने से 2 महिलाओं की मौत, 5 लोग घायल, छुई निकालने गए थे सभी
    +3और स्लाइड देखें
    मौके पर बचाव कार्य के लिए लोग जुटे।
Topics:
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Bhopal News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 8 People Got Buried In It, Two Were Reported To Be Killed
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×