Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» 9 Year Old Girl Child Indigence In TI Mall Indore

मॉल में 9 साल की बच्ची से दरिंदगी, वो चीखती-चिल्लाती रही नहीं आया कोई बचाने

टीआई में 9 साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी की शर्मनाक घटना के बाद शुक्रवार को बाल कल्याण समिति की टीम ने किया दौरा।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Mar 10, 2018, 11:22 AM IST

    • घटना की जानकारी लगते ही गुस्साए लोगों ने आरोपी को जमकर पीटा।

      इंदौर। गुरुवार रात टीआई मॉल में 9 साल की मासूम बच्ची के साथ दरिंदगी की शर्मनाक घटना के बाद शहरवासियों में आक्रोश भर गया है। लोगों का कहना है कि शहर स्मार्ट सिटी बन रहा है, लेकिन यहां बच्चे सुरक्षित नहीं हैं। शुक्रवार को बाल कल्याण समिति की टीम ने टीआई मॉल पहुंचकर घटनास्थल का निरिक्षण किया। समिति की अध्यक्ष ने मामले में पुलिस द्वारा सहयोग नहीं किए जाने का आरोप लगाते हुए मामले में टीआई मॉल प्रबंधन को भी सह आरोपी बनाने की मांग की है। दल ने अपनी रिपोर्ट राष्ट्रीय बाल आयोग को भेज दी है।

      - बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष माया पांडे ने बताया कि राष्ट्ररीय बाल आयोग के निर्देश पर शुक्रवार को वे चाइल्ड लाइन की टीम के साथ टीआई मॉल में घटना की जांच करने पहुंची थी। वहां पहुंचने पर देखा कि घटना के बाद पुलिस ने गेमिंग जोन को सील कर दिया था अत: जहां घटना हुई हैं वहां का निरिक्षण नहीं किया जा सका।

      - टीम ने जब मॉल प्रबंधन से गेमिंग जोन में काम करने वाले कर्मचारियों के पुलिस वेरिफिकेशन के बारे में पूछा तो उन्हें प्रबंधन की ओर से कोई संतोष जनक जवाब नहीं दिया गया। कल्याण समिति का आरोप है कि मॉल प्रबंधन की ओर से वहां कोई जिम्मेदार अधिकारी उपस्थित नहीं था तो समिति के प्रश्नों को जवाब दे सके।

      - माया पांडे ने बताया कि जांच में यह बात सामने आई है कि जिस समय घटना हुई है उस समय गेमिंग जोन में कोई महिला कर्मचारी उपस्थित नहीं थी। वहीं जब घटना हुई उस समय पूरे गेमिंग जोन में सिर्फ दो बच्चे ही थे। एक वह बच्ची जिसके साथ यह शर्मनाक घटना हुई है और दूसरा उसका भाई।

      - समिति का कहना है कि जब गेमिंग जोन में सिर्फ दो छोटे बच्चे ही थे जिसमें से एक 9 साल की बच्ची थी तो किसी पुरुष कर्मचारी को गेमिंग जोन में कैसे जाने दिया गया। वहीं गेमिंग जोन के संचालकों ने महिला कर्मचारी को क्यों ड्यूटी पर तैनात नहीं किया।

      - समिति अध्यक्ष का कहना है कि इस प्रकार की शर्मनाक घटना पहले भी हुई हो इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता।

      - पुलिस द्वारा समिति को जांच में सहयोग नहीं दिए जाने का आरोप भी बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष ने लगाया है। उनका कहना है कि पुलिस को सूचना देने के बावजूद मौके पर दल के साथ कोई भी पुलिसकर्मी उपलब्ध नहीं था।

      - उधर, कांग्रेस भी इस घटना के बाद प्रदेश सरकार और कानून व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह लगाए हैं। कांग्रेस ने मांग की है कि जिस मॉल में यह शर्मनाक घटना हुई है, उसके प्रबंधक को भी तत्काल गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

      - गौरतलब है कि गुरुवार शाम टीआई मॉल में स्थित वर्चुअल रियलिटी गेम जोन में एक कर्मचारी ने 9 साल की बच्ची से दुष्कर्म का प्रयास किया था। दरिंदगी की जानकारी लगते ही लोगों का गुस्सा फूट पड़ा और शुक्रवार सुबह लोग सड़क पर उतर आए। शहर में लगातार महिलाओं के साथ ही रही हरकत पर उन्होंने पुलिस-प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और अारोपी को कठोर सजा देने की मांग की। लोगों ने मॉल के प्रबंधक पर भी कार्रवाई करने की मांग करते हुए उसे तत्काल गिरफ्तार करने को कहा।

      बच्ची की चीख सुन भाई को लगा डर गई होगी

      - टीआई (ट्रेजर आईलैंड) की पांचवीं मंजिल के वर्चुअल गेम जोन में गुरुवार की शाम म्यूजिक का शोर...। मास्क और चश्मा लगाए बच्चे अंधेरे रूम में गेम में मस्त थे, तभी 9 साल की एक बच्ची के चीखने की आवाज आई। बच्ची के 12 वर्षीय भाई सहित सभी बच्चों को लग रहा था कि बच्ची गेम से डर के कारण चिल्ला रही है, लेकिन हकीकत इतनी भयानक निकली कि जिसने भी सुना वह तैश, सकते में आ गया। बच्ची को वहीं काम करने वाला एक कर्मचारी हाथ पकड़ अपने साथ कोने में ले गया और गलत हरकत करने लगा। हरकत भी इतनी दर्दनाक कि फर्श पर खून फैल गया। बच्ची रोते हुए बाहर आई। उसने कराहते हुए कर्मचारी अर्जुन की तरफ इशारा किया तो मां ने तुरंत उसे पकड़ लिया और धड़ाधड़ चांटे मारे। जब वहां मौजूद अन्य लोगों को इस बात का पता चला तो उन्होंने भी आरोपी की जमकर धुनाई की। पीड़ित परिवार की शिकायत पर आरोपी को अरेस्ट कर लिया गया। बच्ची का शहर के एक अस्पताल में मेडिकल करवाया गया है।


      सहम गई बच्ची
      - बच्ची उस दरिंदे की हरकत से इतना सदमे में आ गई कि बाउंसर जब उसके पास आए तो वह अपना जैसे आपा खो बैठी। वह चिल्लाने लगी, "मां प्लीज इनको मुझसे दूर करो... मुझे बहुत डर लग रहा है...।" - मां ने बच्ची को सीने से लगाकर सहलाया और चिल्लाते हुए बाउंसर को दूर जाने के लिए बोल दिया।


      बच्ची के चीखने पर उसके भाई को लगा, गेम खेल रही है
      - जूनी इंदौर इलाके में रहने वाले एक कारोबारी की पत्नी अपनी 9 साल की बेटी और 12 के बेटे को गुरुवार शाम ट्रेजर आईलैंड घूमने आई थी। वे मॉल घूमते हुए पांचवींं मंजिल पर बने प्ले जोन में पहुंचे।


      - बच्चों ने जिद की थी कि ऊपर (पांचवी मंजिल) वर्चुअल गेम जोन है। वहां पर चश्मा और मास्क लगाकर जाते हैं। बच्चों की जिद को पूरा करने के लिए मां वहां ले गई।


      - भाई-बहन ने टिकट लिया, मास्क और चश्मा लगाकर अंदर चले गए। अपना-अपना गेम खेलने के लिए भाई-बहन अलग-अलग हो गए थे।


      - म्यूजिक कs शोर के बीच बच्चे अंधेरे रूम में गेम खेल रहे थे, तभी अचानक बच्ची के चीखने की आवाज आई। उसके 12 साल के भाई सहित सभी बच्चों को लग रहा था कि बच्ची गेम से डर के कारण चिल्ला रही है, लेकिन हकीकत भयानक निकली।

      मॉल में पहले छात्रा के साथ हो चुकी ही घटना
      इसी मॉल में पहले भी 11 वीं क्लास की छात्रा के साथ एक घटना हो चुकी है। अन्नपूर्णा इलाके में रहने वाली छात्रा मॉल में कपड़े खरीदने गई थी। छात्रा चेजिंग रूम में कपड़े बदल रही थी। इस दौरान वहीं काम करने वाले कर्मचारी ने चेंजिंग रूम में मोबाइल फोन डालकर उसका वीडियो बनाने का प्रयास किया। छात्रा को इसका पता चला तो उसने शोर मचाया। इसके बाद युवती की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था।

      मॉल के हर कर्मचारी का पुलिस वेरिफिकेशन है : छाबड़ा
      घटना को लेकर टीआई मॉल के मालिक पिंटू छाबड़ा से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि वे सूरत में हैं। मॉल में बच्ची के साथ ऐसी घिनौनी हरकत ने उन्हें हिलाकर रख दिया है। इसलिए उन्होंने गेमिंग जोन हमेशा के लिए बंद करने का निर्णय लिया है। मॉल के हर कर्मचारी का पुलिस वेरिफिकेशन है। यदि गेमिंग जोन में कर्मचारी का पुलिस वेरिफिकेशन नहीं हुआ है तो इसके लिए भी एक्शन होना चाहिए। पुलिस को आरोपी युवक के साथ गेम जोन के मैनेजमेंट पर भी सख्त कार्रवाई करना चाहिए।

      - गेमिंग जोन के कर्मचारियों का पुलिस वेरिफिकेशन नहीं होने की बात सामने आई है। हम

      उसकी तस्दीक कर रहे हैं और सख्त कार्रवाई करेंगे। - बीपीएस परिहार, सीएसपी सेंटर कोतवाली

    • मॉल में 9 साल की बच्ची से दरिंदगी, वो चीखती-चिल्लाती रही नहीं आया कोई बचाने
      +2और स्लाइड देखें
      आरोपी, जिसने बच्ची के साथ दरिंदगी की।
    • मॉल में 9 साल की बच्ची से दरिंदगी, वो चीखती-चिल्लाती रही नहीं आया कोई बचाने
      +2और स्लाइड देखें
      इस गेम जोन में हुई हरकत।
    Topics:
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
    Web Title: 9 Year Old Girl Child Indigence In TI Mall Indore
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    More From News

      Trending

      Live Hindi News

      0

      कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
      Allow पर क्लिक करें।

      ×